Asianet News HindiAsianet News Hindi

Precautions while Driving : Bike हो या Car ड्राइव करते समय इन बातों का रखें ध्यान, कभी नहीं होगा Accident

Vehicle हमेशा उतनी गति से दौड़ाएं जितनी आप control  कर सकें। कभी-कभी सामने कोई जानवर या अन्य तरह की परेशानियां आने पर वाहन को तत्काल ब्रेक लगाना पड़ता है। ऐसे में गाड़ी के ब्रेक भी दुरुस्त रखें, साथ ही गति पर नियंत्रण रखें।
 

Precautions while Driving   Keep these things in mind while driving a Bike or a Car there will never be an Accident
Author
Bhopal, First Published Nov 14, 2021, 4:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क। तेज रफ्तार के सामने दुनिया सिमटती जा रही है। अब एक स्थान से दूसे स्थान पर जाने के लिए बहुत सोचना विचारना नहीं पड़ता है। दरअसल आधुनिक वाहनों के जरिए  सफर आसान हो गया है। हालांकि ये सफर तभी सुहाना होता है जब इसमें कोई एक्सीडेंट की संभावना भी ना हो। 
कभी- कभी थोड़ी से लापरवाही से एख सुखद यात्रा हादसे का शिकार हो जाती है। वहीं यदि आप ड्राइविंग के दौरान कुछ सावधानियां बरतेंगे तो संभावित हादसों से बच सकते है।

चलती गाड़ी में मोबाइल का उपयोग ना करें
आज के दौर में पल-पल में मोबाइल की जरुरत पड़ती है। लेकिन गाड़ी राइड और ड्राइव करते समय मोबाइल का इस्तेमाल न करें। इनमिग कॉल आने पर कारचालक ईयरफोन (एक कान में) का बहुत कम समय केलिए इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि सबसे बेहतर यही होताहै कि आप गाड़ी साइड में लगाकर मोबाइल पर इत्मिनान से बात करें। चलती गाड़ी में व्हाट्सऐप मैसेज देखनेकी भूल कतई  ना करें।

हेडफोन से म्यूजिक सुनने से बचें
वाहन चलाते समय कभी भी हेडफोन लगाकर तेज आवाज में म्यूजिक ना सुनें, कार के अंदर स्पीकर की आवाज भी धीमी रखें। दरअसल आपके पीछे आने वाली गाड़ी हॉर्न देकर आपको ओव्हरटेक करती है। इससे सड़क पर से ध्यान ना हटाएं। म्यूजिक जरुरर सुनें लेकिन इतने स्वर में कि बाहर की गतिविधियों से आपका ध्यान बंग ना हो। 

निर्धारित स्पीड पर ही दौड़ाएं गाड़ी
वाहन हमेशा उतनी गति से दौड़ाएं जितनी आप कंट्रोल कर सकें। कभी-कभी सामने कोई जानवर या अन्य तरह की परेशानियां आने पर वाहन को तत्काल ब्रेक लगाना पड़ता है। ऐसे में गाड़ी के ब्रेक भी दुरुस्त रखें, साथ ही गति पर कंट्रोल रखें। समय पर गाड़ी की सर्विसिंग कराते रहें, जिससे गाड़ी स्मूथ चलेगी और दुर्घटना की संभावना कम से कम रहेगी। अन्य मौसम की तुलना में आमतौर पर ठंड में सड़क हादसों की संख्या अधिक बढ़ जाती है। कोहरे की वजह से विजिबिलिटी कम रह जाती है। वहीं, ड्राइविंग के दौरान एकाग्रचित्तता(Concentration) पर भी असर पड़ता है। इसलिए आवश्यक है कि इस सीजन में खासकर रात के समय गाड़ी की स्पीड कम रखें। 

छोटी से चूक से होती हैं बड़ी दुर्घटनाएं
सबसे ज्यादा दुर्घटनाएं ड्राइवरों की लापरवाही या चूक से होती हैं। कुछ नियम-कायदों की अनदेखी के कारण। निर्धारित रफ्तार से ज्यादा तेज ड्राइविंग, शराब पीकर गाड़ी चलाना और अब ड्राइविंग के दौरान मोबाइल का इस्तेमाल हादसों की वजह बनते हैं। एक बड़ी वजह गाड़ियों का समय पर मेंटेनेंस न कराना भी है। 

यातायात नियमों के करें पालन
भारत में अन्य देशों के मुकाबले सबसे ज्यादा सड़क दुर्घटनाएं होती हैं। इसकी कई वजहें हैं, जैसे वाहनों की संख्या अधिक होना..नियमों-कायदों का पालन नहीं करना आदि। हादसों पर कंट्रोल करने केंद्र सरकार ने मोटन वाहन संशोधन विधेयक-2019 को मंजूरी दी थी। इसमें ट्रैफिक नियम तोड़ने पर कड़े जुर्माने का प्रावधान किया गया है। शराब सहित कोई बी नशा करके गाड़ी ना चलाएं ।

सड़क पर चलते समय इन बातों का रखें ध्यान
*कीप लेफ्ट यानी बाईं ओर ही वाहन चलाएं.
*बाईं ओर से टर्न लेना हो, तो टर्न लेने के बाद भी बाईं ओर ही गाड़ी चलाएं.
*लेन को कट-क्रॉस न करें, जैसे- आपको बाईं तरफ़ टर्न लेना है, तो गाड़ी को दाहिनी तरफ़ रखकर फिर बाईं ओर मुड़ने का जोख़िम न उठाएं. शुरू से ही बाईं ओर गाड़ी रखें.
* कर्कश या तेज़ आवाज़वाले हार्न का इस्तेमाल न करें, बेवजह हॉर्न न बजाएं
* अपने सभी ज़रूरी काग़ज़ात साथ ही रखें, जैसे- ड्राइविंग लाइसेंस, इंश्योरेंस और टैक्सेशन के पेपर्स, गाड़ी के रजिस्ट्रेशन संबंधी काग़ज़ात.

चारपहिया वान चालक इन बातों का रखें ध्यान 

*सीट बेल्ट्स हमेशा बांधें
*छोटे  बच्चों के लिए चाइल्ड सीट का ही प्रयोग करें.
*इमरजेंसी में लगी गाड़ियों को रास्ता दें, जैसे- एंबुलेंस या फायर ब्रिगेड को पहले जाने दें.
*लेन बदलते व़क्त हमेशा इंडिकेटर्स और रियर व्यू मिरर्स का प्रयोग करें.
*चौराहे पर हमेशा गाड़ी की रफ़्तार कम रखें.
*सामने चल रही गाड़ी से हमेशा सुरक्षित दूरी बनाकर रखें.
*हमेशा अपनी लेन में ही गाड़ी चलाएं, ओवरटेक के चक्कर में लेन तोड़ने की कोशिश न करें.
* मोबाइल का उपयोग न करें.
*ट्रैफिक सिग्नल्स को कभी भी अनदेखा न करें.
*वाहन की रफ़्तार से संबंधित नियमों को कभी न तोड़ें.
*पैदल चलने वालों को पहले रोड क्रॉस करने दें.
* बस से उतरते व़क्त भी बस के पूरी तरह से रुकने पर ही उतरें, चलती बस से कभी न उतरें.
ये भी पढ़ें-
Precautions while Driving : Bike हो या Car ड्राइव करते समय इन बातों का रखें ध्यान, कभी नहीं होगा
एक और Start-up company ने लॉन्च किया सस्ता Electric Scooter, आपके लिए ये हैं Best option
GIIAS 2021: All New Ertiga का नया अवतार, नए लुक और शानदार फीचर्स के साथ लॉन्च हुई MPV Car,
Yamaha YZF-R15 V4 : दिवाली बीतते ही New Sports Bike के बढ़ गए दाम, अब चुकानी होगी इतनी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios