Asianet News HindiAsianet News Hindi

Paytm Share Price: इश्‍यू प्राइस से 40 फीसदी ज्‍यादा टूटा पेटीएम का शेयर, निवेशकों को मोटा नुकसान

Paytm Share Price: इंट्रा डे कारोबार के दौरान कंपनी का शेयर 18 फीसदी तक नीचे गिर चुका है। आंकड़ों के अनुसार कंपनी के शेयरों की शुरूआत गिरावट के साथ 1500 अंकों पर पहुंची। जोकि कारोबारी सत्र के दौरा 1283 के लोर लेवल पर आ गई।

Paytm Share Price broken more than 40 percent from issue price, huge loss to investors
Author
New Delhi, First Published Nov 22, 2021, 12:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्‍क। डिजीटल पेमेंट प्रमुख पेटीएम (Paytm) की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस में ओपनिंग डे की तरह ही दबाव देखने को मि‍ल रहा है। दोपहर 12 बजे तक कंपनी का शेयर 40 फीसदी से ज्‍यादा टूटकर 1300 रुपए का लेवल तोड़ चुका है। अगर बात इंट्रा डे की करें तो कारोबारी सत्र के दौरान कंपनी का शेयर 18 फीसदी तक नीचे आ चुका है। पेटीएम के शेयर (Paytk Share Price) में दबाव की वजह से पूरा शेयर बाजार (Share Market) दबाव में है। सेंसेक्‍स करीब करीब 1100 अंकों से ज्‍यादा लुढ़क चुका है। जिसकी वजह से निवेशकों को भारी नुकसान हो चुका है।

इंट्रा डे पर 18 फीसदी टूट पेटीएम का शेयर
निवेशकों को उम्‍मीद थी कि शुक्रवार को ओपनिंग खराब होने के नए सप्‍ताह के पहले पेटीएम का शेयर निवेशकों को राहत की सांस देगा, लेकिन ऐसा देखने को नहीं म‍िल रहा है। इंट्रा डे कारोबार के दौरान कंपनी का शेयर 18 फीसदी तक नीचे गिर चुका है। आंकड़ों के अनुसार कंपनी के शेयरों की शुरूआत गिरावट के साथ 1500 अंकों पर पहुंची। जोकि कारोबारी सत्र के दौरा 1283 के लोर लेवल पर आ गई। यह कंपनी का ऑल टाइम लो भी बन गया है। मौजूदा समय यानी दोपहर 12 बजकर 10 म‍िनट पर कंपनी का शेयर 17.45 फीसदी की गिरावट के साथ 1289.35 रुपए पर कारोबार कर रहा है।

इश्‍यू प्राइस से 40 फीसदी से ज्‍यादा नीचे
खास बात तो ये है क‍ि कंपनी का शेयर प्राइस इश्‍यू प्राइस से 40 फीसदी से ज्‍यादा नीचे गिर चुका है। कंपनी के शेयर का इश्‍यू प्राइस 2150 रुपए प्रति शेयर था जो आज 1283 रुपए प्रति शेयर के लेवल पर आ गया। यानी कंपनी के शेयरों में 867 रुपए की गिरावट देखने को मि‍ल चुकी है। जानकारों की मानें तो इसमें अभी और गिरावट देखने को म‍िल सकती है।

मैक्वायरी ने की थी भविष्‍यवाणी
पेटीएम के शेयर प्राइस को लेकर ब्रोकरेज फर्म मैक्‍वायरी की ओर से एक भविष्‍यवाणी की गई थी, जिसमें कहा गया था क‍ि कंपनी का शेयर प्राइस 44 फीसदी तक टूट सकता है। कंपनी का शेयर उसी की ओर बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है। ब्रोकरेज फर्म ने कहा था कि कंपनी का बिजनेस मॉडल अभी उतना मजबूत नहीं है। साथ ही कंपनी ने कई चीजों में हाथ आजमाया हुआ है। वहीं दूसरी ओर कई जानकारों का यह भी कहना है कि कंपनी की वैल्‍युएशन काफी ज्‍यादा दिखाई गई है, जोकि किसी को हजम नहीं हो रही है।

कंपनी का मार्केट कैप एक लाख करोड़ से नीचे
वहीं दूसरी ओर कंपनी का मार्केट कैप एक लाख करोड़ रुपए से नीचे आ चुका है। मौजूदा समय में कंपनी का मार्केट कैप 84032 करोड़ रुपए दिखाई दे रहा था, जबकि शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद कंपनी का मार्केट कैप एक लाख रुपए से ज्‍यादा का था। इसका मतलब है क‍ि कंपनी के मार्केट कैप में करीब 20 हजार करोड़ रुपए की गिरावट आ चुकी है। वहीं इश्‍यू प्राइस के हिसाब से कंपनी का मार्केट कैप 60 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा नीचे आ चुका है।

यह भी पढ़ें:- Airtel Tariff Plan में इजाफा होने से टेलीकॉम शेयरों में बंपर तेजी, लेकिन शेयर बाजार हुआ धड़ाम

बाजार में भी बड़ी गिरावट
वहीं दूसरी ओर शेयर बाजार में भी बड़ी गिरावट देखने को म‍िल रही है। बांबे स्‍टॉक एक्‍सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्‍स 1120.50 अंक नीचे आ चुका है। जिसकी वजह से सेंसेक्‍स 58515 अंकों पर कारोबार कर रहा है। वहीं नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 324.40 अंकों की गिरावट के साथ 17,440 अंकों पर कारोबार कर रहा है।

यह भी पढ़ें:-  आम आदमी की जेब पर बढ़ेगा बोझ, Airtel ने प्रीपेड प्‍लान की दरों में किया 20 से 25 फीसदी का इजाफा

8.15 लाख करोड़ रुपए का नुकसान
वहीं शेयर बाजार के लुढ़कने से निवेशकों को 8.15 लाख करोड़ रुपए से ज्‍यादा का नुकसान हो चुका है। वास्‍तव में निवेशकों का फायदा और नुकसान बीएसई के मार्केट कैप से जुड़ा होता है। शुक्रवार को बीएसई का मार्केट कैप 2,69,20,196.99 करोड़ रुपए था, जो कम होकर 2,61,04,361.68 करोड़ रुपए पर आ गई है। इस दौरान बीएसई का मार्केट कैप 815835.31 करोड़ रुपए कम हो चुका है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios