Asianet News HindiAsianet News Hindi

न टेस्ट लैब न बड़ी तैयारियां, बिहार में कोरोना से पहली मौत; नीतीश कुमार ने अफसरों से संग मीटिंग

कोरोना वायरस से मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। रविवार को बिहार में कोरोना से मौत की पहली पुष्टि हुई। मुंगेर का एक युवक जो कुछ दिनों पहले कतर से वापस आया था कि मौत पटना एम्स में आज इलाज के दौरान हो गई। 

first death in bihar by corona virus in patna pra
Author
Patna, First Published Mar 22, 2020, 12:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। बिहार में कोरोना से पहली मौत सामने आ चुकी है। बिहार के मुंगेर जिले का 38 वर्षीय सैफ अली बीते दिनों कर से वापस आया था। घर लौटने के बाद उसकी तबियत खराब हो गई थी। उसे पटना के एम्स में भर्ती कराया गया था। जहां रविवार को उसकी मौत हो गई। राज्य में कोरोना से पहली मौत की पुष्टि स्वास्थय मंत्रालय ने कर दी है। बताया जाता है कि सैफ अली को 20 मार्च को पटना एम्स में भर्ती कराया गया था।  उसका किडनी फेल्योर था और डायबिटीक भी था। एम्स में उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था पर उसकी मौत हो गई। एम्स के डायरेक्टर ने उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि की है। साथ ही साथ यह भी कहा है कि उसका किडनी फेल्योर था।  


बिहार में हुई इस मौत के साथ ही भारत में कोरोना में अबतक हुई मौत का आंकड़ा 6 पहुंच गया है। बता दें कि आज सुबह ही महाराष्ट्र में 63 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत कोरोना से हुई थी। 

हाल ही में कुछ रिपोर्ट्स में कोरोना को लेकर नीतीश कुमार सरकार की तैयारियों पर सवाल उठाए गए थे। बीबीसी हिन्दी ने एक रिपोर्ट में सवाल उठाए थे कि चमकी बुखार की वजह से पिछले साल स्वास्थ्य आपदा झेलने वाले बिहार में कोरोना की वजह से भी चिंताजंक आ सकती है। रिपोर्ट्स में यह भी कहा गया था कि बिहार में कोरोना टेस्ट के लिए कोई लैब तक नहीं है। ये स्थितियां बड़े खतरे की आशंका हैं। 

हालांकि बिहार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना से निपटने की हर संभव कोशिश और तैयारियों का दावा किया है।

नीतीश कुमार ने की बैठक 
उधर, रविवार को कोरोना से निपटने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्य के सभी जिलाधिकारियों के साथ मीटिंग मेन हालात की समीक्षा की है।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios