Asianet News HindiAsianet News Hindi

Janmashtami 2022: दिल्ली के इस्कॉन मंदिर में कान्हा को लगा 51 प्रकार के केक का भोग, भक्त भी झूमकर नाचे

19 अगस्त, शुक्रवार को पूरे देश में भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव बड़े ही धूम-धाम से मनाया गया। प्रमुख कृष्ण मंदिरों की रौनक देखते ही बन रही थी। कृष्ण मंदिरों में भगवान की एक झलक पाने के लिए भक्तों की लंबी लाइनें लगी हुई थीं। 

ISKCON Temple Delhi Live Darshan Janmashtami 2022 Major Temples of Shri Krishna MMA
Author
ujjain, First Published Aug 19, 2022, 11:09 AM IST

उज्जैन. इस्कॉन मंदिर, दिल्ली में भी कृष्ण जन्माष्टमी मौके पर बांके बिहारी मंदिर, वृंदावन की तर्ज पर श्रृंगार व आरती की गई। भगवान श्रीकृष्ण को 51 प्रकार के केक का भोग लगाया गया। मंदिर प्रांगण की विशेष सजावट की गई। इसके लिए विशेष तौर पर थाईलैंड और साउथ इंडिया से फूल मंगवाए गए। इस खास मौके पर भगवान श्रीकृष्ण को खास पोशाक पहनाई गई, जिसे वृंदावन से विशेष तौर पर मंगवाया गया था। साथ ही ठाकुरजी को 1008 तरीके के व्यंजनों का भोग भी लगाया गया। पूजन के बाद भक्त भी भक्ति गीत पर जमकर नाचे। 

ऐसी रही दिन भर की दर्शन व्यवस्था
इस्कॉन मंदिर की तरफ से वीएन दास ने बताया कि इस्कॉन मंदिर, दिल्ली में 19 अगस्त, शुक्रवार की सुबह 4.30 बजे से लेकर 5 बजे तक मंदिर में भगवान के मनमोहक श्रृंगार में भक्तों को दर्शन दिया। शाम 5 बजे से भगवान श्रीकृष्ण की विशेष पूजन-अर्चना की गई। रात 10 बजे भगवान श्रीकृष्ण का महाभिषेक हुआ। 12 बजे बाद भगवान को विशेष भोग लगाया गया। इसके अलावा मंदिर में कीर्तन का भी आयोजन हुआ।  


ये भी पढ़ें-

Janmashtami 2022: महालक्ष्मी योग में मनेगा श्रीकृष्ण का 5249वां जन्मोत्सव, जानें पूजा विधि, मुहूर्त और आरती


Janmashtami 2022: सपने में दिखें बाल गोपाल तो मिलते हैं शुभ फल, क्रोध में दिखें कान्हा तो ये है अशुभ संकेत

Janmashtami 2022: राशि अनुसार ये उपाय दूर करेंगे आपका हर संकट, मिलेंगे ग्रहों के शुभ फल भी
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios