Asianet News HindiAsianet News Hindi

पिता के विवाद का बदला बेटी से लेने की ठानी, गैंगरेप करने की कोशिश की, विरोध करने पर दे दी खौफनाक सजा

बिहार के सीतामढ़ी जिले में एक नाबालिग से गैंगरेप करने की कोशिश की गई, विरोध करने पर आरोपियों ने उसके ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर जिंदा जलाने की कोशिश की। मंगलवार के दिन पीड़िता ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। घटना 20 दिन पहले हुई थी।

sitamarhi crime news minor burnt alive for protesting against molestation asc
Author
First Published Sep 20, 2022, 5:23 PM IST

सीतामढी (बिहार): बिहार में गैंगरेप का विरोध करने पर 15 साल की लड़की को जिंदा जलाकर मारने का मामला सामने आया है। 20 दिनों पहले गांव के कुछ बदमाशों ने जिंदा जलाने की कोशिश की थी। पीड़िता पर तेजाब और केरोसिन डाल जलाया गया था। 20 दिनों तक पीड़िता जिंदगी और मौत से जूझती रही। मामला सीतामढ़ी जिले के पुपरी इलाके का है। नाबालिग ने मुजफ्फरपुर जिले के श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पिता ने गांव के ही पांच युवकों पर बेटी का हत्या करने का आरोप लगाया है। वहीं, पीड़िता ने भी पुलिस को बयान देकर मरने के बाद उसे न्याय दिलाने की गुहार लगाई है। पीड़िता के पिता के अनुसार गांव के कुछ लोगों से जमीन को लेकर उनका विवाद है। इसी कारण उनकी बेटी के साथ ऐसा किया गया। 

पिता से विवाद मेरे साथ ऐसा क्यों किया
मौत के 10 घंटे पहले पीड़िता ने पुलिस को अपना बयान दिया। उसने बताया कि  गांव के पांच लड़कों ने उसके साथ गैंगरेप करने का प्रयास किया था। उसके विरोध करने पर तेजाब और केरिसान डाल उसे जला दिया गया था। जलते हुए उसे गड्‌ढे में फेंक दिया गया था। उसका कहना था कि युवकों का विवाद मेरे पिता के साथ था तो युवकों ने मेरे साथ दरिंदगी क्यों की। इधर, पीड़िता का बयान श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज अस्पताल स्थित पुलिस चौकी के इंजार्ज ने पीड़िता का बयान दर्ज किया। पीड़ता का बयान स्थानीय थाना को भेजा जाएगा। 

पिता ने कहा दुष्कर्म का साक्ष्य मिटाने के लिए जिंदा जलाया
पिता ने बताया है कि 29 अगस्त की शाम गांव के पांच युवक बेटी को जबरन उठाकर ले गए थे। दुष्कर्म का साक्ष्य मिटाने के लिए तेजाब और केरोसिन डाल जिंदा जला दिया। बेटी ने शोर मचाया तो गांव के लोग जुटे तो सभी भाग गए। जिसके बाद बेटी को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। जहां से उसे एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया था। यहां बर्न वार्ड में इलातरत थी। आरोपियों ने केस करने पर जान से मारने की धमकी दी थी। पिता का आरोप है कि गांव के संजय राय, अशोक राय, रामबचन राय समेत अन्य ने बेटी के साथ गैंगरेप की कोशिश की थी।

यह भी पढ़े- अनिश्चितकालीन रेल रोको आंदोलन कर रहे कुरमी समाज के लोग, रांची आ रही शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन पर पर किया पथराव

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios