Asianet News HindiAsianet News Hindi

देश के 200 रेलवे स्‍टेशनों पर बनेंगे पैन कार्ड और आधार, साथ ही भर सकेंगे टैक्‍स

रेलटेल (RailTel) ने एक बयान में कहा कि इस योजना को 'सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड' (CSC-SPV) और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Ministry of Electronics and Information Technology) के साथ साझेदारी में शुरू किया गया है। कियोस्क ग्रामीण स्तर के उद्यमियों (Village Level Entrepreneurs) द्वारा चलाए जाएंगे।

PAN card and Aadhar will be made in 200 railway stations, as well as will be able to pay tax SSA
Author
New Delhi, First Published Jan 6, 2022, 3:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्‍क। भारत भर के 200 रेलवे स्टेशनों (Railway Station) के यात्री जल्द ही अपने मोबाइल रिचार्ज (Mobile Recharge) कर सकेंगे, बिजली बिलों का भुगतान कर सकेंगे, आधार (Aadhaar Card) और पैन कार्ड (Pan Card) फॉर्म भर सकेंगे और यहां तक कि रेलटेल (Railtel) द्वारा स्थापित किए जाने वाले कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) कियोस्क की मदद से टैक्स (Tax) भी भर सकेंगे। रेलटेल ने एक बयान में कहा कि इस योजना को 'सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड' (सीएससी-एसपीवी) और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ साझेदारी में शुरू किया गया है। कियोस्क ग्राम स्तर के उद्यमियों द्वारा चलाए जाएंगे।

यह काम करेंगे कियोस्‍क
सीएससी द्वारा दी जाने वाली सेवाओं में यात्रा टिकट (ट्रेन, हवाई, बस आदि), आधार कार्ड, वोटर कार्ड, मोबाइल रिचार्ज, बिजली बिल भुगतान, पैन कार्ड, आयकर, बैंकिंग, बीमा और कई अन्य की बुकिंग शामिल है। बयान में कहा गया है। कियोस्क का नाम 'रेलवायर साथी कियोस्क' रखा गया है - रेलवायर रेलटेल की खुदरा ब्रॉडबैंड सेवा का ब्रांड नाम है।

वाराणसी और प्रयागराज में पायलट प्रोजेक्‍ट
सबसे पहले, वाराणसी सिटी और उत्तर प्रदेश के प्रयागराज सिटी स्टेशनों पर रेलवायर साथी सीएससी कियोस्क को पायलट आधार पर चालू किया गया है। बयान में कहा गया है कि इसी तरह के कियोस्क लगभग 200 रेलवे स्टेशनों पर, ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में, चरणबद्ध तरीके से संचालित किए जाएंगे। इनमें से 44 दक्षिण मध्य रेलवे क्षेत्र में, 20 उत्तर सीमांत रेलवे में, 13 पूर्व मध्य रेलवे में, 15 पश्चिम रेलवे में, 25 उत्तर रेलवे में, 12 पश्चिम मध्य रेलवे में हैं, 13 पूर्वी तट रेलवे में हैं। और 56 पूर्वोत्तर रेलवे में हैं।

यह भी पढ़ें:- EV का लोगों में बढ़ा क्रेज, 2022 में हर मिनट में बिकेंगी दो Electric Vehicle, पढ़‍िये पूरी रिपोर्ट

ग्रामीणों को होगा फायदा
रेलटेल के सीएमडी पुनीत चावला ने कहा ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को अक्सर विभिन्न ई-गवर्नेंस सेवाओं का लाभ उठाने या बुनियादी ढांचे / संसाधनों की कमी के साथ-साथ इंटरनेट का उपयोग करने की जानकारी की कमी के कारण डिजिटलीकरण का लाभ उठाने में मुश्किल होती है। ये रेलवायर साथी कियोस्क ग्रामीण रेलवे में इन आवश्यक डिजिटल सेवाओं को लाएंगे।

यह भी पढ़ें:- मात्र 977 रुपए में हवाई यात्रा करने का मौका दे रही है रतन टाटा की यह कंपनी, जानिए पूरा ऑफर

6090 स्‍टेशनों में वाईफाई
रेलटेल ने 6,090 स्टेशनों पर सार्वजनिक वाई-फाई (ब्रांड नाम 'रेलवायर' के तहत) देकर दुनिया के सबसे बड़े इंटीग्रेटिड वाई-फाई नेटवर्क में से एक बनाया है। इनमें से 5,000 ग्रामीण इलाकों में हैं। स्टेशनों पर इस मौजूदा बुनियादी ढांचे का उपयोग करते हुए, रेलटेल, सीएससी के साथ साझेदारी में, ग्रामीण क्षेत्रों में ब्रॉडबैंड सेवाएं देने की योजना बना रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios