Asianet News Hindi

सुशील मोदी ने सुनाई लालू के तंत्र-मंत्र की 8 कहानियां,कहा-मुझे मारने के लिए 3 साल पहले कराई थी तांत्रिक पूजा

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लिखा है कि लालू प्रसाद को जनता पर भरोसा नहीं, इसलिए वे तंत्र-मंत्र, पशुबलि और प्रेत साधना जैसे कर्मकांड कराते रहे। इसके बावजूद वे न जेल जाने से बचे, न सत्ता बचा पाये। वे अभी 14 साल जेल में ही काट सकते हैं।

Bihar elections: Deputy CM has commented these 8 stories of Lalu's tantra-mantra, said-Tantric worship was done three years ago to kill me asa
Author
Bihar, First Published Oct 25, 2020, 10:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar) ।   बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने लालू प्रसाद यादव पर गंभीर आरोप लगाए हुए कहा है ट्टिर पर लिखा है कि तीन साल पहले राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने मुझे मारने की कोशिश की थी। इसके लिए उन्होंने तांत्रिक पूजा कराई थी। उन्हें जनता पर भरोसा नहीं है। यही वजह है कि तंत्र मंत्र और प्रेत साधना कराते हैं। इसी तरह डिप्टी सीएम ने लालू के तंत्रमंत्र की कई कहानियां संक्षिप्त में लिखी है, जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं। बता दें कि इसके पहले नये साल पर नीतीश कुमार ने भी लालू प्रसाद यादव के तंत्र-मंत्र की कहानियां बताई थी, जिसके बाद खूब बयानबाजी का दौर चला था।

लालू अभी काट सकते हैं 14 साल की जेल
डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लिखा है कि लालू प्रसाद को जनता पर भरोसा नहीं, इसलिए वे तंत्र-मंत्र, पशुबलि और प्रेत साधना जैसे कर्मकांड कराते रहे। इसके बावजूद वे न जेल जाने से बचे, न सत्ता बचा पाये। वे अभी 14 साल जेल में ही काट सकते हैं।
 

लालू है अंधविश्वासी
डिप्टी सीएम ने आरोप लगाया है कि लालू प्रसाद इतने अंधविश्वासी हैं कि उन्होंने न केवल तांत्रिक के कहने पर सफेद कुर्ता पहनना छोड़ा, बल्कि तांत्रिक शंकर चरण त्रिपाठी को पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया। उसी तांत्रिक ने विंध्याचल धाम( मिर्जापुर) में लालू प्रसाद से तांत्रिक पूजा करायी थी। वे तीन साल पहले मुझे मारने के लिए भी तंत्रिक अनुष्ठान करा चुके हैं।
 

 

सुशील मोदी ने सुनाई साल 2009 की कहानी
सुशील मोदी ने अगले ट्टीट में कहा है कि साल 2009 में पूर्ण सूर्य ग्रहण देखने तारेगना पहुँचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब ग्रहण के समय बिस्कुट खा लिये, तब अंधविश्वासी लालू प्रसाद ने कहा था कि इससे अकाल पड़ेगा। इसके विपरीत बिहार में एनडीए शासन के दौरान कृषि पैदावार बढ़ी।
 

 

तंत्रसिद्ध की पुड़िया रख आए थे लालू
सुशील मोदी ने कहा है कि साल 2005 में जब जनता ने लालू-राबड़ी के कुशासन को खारिज कर दिया, तब लालू प्रसाद ने मुख्यमंत्री आवास छोड़ने में डेढ़ महीने लगा दिये थे और बाद में कहा कि वे आवास की दीवार में ऐसी तंत्रसिद्ध पुड़िया रख आये हैं कि अब कोई वहां नहीं टिक पाएगा। उसी आवास में रहते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 15 साल से बिहार की सेवा कर रहे हैं और राज्य विकास की मंजिलें तय कर रहा है।

 


डिप्टी सीएम ने लगाया ये आरोप
डिप्टी सीएम ने आरोप लगाया कि 26 मई, 2014 को भाजपा के शीर्ष नेता नरेंद्र दामोदर दास मोदी ने जब प्रधानमंत्री पद की शपथ ली, तब लालू प्रसाद ने शपथ ग्रहण के मुहूर्त गोधूलि बेला को अशुभ बता दिया और कहा कि सरकार पांच साल नहीं चलेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने न केवल भारतीय राजनीति का परिदृश्य बदला, बल्कि भ्रष्टाचार-मुक्त सरकार चलायी, जनता को जन-धन खाते दिये, नौ करोड़ गरीबों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिये और सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान को मुँहतोड़ जवाब भी दिया।

 

तंत्र-मंत्र के अंधभक्त हैं लालू प्रसाद
सुशील मोदी ने लिखा है कि तंत्र-मंत्र के अंधभक्त लालू प्रसाद जिस मोदी- सरकार के बीच में गिरने के साथ देश में अस्थिरता की कुटिल कामना कर रहे थे, उसने विश्व में भारत का मान बढ़ाया और जनता के अपार समर्थन से शानदार वापसी भी की।  देवी-देवता किसी की कुटिल कामना को सफल नहीं बनाते।

 

लालू तीन बकरों की देने वाले हैं बलि
डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लिखा है कि चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद बिहार विधानसभा चुनाव के पहले रांची के केली बंगले में जेल मैन्युअल की धज्जी उड़ाते हुए नवमी के दिन तीन बकरों की बलि देने वाले हैं। उन्हें आभास हो चुका है कि हाशिये पर पड़े कुछ दलों से गठबंधन और बड़बोले वादे पार्टी की नैया पार नहीं लगा सकते।

चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद बिहार विधानसभा चुनाव के पहले रांची के केली बंगले में जेल मैन्युअल की धज्जी उड़ाते हुए नवमी के दिन तीन बकरों की बलि देने वाले हैं।
उन्हें आभास हो चुका है कि हाशिये पर पड़े कुछ दलों से गठबंधन और बड़बोले वादे पार्टी की नैया पार नहीं लगा सकते।

— Sushil Kumar Modi (@SushilModi) October 24, 2020
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios