Asianet News HindiAsianet News Hindi

E-Rikshaw की low battery की समस्या होगी खत्म, Honda के स्वॉपिंग स्टेशन से मिलेगी फुली चार्ज्ड बैटरी

Honda Motor Co. Ltd ई-रिक्शा में सवारी करने वाले और ई-रिक्शा चालकों के लिए नई सर्विस शुरु करने जा रही है। कंपनी ई-रिक्शा के लिए बैटरी शेयरिंग सर्विस लाने की तैयारी कर रही है। इससे रिक्शा चालकों को लो बैटरी की झंझट खत्म होगी। 
 

The problem of low battery of ERikshaw will end Fully charged battery will be available from Honda Swapping Station AUTO NEWS RPS
Author
Bhopal, First Published Nov 21, 2021, 1:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क। देश में ईवी वाहनों की मांग तेजी से बढ़ रही है। सार्वजनिक वाहनों (public vehicles) के लिए भी इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड है। वहीं E-Rikshaw की low battery अभी भी बड़ी समस्या बनी हई है। इस दिशा में होंडा (Honda Motor Co. Ltd) बड़ा कदम उठाने जा रही है। होंडा शहरों में जगह- जगह  बैटरी स्वॉपिंग स्टेशन (battery swapping station) खोलेगी, जहां से बैटरी को रिप्लेस किया जा सकेगा। इस सर्विस में कंपनी की पोर्टेबल और स्वैपेबल बैटरीज (Portable and swappable batteries) का इस्तेमाल किया जाएगा।

देश में बढ़ा ई-रिक्शा का चलन
देश में ईवी कारों के चलन से पहले देश में ई-रिक्शा का चलन काफी पहले ही शुरु हो चुका है। साल 2015 से ई-रिक्शा की बिक्री सालाना 20 फीसदी की दर से बढ़ रही है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में इलेक्ट्रिक ऑटो की संख्या लगातार बढ़ रही है। हालांकि 20230 के लिए सरकार द्वारा तय लक्ष्य से ये पहुत पीछे है। इसका प्रमुख कारण है, बैटरी की रेंज कम होना, इसका उपाय भी तलाश लिया गया है।    

 बैटरी डिस्चार्ज होने की झंझट से मिलेगी मुक्ति
दरअसल ई-रिक्शा में बैटरी डिस्चार्ज का झंझट सबसे ज्यादा है। ज्यादातर वाहन चालक दिनभर रिक्शा चालाना चाहते हैं पर उनकी बैटरी कुछ घंटों में ही जवाब दे देती है। ऐसे में वाहन चालकों का धंधा प्रभावित होता है। Honda Motor Co. Ltd ई-रिक्शा में सवारी करने वाले और ई-रिक्शा चालकों के लिए नई सर्विस शुरु करने जा रही है। कंपनी ई-रिक्शा के लिए बैटरी शेयरिंग सर्विस लाने की तैयारी कर रही है। कंपनी साल 2022 की के मार्च महीने तक ये सर्विस को लॉन्च करने की जोरशोर से तैयारी कर  रही है। होंडा की इस सर्विस में कंपनी की पोर्टेबल और स्वैपेबल बैटरीज का इस्तेमाल किया जाएगा।

होंडा कंपनी कर चुकी है टेस्टिंग
होंडा कंपनी ने इस सर्विस के लिए टेस्टिंग और डेमॉन्सट्रेशन फरवरी 2021 में शुरू की थी। इसके लिए 30 बैटरी रिक्शा की 2 लाख किमी तक टेस्टिंग भी की जा चुकी है। यह सर्विस  ई-रिक्शा वाहन चालकों के लिए बहुत फायदेमंद हो सकती है। स्कीम शुरु होने के बाद वाहन चालक बैटरी डिस्चार्ज होने पर पर नियत स्थान से बैटरी बदल पाएंगे। 

बैटरी स्वॉपिंग स्टेशन से मिलेगी फुली चार्ज्ड बैटरी
ये सर्विस के शुरु हो जाने  के बाद  ई-रिक्शा चालकों को बैटरी डिस्चार्ज होने की समस्या का समाधान हो पाएगा। बैटरी लो होने की स्थिति में वाहन चालक होंडा के बैटरी स्वॉपिंग स्टेशन से फुली चार्ज्ड बैटरी ले सकेंगे। वाहन चालक अपनी डिस्चार्ज बैटरी के साथ नियत शुल्क देकर बैटरी स्वॉपिंग स्टेशन से चार्ज बैटरी लेकर आगे का सफर तय कर सकेंगे। 
ये भी पढ़ें-
TWO WHEELERS की जमकर हुई SALE, इस कंपनी की बाइक ने लूट लिया बाजार, देखें BEST SELLING गाड़ियां
Xpeng Motors लेकर आ रही G9 SUV, 5 मिनट की चार्जिंग में देगी 200km की रेंज
10 साल पुरानी Diesel car पर नहीं लगेगी रोक, बस करवाना होगा ये काम, Transport minister ने दिए
Cheap Cars In India : ये हैं देश की सबसे सस्ती कारें, कम कीमत में मिलते हैं Special Features, देखें
Apple की कार radar technology पर दौड़ेगी सड़क पर, कार में नहीं होगी ड्राइविंग सीट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios