Asianet News Hindi

छठ व्रत: 20 और 21 नवंबर को ग्रहों के शुभ योग में दिए जाएंगे सूर्य को अर्घ्य

इस बार छठ पूजा 20 नवंबर, शुक्रवार को है। इस दिन सूर्यदेव की पूजा का विधान है। 20 को संध्याकालीन अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा और इस पर्व के आखिरी दिन 21 तारीख को उदय होते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पारण करके व्रत पूरा किया जाएगा।

Chhath on 20 and 21 November, both the Arghya will be given to the Sun in the auspicious yog KPI
Author
Ujjain, First Published Nov 20, 2020, 10:32 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. इस बार छठ पूजा 20 नवंबर, शुक्रवार को है। इस दिन सूर्यदेव की पूजा का विधान है। 20 को संध्याकालीन अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा और इस पर्व के आखिरी दिन 21 तारीख को उदय होते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पारण करके व्रत पूरा किया जाएगा। काशी के ज्योतिषाचार्य पं. गणेश मिश्र के अनुसार, इस बार रवियोग में भगवान सूर्य को दोनों अर्घ्य दिए जाएंगे। सूर्य की विशेष स्थिति के कारण ये संयोग बनता है।

शुभ फल देता है रवियोग
- सूर्य का विशेष प्रभाव होने से इस योग को शुभ और बेहद प्रभावशाली भी माना जाता है।
- सूर्य की पवित्र ऊर्जा से भरपूर होने से इस योग में किए गए काम में सफलता की संभावना बहुत बढ़ जाती है। साथ ही अनिष्ट की आंशका भी खत्म हो जाती है।
- इसे दुख को खत्म करने वाला और मनोकामना पूरी करने वाला योग भी कहा जाता है।
- इस शुभ योग में सूर्य को अर्घ्य देने से रोग खत्म होते हैं और उम्र बढ़ती है।

किस दिन कौन सा शुभ योग
20 नवंबर: सर्वार्थसिद्धि और रवियोग, पूरे दिन
21 नवंबर: द्विपुष्कर योग पूरे दिन, सर्वार्थसिद्धि और रवियोग योग सुबह 9:55 तक

36 घंटे तक रहते हैं बिना पानी पीए
छठ पूजा चार दिवसीय उत्सव है। इसकी शुरुआत कार्तिक महीने के शुक्लपक्ष की चतुर्थी तिथि से होती है और समापन सप्तमी को होता है। छठ व्रत करने वाले लगातार 36 घंटे का निर्जला उपवास रखते हैं। इस व्रत में शुद्धता पर बहुत ज्यादा ध्यान दिया जाता है, जिससे इसे कठिन व्रतों में एक माना जाता है।

छठ के बारे में ये भी पढ़ें

20 नवंबर को मनाया जाएगा बिहार और उत्तर प्रदेश का मुख्य पर्व छठ, जानें इस व्रत की मान्यताएं और कथाएं

छठ व्रत में करते हैं सूर्यदेव की पूजा, क्या आप जानते हैं कैसा है सूर्यदेव का परिवार?.

बच्चों की लंबी उम्र और बेहतर स्वास्थ्य के लिए करें षष्ठी देवी की पूजा

छठ व्रत में सूर्यदेव को चढ़ाई जाती हैं अनेक चीजें, इन चीजों का धार्मिक ही नहीं औषधीय महत्व भी है

छठ व्रत से सभी को सीखने चाहिए लाइफ मैनेजमेंट के ये 7 अहम सूत्र

छठ व्रत 20 नवंबर को: इस विधि से करें सूर्यदेव की पूजा, पूरी हो सकती है आपकी हर इच्छा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios