Asianet News HindiAsianet News Hindi

युद्ध भूमि पर योगा, यूक्रेन की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की गई है, जानिए क्या है मामला

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध (russia ukraine war) को 23 जून को 121 दिन हो गए हैं।  इस बीच युद्ध के मैदान से कई ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जो दिखाती हैं कि मौत का डर भी लोगों को जिंदगी जीने से नहीं रोक पा रहा। यह तस्वीर twitter पर शेयर की गई, जो 21 जून को आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस(International Yoga Day) के मौके की है।

russia ukraine war, Interesting picture of International Yoga Day kpa
Author
Kyiv, First Published Jun 23, 2022, 10:54 AM IST

वर्ल्ड न्यूज. 21 जून को पूरी दुनिया में आठवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस(International Yoga Day) मनाया गया। इस बीच युद्ध के मैदान से कई ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जो दिखाती हैं कि मौत का डर भी लोगों को जिंदगी जीने से नहीं रोक पा रहा। यह तस्वीर twitter पर म्यूजिशियन इल्या गोमोला(ilya gomola) ने शेयर की है। इसमें लिखा-21 जून: इंटरनेशनल योगा डे। उत्तर पूर्वी यूक्रेन का खार्किव। तस्वीर में देख सकते हैं कि इसमें जमीन में धंसी मिसाइल के पास एक शख्स योगा कर रहा है। बता दें कि रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध (russia ukraine war) को 23 जून को 121 दिन हो गए हैं। जानिए बाकी का अपडेट...
 
सिर्फ 9% लोगों को अब पुतिन पर भरोसा
अमेरिकी थिंक टैंक प्यू रिसर्च सेंटर(Pew Research Center) ने 22 जून को एक नई रिपोर्ट पब्लिश की है। इसके अनुसार पिछले 20 साल में  रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को लेकर लोगों के विचार(Perception of Putin) काफी बदल गए हैं। रिपोर्ट में कहा कि केवल 9% लोगों ने पुतिन पर वल्ड अफेयर्स में सही काम करने पर भरोसा दिखाया। 18 मतदान वाले देशों में औसतन 90% लोगों का कहना है कि उन्हें पुतिन पर भरोसा नहीं है। साथ ही 18 देशों में औसतन 85% ने रूस के प्रतिकूल राय व्यक्त की। अधिकांश देशों में बहुमत यह कहता है कि उनकी रूस के बारे में बहुत प्रतिकूल राय है।

रूस के 20 सैनिकों को मार डाला
यूक्रेन की सेना ने रूसी उपकरण, फील्ड गोला बारूद डिपो को नष्ट कर दिया। यूक्रेन के ऑपरेशनल कमांड साउथ ने बताया कि उन्होंने 22 जून को 20 रूसी सैनिकों को मार डाला और दो गोला बारूद डिपो, साथ ही कुछ रूसी उपकरण, एक स्व-चालित हॉवित्जर और चार सैन्य वाहनों को नष्ट कर दिया।  रूसी सैनिकों ने 22 जून को डोनेट्स्क ओब्लास्ट में 4 नागरिकों को मार डाला, 5 को घायल कर दिया। गवर्नर पावलो किरिलेंको के अनुसार, प्रीचिस्टिव्का, क्रास्नोहोरिव्का और ज़ालिज़ेन इन तीन बस्तियों में लोग मारे गए।

सिविएरोडोनेट्सक-लिसिचेंस्क क्षेत्र पर कब्जा कर सकता है रूस
इंस्टीट्यूट फॉर द स्टडी ऑफ वार के अनुसार रूसी सैनिक लिसिचन्स्क की ओर बढ़ रहे हैं। कुछ दिनों बाद उनके यहां तक पहुंचने की संभावना है। यूएस थिंक टैंक ने अपने नए आकलन में कहा कि 22 जून को लिसिचन्स्क के दक्षिण में रूस की बढ़त के बावजूद रूसी सेना के सिविएरोडोनेट्सक-लिसिचेंस्क क्षेत्र पर जल्दी से पूर्ण नियंत्रण हासिल करने की संभावना नहीं है। संभवतः औद्योगिक क्षेत्र के नियंत्रण के लिए रूसी सेना ने सीवियरोडोनेट्सक के भीतर सड़क पर लड़ाई जारी रखी।

यह भी पढ़ें
YOGA से युद्ध में भी लोगों का भला होगा, वो कैसे, जानिए यूक्रेनी आर्ट टीचर का आइडिया, जो लाएगा लाइफ में चेंज
अफगानिस्तान Earthquake: भूकंप में मर गई पूरी फैमिली, पर इस बच्ची की प्यारी मुस्कान देखकर मानों मौत भी पिघल गई

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios