Asianet News HindiAsianet News Hindi

चाणक्य नीति: जिन घरों में होते हैं ऐसे काम वहां नहीं ठहरतीं देवी लक्ष्मी, बनी रहती है दरिद्रता

आचार्य चाणक्य (Chanakya) को आज भी उनकी बुद्धिमत्ता, महान अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और कूटनीतिज्ञ के रूप में जाना जाता है। आचार्य चाणक्य ने कई शास्त्र लिखे जिनमें उनके द्वारा लिखित नीति शास्त्र में कई ऐसी बातों का जिक्र किया गया है, जो आज के समय में भी प्रासंगिक है।

Chanakya Niti: These are the 4 causes of poverty
Author
Ujjain, First Published Oct 25, 2021, 7:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. आचार्य चाणक्य की बुद्धिमत्ता और नीतियों के बल पर ही चंद्रगुप्त मौर्य एक साधारण बालक सम्राट बनें। उन्होंने कई शास्त्र लिखे जिनमें उनके द्वारा लिखित नीति शास्त्र में कई ऐसी बातों का जिक्र किया गया है, जो आज के समय में भी प्रासंगिक है। नीति शास्त्र में कुछ ऐसी आदतों का जिक्र किया है। जिन लोगों में ये आदतें होती हैं उनके यहां दरिद्रता का वास होता है। ऐसे लोग हमेशा धन की तंगी का सामना करते हैं, इसलिए इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। भूलकर भी ये काम नहीं करने चाहिए, जिनके बारे में आचार्य चाणक्य ने बताया है। आगे जानिए कौन-से हैं वो 4 काम...

जिन घरों में होता है क्लेश

आचार्य चाणक्य (Chanakya Niti) के अनुसार जिन लोगों के घर में हर समय कलह, क्लेश होता रहता है, उन घरों में कभी मां लक्ष्मी का वास नहीं होता है। वहां हमेशा ही धन का अभाव रहता है और व्यक्ति को दरिद्रता का सामना करना पड़ता है, इसलिए घर में हमेशा शांति बनाए रखना चाहिए। अगर ऐसे घर में पैसा आता भी है तो टिकता नहीं है और ऐसे घर में रहने वाले लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

जिस घर में नहीं होता है पूजा-पाठ
हिंदू धर्म के अनुसार, प्रत्येक घर में सुबह-शाम पूजा-पाठ जरूर होनी चाहिए नहीं तो नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश कर जाती है, जिसके कारण कई तरह की समस्याएं बनी रहती हैं। इसका सबसे ज्यादा नकारात्मक असर हमारी धन-संपत्ति पर पड़ता है। आचार्य चाणक्य ने बताया है कि जिन घरों में पूजा-पाठ नहीं की जाती है और लोग देर तक सोते हैं, वहां सदैव धन का अभाव रहता है। 

जिन घरों में नहीं होता बड़ों का सम्मान 
जिस परिवार के बुजुर्ग दुखी रहते हैं, उस घर में कभी सुख-शांति नहीं रहती और ऐसे घर में समस्याओं का आना-जाना लगा रहता है। ऐसे लोग कितनी भी मेहनत कर लें उन्हें सफलता नहीं मिल पाती। जिन घरों में बड़ों का सम्मान नहीं किया जाता है, वहां कभी देवी देवताओं की कृपा नहीं होती है। ऐसे लोगों के यहां दरिद्रता का वास होता है। जहां बड़ों का अपमान किया जाता है वहां कभी सुखों का वास नहीं होता है।

मलीन रहने वाले लोग
आचार्य चाणक्य के अनुसार जो लोग गंदे रहते हैं, अस्वच्छ वस्त्र धारण करते हैं और अपने घर की साफ-सफाई का ध्यान नहीं रखते हैं। वहां कभी मां लक्ष्मी का वास नहीं होता है। ऐसे घरों में सदैव धन की तंगी बनी रहती है। अपने घर और आसपास को सदैव साफ रखना चाहिए, साथ ही स्वयं भी सफाई से रहना चाहिए।

चाणक्य नीति के बारे में ये भी पढ़ें

चाणक्य नीति: इन 8 पर कभी नहीं होता दूसरों के दु:ख-दर्द का असर

चाणक्य नीति: पैसों के मामले में रखेंगे इन 4 बातों का ध्यान तो कभी नुकसान नहीं उठाएंगे

चाणक्य नीति: नौकरी और बिजनेस में चाहते हैं सफलता तो रखें इन 4 बातों का ध्यान

हमेशा याद रखें आचार्य चाणक्य की ये 4 बातें, कर सकेंगे लाइफ की हर मुश्किल का सामना

Chanakya Niti: इन 3 कामों में कभी जल्दबाजी नहीं करना चाहिए, नहीं तो नुकसान उठाना पड़ता है 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios