Asianet News HindiAsianet News Hindi

अमेरिका और भारत के संबंध तेजी से हो रहे हैं मजबूत: हर्षवर्धन श्रृंगला

भारत-अमेरिका द्विपक्षीय व्यापार हर साल 10 प्रतिशत बढ़ रहा है, जो कि 2018 में 145 अरब डॉलर हो गया था और अब यह अधिक संतुलित भी है उन्होंने कहा कि निवेश संबंध भी द्वि-दिशात्मक है करीब 2,000 अमेरिकी कम्पनियों ने भारत में मौजूदा अर्थव्यवस्था के लगभग हर क्षेत्र में 40 अरब डॉलर का निवेश किया है

US India relations are fast becoming stronger says Harshvardhan Shringla kpm
Author
New Delhi, First Published Dec 7, 2019, 12:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन: अमेरिका में भारत के शीर्ष राजदूत ने कहा है कि अमेरिका और भारत के बीच रणनीतिक और आर्थिक दोनों क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंध तेजी से मजबूत हो रहे हैं। अमेरिका और भारत के बीच 18 दिसम्बर को होने वाली 2+2 मंत्री स्तरीय वार्ता से पहले यह बयान आया है।

अमेरिका के साथ साझेदारी विद्यमान

अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने मैसाचुसेट्स के कैम्ब्रिज में 'हार्वर्ड कैनेडी स्कूल' के छात्रों और शिक्षकों से कहा, 'भारत की विकास कहानी में अमेरिका के साथ उसकी सहज साझेदारी हमेशा विद्यमान रही है। साझेदारी रणनीतिक और आर्थिक दोनों क्षेत्रों में तेजी से मजबूत हो रही है।'

उन्होंने कहा, 'हमारे रक्षा खरीद संबंध पिछले 15 साल में शून्य से लगभग 20 अरब डॉलर हुए हैं। भारत अब अमेरिका का एक प्रमुख रक्षा साझीदार है। हमने कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं और हमारी सेनाएं भी लगातार एक दूसरे के साथ अभ्यास कर रही हैं।'

द्विपक्षीय व्यापार हर साल 10 प्रतिशत बढ़ा

श्रृंगला ने कहा कि भारत-अमेरिका द्विपक्षीय व्यापार हर साल 10 प्रतिशत बढ़ रहा है, जो कि 2018 में 145 अरब डॉलर हो गया था और अब यह अधिक संतुलित भी है। उन्होंने कहा कि निवेश संबंध भी द्वि-दिशात्मक है। करीब 2,000 अमेरिकी कम्पनियों ने भारत में मौजूदा अर्थव्यवस्था के लगभग हर क्षेत्र में 40 अरब डॉलर का निवेश किया है। वहीं 200 भारतीय कम्पनियों ने भी अमेरिका में 18 अरब डॉलर का निवेश किया है, जिससे सीधे-सीधे 1,00,000 नौकरियों का सृजन हुआ है।

उन्होंने कहा, ''ऊर्जा के क्षेत्र में हमारी साझीदारी भी भारत के साथ बढ़ रही है, जिसमें इस साल लगभग आठ अरब डॉलर का तेल और गैस आयात किया गया।''

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios