Asianet News HindiAsianet News Hindi

आंध्र प्रदेश में अब 9वीं से 12वीं के छात्रों को नहीं मिलेगा लैपटॉप, जानिए सरकार ने क्यों लिया फैसला

सरकार की तरफ से सोमवार को अम्मावोडी योजना के तीसरे चरण की शुरुआत हुई। इसके तहत छात्रों को राशि का वितरण किया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने 8वीं के छात्रों को टैब देने की बात तो कही लेकिन लैपटॉप का उन्होंने जिक्र नहीं किया।

Andhra Pradesh News YS Jagan Mohan Reddy governmen will not give laptops to the students of 9th to 12th stb
Author
New Delhi, First Published Jun 28, 2022, 3:50 PM IST

करियर डेस्क : आंध्र प्रदेश ( Andhra Pradesh) में 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को अब से लैपटॉप नहीं मिलेंगे। सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए लैपटॉप वितरण योजना को बंद कर दिया है। इससे लाखों छात्रों के चेहरे उतर गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जो जानकारी मिली है इसका कारण है लैपटॉप का महंगा होना। इसके साथ ही कई डिजिटल लर्निंग ऐप उन पर काम भी नहीं करते हैं। अब सरकार सिर्फ 8वीं के छात्रों को टैबलेट बांटने पर विचार कर रही है। हर टैब पर सरकार को 12 हजार का खर्च आएगा।

8वीं को दिए जाएंगे टैप
एक वरिष्ठ शिक्षा अधिकारी ने बताया कि इस साल सितंबर तक कक्षा 8वीं  के छात्रों को टैब वितरण का प्लान है। यही टैब छात्रों को आगे की कक्षाओं में भी काम आएगा। इसलिए उन्हें लैपटॉप की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। टैब वितरण योजना हर साल सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों में चलेगी। बता दें कि पिछले साल ही मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी (YS Jagan Mohan Reddy) ने ऐलान किया था कि 9वीं से 12वीं तक के छात्र अम्मावोडी योजना के तहत 15,000 रुपए जो अब 13,000 रुपए हो गए हैं के बदले लैपटॉप ले सकते हैं। इसका उद्देश्य था सभी बच्चों की मां उन्हें स्कूल भेजने के लिए प्रोत्साहित करें। ये  लैपटॉप 2022 शैक्षणिक वर्ष में बांटे जाने थे। 

वादा नहीं निभा सकी सरकार
सीएम के इस घोषणा के बाद 9वीं से 12वीं तक के 8 लाख 21 हजार 655 छात्र-छात्राओं ने राशि के बजाय लैपटॉप का ऑप्शन चुना। इनमें से 1.10 लाख से अधिक छात्र अन्यथा वसती दीवेना, एक अन्य मुफ्त योजना के तहत कवर किए गए थे। लेकिन सरकार अपने वादे से मुकर गई और किसी भी छात्र को लैपटॉप नहीं दिया गया। इसके पीछे कारण था कि जिस आपूर्तिकर्ता से लैपटॉप लिया जाना था, उसने उसकी कीमतों को लेकर कोई समझौता नहीं किया। 

शिक्षा मंत्री ने ये कहा
वहीं, पिछले हफ्ते ही शिक्षा मंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने कहा था कि आपूर्तिकर्ताओं के साथ उनकी सरकार की बातचीत चल रही है। उम्मीद है जल्द ही यह अंतिम रुप में होगा। इसके बाद अम्मावोडी के साथ छात्रों को लैपटॉप दिए जाएंगे। इधर, सोमवार को सीएम ने अम्मावोडी के तीसरे फेज में राशि वितरण की शुरुआत की। तब उन्होंने 8वीं के छात्रों को टैब देने का जिक्र किया लेकिन लैपटॉप को लेकर उन्होंने कुछ भी नहीं बोला।

इसे भी पढ़ें
महाराष्ट्र में सरकारी नौकरी का मौका : MPSC ने निकाली बंपर वैकेंसी, ग्रेजुएट पास जल्द करें अप्लाई

मां आंगनवाड़ी वर्कर, बेटा लंदन में करेगा जॉब : गरीब परिवार के बेटे को फेसबुक से मिला 1.8 करोड़ का पैकेज ऑफर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios