Asianet News HindiAsianet News Hindi

Diwali 2021 : दिवाली पर हुआ 1.25 लाख करोड़ रुपये का कारोबार : CAIT, 10 सालों का टूटा रिकॉर्ड

CAIT की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक इस दिवाली (Diwali 2021) खरीददारी के कई रिकॉर्ड टूटे हैं। देश में 1.25 लाख करोड़ रुपये का Business हुआ है। बीते एक दशक में ये खरीदारी का उच्चतम स्तर है।

Business News, Diwali 2021  Rs 1.25 lakh crore business done on Diwali  CAIT RPS
Author
Bhopal, First Published Nov 5, 2021, 8:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। कोरोना संकट (corona crisis) से राहत मिलने के बाद इस साल देश में लोगों ने धूम धड़ाके से दिवाली ( Diwali 2021) मनाई है। हिंदूओं के सबसे बड़े त्योहार पर देशवासियों ने खरीदी के सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए हैं। दिवाली के मौके पर देश में 1.25 लाख करोड़ रुपये का  कारोबार हुआ है।  व्यापारिक संगठन कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने ये जानकारी शेयर की है। CAIT की इस रिपोर्ट के बाद निश्चित तौर पर आगे भी बाजार में सकारात्मक माहौल देखने को मिलेगा। 

CAIT ने दी जानकारी 
CAIT की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक इस दिवाली खरीददारी के कई रिकॉर्ड  ध्वस्त हुए  हैं। देश में 1.25 लाख करोड़ रुपये का कारोबार हुआ है। बीते एक दशक में ये इस समय खरीदारी का ये रिकॉर्ड स्तर है। CAIT का ये आंकड़ा इसलिए भी महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि, देश में कोरोनाकाल अभी खत्म नहीं हुआ है। मास्क और दूसरी सावधानियों को किनारे नहीं किया जा सकता है। वहीं CAIT ने कहा  है कि इस दिवाली लोग बाजार करने घरों से बाहर निकले हैं, लोगों ने इस दौरान जमकर खरीददारी की है। 

चीन से सामान ना खरीदें व्यापारी : CAIT
बता दें कि कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) चीनी सामान के खिलाफ लोगों को जागरुक करता रहता है, इस संगठन ने इस साल भी ये मुहिम चलाई थी। कैट ने कहा कि था कि बीते साल की तरह, इस साल भी कैट ने चायना प्रोडक्ट के बॉयकॉट करने के लिए लोगों से अपील की थी, ना केवल लोगों से  आह्वान किया है बल्कि देश के कारोबारियों से भी चीन के प्रोडक्ट आयात नहीं करने के लिए कहा है। कैट का अनुमान है कि इससे चीनी व्यापारियों को तकरीबन 50,000 करोड़ रुपये का कारोबारी नुकसान होगा।  

20 बड़ों शहरों में किया गया था सर्वे
कैट सचिव जनरल प्रवीण खंडेलवाल ने इस संबंध में कहा था कि की संस्था की रिसर्च विंग ने हाल ही में 20 बड़ों शहरों में इस मुहिम को लेकर  सर्वे किया था। इस सर्वे में दावा किया गया है कि भारतीय व्यापारी या आयातकों ने चीनी निर्यातकों के साथ दिवाली के सामान, पटाखों या दूसरी किसी चीज का कोई भारी भरकम ऑर्डर नहीं किया है। संस्था के मुताबिक इस सर्वे में नई दिल्ली, मुंबई, कोलकाता,  चैन्नई, लखनऊ, चंडीगढ़, रायपुर, नागपुर, जयपुर, भुवनेश्वर, अहमदाबाद,  रांची, गुवाहाटी, पटना, भोपाल, जम्मू बेंगलुरू, हैदराबाद, मदुरै और पुडुचेरी शामिल हैं।
यह भी पढ़ेंः 
Petrol Diesel Price : पेट्रोल- डीजल पर फिर बढ़ाई जाएगी Excise duty ! तो क्या मजबूरी में लिया गया है ये फैसला
Diwali 2021 : कर्मचारियों को गिफ्ट में मिली Electric Scooter, गुजरात के एक और कारोबारी ने दिखाया बड़ा
BYD E6 इलेक्ट्रिक कार देगी ट्रेवलर का फील, एक बार चार्ज करने पर चलेगी 520 KM, देखें फीचर और
Audi, मर्सीडीज, Porsche इस महीने लॉन्च करेंगी अपनी लग्जरी कारें, देखें इनकी खूबियां

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios