Asianet News HindiAsianet News Hindi

Bihar की सियासत में क्या चल रहा : क्या CM नीतीश और तेजस्वी फिर होंगे साथ-साथ, तेज प्रताप ने कही कुछ ऐसी बात

जेडीयू को साथ लाने पर तेजस्वी यादव के आउटगोइंग-इनकमिंग वाले बयान पर तेज प्रताप ने कहा कि सबको लेकर चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब चाचाजी यानी नीतीश कुमार बूढ़े हो गए हैं। अगर आरजेडी-जेडीयू साथ आती तो भी तेजस्वी यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे। 

bihar patna RJD Lalu Prasad Yadav son tej pratap yadav offer to cm Nitish kumar jdu to come together stb
Author
Patna, First Published Jan 12, 2022, 1:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना : बिहार (Bihar) की सियासत में एक बार फिर हलचल है। सवाल उठ रहे हैं कि क्या CM नीतीश कुमार (Nitish kumar) बीजेपी का साथ छोड़ तेजस्वी यादव के साथ फिर से सियासी गलबहियां करेंगे। क्या RJD और JDU फिर से साथ-साथ होंगे। लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के बयान तो कुछ इसी ओर इशारा कर रहे हैं। एक टीवी चैनल से बात करते हुए तेज प्रताप ने कहा कि बिहार को अगर आगे बढ़ाना है तो JDU को साथ लाना ही होगा। तेज प्रताप ने कहा कि खरमास के बाद बिहार में जबरदस्त खेला होगा। BJP-RSS की आंख फटी की फटी रह जाएगी। 

तेजस्वी बनेंगे मुख्यमंत्री
जेडीयू को साथ लाने पर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के आउटगोइंग-इनकमिंग वाले बयान पर तेज प्रताप ने कहा कि सबको लेकर चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब चाचाजी यानी नीतीश कुमार बूढ़े हो गए हैं। अगर आरजेडी-जेडीयू साथ आती तो भी तेजस्वी यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे। 

पहले भी मिले इस तरह के ऑफर
बता दें कि पिछले गुरुवार को आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने भी जेडीयू को खुला ऑफर दिया था कि वे जाति आधारित जनगणना के मामले पर उनकी पार्टी जेडीयू के साथ है, वो बेफिक्र होकर आगे बढ़े। उन्होंने यह भी कहा कि अगर मुख्यमंत्री नीतीश के सामने अगर सरकार चलाने के लिए संकट आता है तो उनकी पार्टी जेडीयू के साथ आने के लिए तैयार है। सिंह ने कहा कि हम राज्य के विकास और बिहार के हित में फिर एक साथ हो सकते हैं। 

'नीतीश कुमार बीजेपी के आगे झुके नहीं'
आरजेडी के अध्यक्ष ने कहा कि हमे जेडीयू के साथ आने में कोई परहेज नहीं है, क्योंकि बिहार के हित सबसे पहले है, इसलिए हम उनका साथ देने के लिए खड़े हैं। नीतीश कुमार बीजेपी के आगे झुके नहीं, विशेष राज्य के दर्जा और जातीय जनगणना के मुद्दे पर नीतीश सरकार के साथ देने के लिए महागठबंधन हर दम खड़ा है।'

'खरमास के बाद होगा खेला'
वहीं राजद के प्रवक्ता ने मृत्युंजय तिवारी ने कहा है खरमास के बाद बिहार में असल खेल होगा, प्रदेश की सियासत में तभी बड़ा भूचाल आएगा। उन्होंने आगे कहा- भाजपा की नीति की वजह से बिहार का विकास बाधित हो रहा है। नीतीश कुमार जी भाजपा के साथ असहज महसूस कर रहे हैं तो  महागठबंधन के साथ आना चाहिए। हमने पहले भी एक साथ सरकार चलाई है। 

इसे भी पढ़ें-बिहार में फिर होगा खेला: लालू की पार्टी RJD का CM नीतीश को ऑफर, BJP को छोड़ो, हम देंगे साथ..जानिए इसके मायने

इसे भी पढ़ें-बिहार में कोरोना से एक दिन में हुईं मौत के आंकड़ों ने डराया, CM नीतीश भी संक्रमित..रोके नहीं रुक रही तीसरी लहर
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios