Asianet News HindiAsianet News Hindi

एक लड़की की मौत ने देश में लगा दी आगः अब भाई के पार्थिव शरीर पर बहन ने काटकर डाले अपने बाल

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन (Anti Hijab Protest) के दौरान मारे गए युवक की बहन ने अंतिम संस्कार के वक्त भाई के पार्थिव शरीर पर अपने बाल काटकर डाले। ईरान में पुलिस हिरासत में महसा अमीनी की मौत के बाद उग्र विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।
 

Sister Of Iran Man Killed In Anti Hijab Protest Chops Hair On Grave vva
Author
First Published Sep 26, 2022, 11:06 AM IST

तेहरान। ईरान में 16 सितंबर को 22 साल की महसा अमीनी (Mahsa Amini) की पुलिस हिरासत में मौत के बाद उग्र विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। महिलाएं हिजाब के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहीं हैं। इसमें उन्हें पुरुषों का भी सपोर्ट मिल रहा है। वहीं, ईरान की कट्टरपंथी सरकार बल प्रयोग कर विरोध दबाने की कोशिश कर रही है। विरोध प्रदर्शनों में अब तक 41 से अधिक लोगों की मौत हुई है और 700 से अधिक को गिरफ्तार किया गया है। 

हिजाब विरोधी प्रदर्शन के दौरान मारे गए एक युवक जावद हेयदी के अंतिम संस्कार का एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है। वीडियो में दिख रहा है कि बहन अपने भाई के पार्थिव शरीर पर अपने बाल काटकर डाल रही है। महसा अमीनी की मौत के बाद ईरान में बड़ी संख्या में महिलाओं ने अपने बाल काटकर और हिजाब जलाकर वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किए हैं। महिलाओं द्वारा अपने बाल काटना और हिजाब जलाना कट्टरपंथी सरकार के विरोध का शक्तिशाली प्रतीक बन गया है। 

 

 

वीडियो में दिख रहा है कि अंतिम संस्कार के वक्त महिलाएं विलख रहीं हैं। पार्थिव शरीर पर फूल डाला गया है। इस दौरान जावद हेयदी की बहन अपने बालों को काटती है और उसे पार्थिव शरीर पर रखती है। ईरानी पत्रकार और कार्यकर्ता मसिह अलिंजाद ने कहा कि महिलाएं बाल काटकर अपने दुःख और गुस्से को दिखाने की कोशिश कर रही हैं।

यह भी पढ़ें- ईरान: महसा अमीनी के बाद एक और लड़की की हत्या, पुलिस ने 20 साल की नजफी को मारी 6 गोलियां

महसा अमीनी की मौत से फैला आक्रोश
गौरतलब है कि ईरान की नैतिकता पुलिस 13 सितंबर सिर न ढंकने के आरोप में महसा अमीनी (Mahsa Amini) को हिरासत में लिया था। इस दौरान पुलिसर्मियों ने महसा को घसीटा था और उसके साथ धक्का-मुक्की की थी। उसे घसीटकर कार में डाल दिया गया था। आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने महसा के साथ मारपीट की। 16 सितंबर को पुलिस हिरासत में महसा अमीनी की मौत हो गई थी। इसके बाद से ईरान में उग्र विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें- बेहद डरावने हैं ईरान में महिलाओं के लिए बने कानून, बाप कर सकता है बेटी से शादी, पुलिस को है पीटने का अधिकार
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios