Asianet News HindiAsianet News Hindi

नड्डा-शाह की बैठक के बाद बड़ा फैसला: बिहार की 40 में से 35 सीटों पर अकेले लोकसभा चुनाव लड़ेगी बीजेपी

कोर कमेटी की बैठक भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा की अध्यक्षता में की गई। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह के अलावा, बिहार के भाजपा के नेता मौजूद थे। इस बैठक में फैसला किया गया कि बीजेपी 35 सीटों पर अकेले चुनाव लडे़गी। 

BJP will contest Lok Sabha elections in 2024 on 35 seats in Bihar pwt
Author
Patna, First Published Aug 17, 2022, 10:37 AM IST

पटना. बिहार में नीतीश कुमार के एनडीए से अलग होने के बाद बीजेपी एक बार फिर से एक्टिव हो गई है। मंगलवार को नई दिल्ली में बिहार के नेताओं के साथ पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने बैठक की। भाजपा कोर कमेटी की बैठक में निर्णय लिया गया है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा बिहार में अकेले लड़ेगी। बैठक में 40 में से 35 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया गया है। कोर कमेटी की बैठक भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा की अध्यक्षता में की गई। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह के अलावा, बिहार के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, रविशंकर प्रसाद, पूर्व उप मुख्यमंत्री नंदकिशोर यादव, गिरीराज सिंह, सुशील मोदी, शहनवाज हुसैन समेत अन्य बिहार के नेता शामिल थे। बता दें कि लोजपा ने खुद को एनडीए से अलग नहीं किया है। ऐसे में माना जा रहा है कि 5 सीटों पर फिर से लोजपा चुनाव लड़ सकती है। 

लोगों को धोखा देने के लिए बना है बिहार में महागठबंधन
बैठक में बाद प्रेस वार्ता आयोजित कर बिहार के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि नीतीश कुमार ने महागठबंधन के साथ सरकार लोगों को धोखा देने के लिए बनाई है। इसके खिलाफ भाजपा सड़क से लेकर सदन तक लड़ेगी। भाजपा लोकसभा चुनाव में बिहार के 35 अकेले चुनाव लड़ेगी। बिहार में महागठबंधन की सरकार लालू राज को फिर से स्थापित करने के लिए बनाई गई है। बिहार में 2024 का लोकसभा चुनाव जीत भाजपा कीर्तिमान स्थापित करेगी। उन्होंने कहा कि यह फैसला कोर कमेटी की बैठक जेपी नड्‌डा और गृह मंत्री अमित साह के नेतृत्व में किया गया। 

पिछले चुनाव में भाजपा जीती थी 17 सीट
2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा-जदयू की गठबंधन ने बराबर सीटों पर चुनाव लड़ा था। इसमें 17 में 17 सीटें भाजपा जीती थी। जबकि 17 में 16 सीट जदयू के खाते में आई थीं। जदयू एक सीट पर हार गई थी। वहीं, लोजपा ने 5 सीटें जीती थी। 

नीतीश ने तोड़ा गठबंधन
बता दें कि 9 अगस्त को बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने एनडीए से गठबंधन तोड़ दिया था। इसके बाद उन्होंने महागठंबधन के साथ सरकार बनाने का दावा किया था। उनके समर्थन में 164 विधायक हैं। 10 अगस्त को नीतीश कुमार ने 8वीं बार राज्य के सीएम पद की शपथ ली थी। वहीं, आरजेडी के तेजस्वी यादव दूसरी बार राज्य के डिप्टी सीएम बने हैं। उन्होंने भी नीतीश कुमार के साथ शपथ ली थी।

इसे भी पढ़ें-  नीतीश कुमार के पास गृह तो तेजस्वी को मिला हेल्थ, RJD को मिले मलाईदार विभाग, जानें तेज प्रताप को क्या मिला 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios