पटना में पासी समाज के पैदल मार्च के दौरान बवाल, पुलिस पर पथराव, उग्र भीड़ पर पुलिस का लाठीचार्ज

| Nov 29 2022, 05:03 PM IST

पटना में पासी समाज के पैदल मार्च के दौरान बवाल, पुलिस पर पथराव, उग्र भीड़ पर पुलिस का लाठीचार्ज

सार

मंगलवार दोपहर तकरीबन ढाई बजे पटना में बड़ा बवाल हो गया। अपनी मांगों के साथ सरकार विरोधी नारे लगाते पासी समाज के लोगों से पुलिस की झड़प हो गई। पुलिस ने जरा सी सख्ती बरती तो भीड़ ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया।

पटना(Bihar). मंगलवार दोपहर तकरीबन ढाई बजे पटना में बड़ा बवाल हो गया। अपनी मांगों के साथ सरकार विरोधी नारे लगाते पासी समाज के लोगों से पुलिस की झड़प हो गई। पुलिस ने जरा सी सख्ती बरती तो भीड़ ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया। इस पथराव में कई पुलिसकर्मी घायल भी हो गए। जवाब में भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा। 

जानकारी के मुताबिक अपनी कुछ मांगों को लेकर राजधानी पटना में पासी समाज के सैकड़ों लोग आन्दोलनरत हैं। मंगलवार दोपहर बाद समाज के लोगों द्वारा विरोध मार्च किया जा रहा था। लोग गांधी मैदान से राजभवन की ओर जा रहे थे। जेपी गोलंबर के पास पुलिस ने इन प्रदर्शनकारियों को रोकने की कोशिश की तो ये नहीं माने।  ट्रैफिक को प्रभावित करने के क्रम में पुलिस से प्रदर्शनकारियों की कहासुनी जारी ही थी कि इसी बीच भीड़ से कुछ लोग उग्र हो गए। देखते ही देखते पुलिस बल पर पथराव शुरू कर दिया गया। पथराव से जेपी गोलंबर के आसपास भगदड़ मच गई। पथराव में कई पुलिस कर्मी चोटिल भी हुए। उग्र भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को जवाबी कार्रवाई भी करनी पड़ी। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों लाठीचार्ज कर भीड़ को काबू में करने की कोशिश की। 

Subscribe to get breaking news alerts

उग्र भीड़ ने तोड़ी बैरिकेडिंग
बड़ी संख्या में पासी समाज के लोग पटना के सड़कों पर उतर कर विधानसभा घेराव के लिए जेपी गोलंबर पर जुटे थे। इसको लेकरं वहां सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए थे। बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती थी। लेकिन जब लोगों में आक्रोश भडका तो उन्होंने सबसे पहले पुलिस की बेरिकेडिंग तोड़ दी। जिसके बाद जब पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो लोगों ने पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दिया।

पत्थरबाजी में पुलिस और कई पत्रकार भी घायल
बताया जा रहा है की भीड़ की तरफ से जमकर पत्थरबाजी की गई। पासी समाज के इस उग्र प्रदर्शन में सड़कों से गुजर रहे कई लोग चोटिल हुए। पत्थरबाजी में कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं। वहीं इस आन्दोलन की कवरेज करने गए कई पत्रकारों को भी पत्थरबाजी में चोटे आई हैं। हांलाकि कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर काबू पा लिया है।

इसे भी पढ़ें...

पति था जेल में बंद, पत्नी के साथ गंदी हरकत करता था पड़ोसी, फिर हुआ ऐसा जिसने उड़ा दिए लोगों के होश

बिहार में शॉकिंग घटना: भतीजे ने चबा डाला चाचा कान, फिर साथ ले गया खून से सना टुकड़ा