Asianet News HindiAsianet News Hindi

98% यू्क्रेनियन को लगता है रूस से युद्ध वो ही जीतेंगे, सर्वे का खुलासा, पढ़िए कुछ नए अपडेट्स

रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध को 12 अगस्त को 173 दिन हो गए हैं। युद्ध कितने दिन और खिंचेगा, कोई नहीं जानता। इस बीच कराए गए एक सर्वे में 98 प्रतिशत यू्क्रेनियन का मानना है कि उनकी सेना रूस को हरा देगी। 

Russia Ukraine war, 98 percent of Ukrainians claim their military will win the war kpa
Author
Kyiv, First Published Aug 12, 2022, 7:04 AM IST

वर्ल्ड न्यूज. यूक्रेन के 98% लोग रूस के साथ युद्ध में जीत को लेकर आश्वस्त हैं। सेंटर फॉर इनसाइट्स इन सर्वे रिसर्च द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, 91% यूक्रेनियन राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के काम को अप्रूव करते हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि हाल के महीनों में नाटो सदस्यता के लिए समर्थन में वृद्धि हुई है। अगर जनमत संग्रह आज होता है, तो 72% यूक्रेनियन इसके पक्ष में मतदान करेंगे। इधर, UNSC ब्रीफिंग में UN में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज ने कहा-भारत भी यूक्रेन की स्थिति पर चिंतित है। संघर्ष की शुरुआत के बाद से भारत ने लगातार हिंसा को समाप्त करने का आह्वान किया है। हम संघर्ष को समाप्त करने के सभी राजनयिक प्रयासों का समर्थन करते हैं।तस्वीर- कीव के बाहरी शहर बुका में मिले 11 और अज्ञात शवों को गुरुवार को दफन किया गया। युद्ध की शुरुआत में रूसी कब्जे के तहत सैकड़ों लोगों की हत्या हुई थी।

ऑयल प्रोडक्शन गिरा
जुलाई में प्री-वॉर लेवल्स की तुलना में रूसी तेल उत्पादन 3% से कम गिर गया।अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी ने अगस्त की अपनी रिपोर्ट में उल्लेख किया है कि रूसी तेल उत्पादन युद्ध पूर्व स्तरों की तुलना में एक दिन में 310,000 बैरल कम था, जबकि कुल तेल निर्यात 580,000 बैरल प्रति दिन नीचे था। एजेंसी यूरोप, यूएस, जापान और कोरिया को कम निर्यात की भरपाई के लिए भारत, चीन और तुर्की के लिए रूस के तेल को फिर से भेजने का हवाला देती है। 

रूस से न्यूक्लियर प्लांट से हटने की को कहा
राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने राष्ट्र के नाम एक संबोधन में कहा, "रूस ने आतंकवाद ग्लोबल हिस्ट्री में एक नया मुकाम हासिल किया है। पूरी दुनिया को धमकी देने और कुछ शर्तों की मांग करने के लिए किसी और ने परमाणु ऊर्जा संयंत्र का इतनी निर्लज्जता से उपयोग नहीं किया है। यूरोप की परमाणु सुरक्षा तभी बहाल हो सकती है, जब रूस अपने कब्जे वाले एनरहोदर में ज़ापोरिज्जिया न्यूक्लियर पॉवर प्लांट से हट जाए। ज़ेलेंस्की ने कहा, यह एक वैश्विक हित है न कि केवल यूक्रेन की आवश्यकता है। रूस ने परमाणु संयंत्र को एक ढाल और ब्लैकमेल के एक उपकरण के रूप में प्रभावी ढंग से इस्तेमाल किया है, संयंत्र के क्षेत्र से यूक्रेनी पोजिशन पर लगातार गोलाबारी कर रहा है।

यूरोपियन देश यूक्रेन को सपोर्ट करेंगे
उत्तरी यूरोपीय देश यूक्रेन को सपोर्ट करने के लिए 1.5 अरब यूरो आवंटित करने पर सहमत हैं। डेनमार्क के रक्षा मंत्री मोर्टन बोडस्कोव ने कोपेनहेगन में एक डोनर कॉन्फ्रेंस में कहा कि धन हथियारों और सैन्य प्रशिक्षण पर खर्च किया जा सकता है। सम्मेलन के प्रतिभागियों ने यह भी सहमति व्यक्त की कि आइसलैंड यूक्रेन में एक खनन परियोजना का नेतृत्व करेगा।बोडस्कोव ने कहा-"यूक्रेन का संघर्ष हमारा संघर्ष है।" 

यह भी पढ़ें
पुतिन के अलग किस्म के कान, अजीब चाल-ढाल देखकर फैली एक विचित्र अफवाह, ये कोई और है?
Breaking: अफगानिस्तान में तालिबानी लीडर रहीमुल्लाह हक्कानी मारा गया, मानव बम ने किया यह हाल

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios