Asianet News HindiAsianet News Hindi

Onam Sadhya Thali: ओणम पर बनाई जाती है ‘साद्या थाली’, इसमें होते हैं 20 से ज्यादा पकवान

Onam 2022: ओणम दक्षिण भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है। ये पर्व राजा बलि के धरती पर आने की खुशी में मनाया जाता है। इस दौरान कई परंपराएं भी निभाई जाती हैं, जो बहुत ही अनूठी और दिलचस्प होती हैं।
 

Onam Sadhya Thali onam 2022 why celebrate onam when is onam onam date 2022 MMA
Author
First Published Sep 7, 2022, 1:51 PM IST

उज्जैन. वैसे तो ओणम पूरे देश में मनाया जाता है, लेकिन केरल में इसकी रौनक देखते ही बनती है। इस बार ये पर्व 8 सितंबर, गुरुवार को है। इस मौके पर पारंपरिक भोजन बनाया जाता है और केले के पत्तों पर इसे खाया जाता है। इसे साद्या थाली (Onam Sadhya Thali) और ओणम साद्या (Onam Sadhya) भी कहते हैं। इसमें लगभग 26 पकवान होते हैं। इन 26 पकवानों में कई तरह की चटनी, अचार, सब्जी व खीर शामिल होती है। आगे जानिए साध्या थाली में कौन-कौन से पकवान शामिल होते हैं…

पूरी तरह शाकाहारी होती है साद्या थाली
ओणम के मौके पर बनाई जाने वाली साद्या थाली में सभी व्यजंन शाकाहारी होते हैं। जिसमें 26 तरह के व्यंजन परोसे जाते हैं। इन पकवानों के नाम भी काफी दिलचस्प होते हैं, जिसमें सबसे पहले नाम आता है सांबर, उपेरी, शर्करा वरही, नारंगा करी, मांगा करी, और रसम का। इनमें से कुछ व्यंजन सब्जियों को मिलाकर तैयार किए जाते हैं। वहीं कुछ में गुड़ का इस्तेमाल किया जाता है। इनमें खट्टे-मीठे अचार और चटनी भी शामिल हैं।

इस चटनी के बिना अधूरी है थाली
साद्या थाली में एक विशेष प्रकार की चटनी बनाई जाती है। इसके बिना साद्या थाली अधूरी मानी जाती है। ये चटनी अदरक और गुड़ से बनाते हैं, जिसे इंजी करी कहते हैं। साथ ही चावल, ओलन, कालन, चेन यानी सूरन करी, परिप्पु करी, पच्चड़ी, पुलुस्सरी, एलिस्सरी, मोर यानी खट्टा रायता भी इस थाली की जान होता है। 

सब्जी में होता है नारियल का इस्तेमाल
ओणम के मौके पर बनाई जाने वाली साद्या थाली में अवियल की सब्जी बहुत खास होती है। ये एक तरह की मिक्स सब्जी होती है, जिसमें कई तरह की हरी और मौसमी सब्जी मिक्स होती हैं। ये खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होती है। इसके अलावा पत्ता गोभी (तोरन) की सब्जी भी इस मौके बनाई जाती है। इन सब्जियों में नारियल का उपयोग भी किया जाता है। साथ ही दही के उपयोग से एक विशेष प्रकार की खिचड़ी बनाई जाती है।

गुड़ की खीर होती है खास
साद्या थाली में मीठे व्यंजन भी होते हैं। खास तौर पर गुड़ की खीर इस मौके पर बनाई जाती है, जिसे पायसम कहते हैं। यह भी 3 तरह की होती है। इनमें से मैदे से बनाई जाने वाली खीर को पलाड़ा कहते हैं, गेहूं से बनने वाली खीर को गोदम्ब कहते हैं और अरहर की दाल सें बनने वाली खीर को पझम कहते हैं। इसके अलावा चावल और सेवई की खीर भी बनाई जाती है, लेकिन उनमें भी चीनी की जगह गुड़ ही डाला जाता है। इस तरह साद्या थाली तैयार की जाती है।


ये भी पढ़ें-

Onam 2022: कितने दिनों तक मनाया जाता है ओणम, जानिए किस दिन क्या किया जाता है?


Onam 2022: इस बार कब मनाया जाएगा ओणम? जानिए तारीख, महत्व और इससे जुड़ी कथा

Ganesh Utsav 2022: 9 सितंबर से पहले कर लें ये उपाय, दूर होगी परेशानियां और किस्मत देने लगेगी साथ
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios