Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिहार में सियासी बवाल : तो क्या छूट गया कांग्रेस-RJD का साथ, 2024 लोकसभा चुनाव की अलग हुई राह?

बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा कि बिहार में महागठबंधन टूट गया है। यहां कांग्रेस 2024 लोकसभा चुनाव में सभी 40 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी। उन्होंने महागठबंधन में टूट के लिए लालू यादव की पार्टी RJD को जिम्मेदार ठहराया।

bihar congress rjd mahagathbandhan broken, congress will fight lok sabha 2024 alone
Author
Patna, First Published Oct 22, 2021, 2:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटनाः बिहार (bihar) में उपचुनाव को लेकर RJD और कांग्रेस (Congress) के बीच सियासी तनातनी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कुशेश्वर स्थान और तारापुर विधानसभा सीट पर जब से उपचुनाव की घोषणा हुई है, उसके बाद से ही सीटों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच तकरार बढ़ता ही जा रहा है। एक बार फिर शुक्रवार को बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास (Bhakt Charan Das) ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि बिहार में महागठबंधन टूट गया है। यहां कांग्रेस 2024 लोकसभा चुनाव में सभी 40 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी। उन्होंने महागठबंधन में टूट के लिए लालू यादव (lalu yadav) की पार्टी RJD को जिम्मेदार ठहराया। बता दें कि बिहार में पिछले साल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस, राजद और लेफ्ट पार्टियों ने मिलकर महागठबंधन बनाया था।

RJD ने नहीं निभाया धर्म
भक्त चरणदास का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) और हार्दिक पटेल (Hardik Patel) के बिहार दौरे पर पहुंच रहे हैं। पटना (patna) एयरपोर्ट पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए भक्त चरण दास ने कहा कि हम बिहार में दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव में पूरी ताकत से लड़ेंगे। कांग्रेस 2024 के लोकसभा चुनाव में बिहार की सभी 40 संसदीय सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ेगी। उन्होंने अकेले चुनाव लड़ने के पीछे RJD को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि RJD ने महागठबंधन धर्म का पालन नहीं किया, इस कारण इस तरह के फैसले लेने पड़ रहे हैं। हमारे सभी नेता बिहार पहुंच चुके हैं और जमकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें-Lakhimpur Kheri Violence: हिंसा की जांच कर रहे DIG उपेंद्र अग्रवाल का ट्रांसफर, पांच IG भी इधर से उधर

राजद का पलटवार
वहीं, राजद प्रवक्ता मनोज झा के कांग्रेसियों को संघी कहे जाने पर कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा कि उन्होंने क्या कहा यह हम नहीं जानते हैं। हम बस इतना जानते हैं कि हमने गठबंधन नहीं तोड़ा। कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास ने तो यहां तक कह दिया कि उपचुनाव के बाद आरजेडी बीजेपी (BJP) से मिल जाएगी। इसके बाद राजद प्रवक्ता मनोज झा ने भी कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास को संघी कह दिया था। जाहिर है कथित तौर पर भाजपा विरोधी दोनों पार्टियों की लड़ाई अब इस स्तर तक पहुंच गई है कि दोनों ही पार्टियां एक दूसरे को भाजपा का सहयोगी साबित करने पर तुल गई हैं।

कांग्रेस की परंपरागत सीट है कुशेश्वर स्थान
गौरतलब हो कि बिहार में तारापुर और कुशेश्वर स्थान विधानसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है। कांग्रेस कुशेश्वर स्थान से लड़ना चाह रही थी और इस सीट को वह अपनी परंपरागत सीट बता रही थी। जबकि आरजेडी दोनों सीटों से लड़ने की जिद पर है। इसके बाद भक्त चरण दास की ओर से एक बयान आया था जिसमें उन्होंने तेजस्वी को चेतावनी दी थी। कहा था कि वो तानाशाही रवैया नहीं छोड़ते हैं तो कांग्रेस महागठबंधन से अलग हो जाएगी। कांग्रेस ने तारापुर से राजेश कुमार मिश्रा को और कुशेश्वर स्थान से अतिरेक कुमार को उम्मीदवार बनाया है। वहीं, आरजेडी ने तारापुर से अरुण कुमार साह और कुशेश्वर स्थान से गणेश भारती को टिकट दिया है।

इसे भी पढ़ें-जानिए छतरपुर के साहिल की कहानी, जो KBC में जीते 1 करोड़, मुफिलिसी ऐसी कि किराए के एक कमरे में रहता परिवार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios