Asianet News HindiAsianet News Hindi

Leave Application में गलती से भी न करें ये मिस्टेक, कैंसिल हो सकती है छुट्टी

लीव एप्लीकेशन में सब्जेक्ट क्लियर होना चाहिए। इसके साथ ही छुट्टियों की संख्या, छुट्टी लेने का कारण, अभिवादन और क्लोजिंग लाइन में कुछ शब्दों को इस्तेमाल करना चाहिए। अपना नाम, पोस्ट, डेट्स लिखना भी नहीं भूलना चाहिए।

Career Tips how to write Leave Application in english know all details stb
Author
First Published Nov 6, 2022, 6:45 PM IST

करियर डेस्क :  कई बार जॉब के दौरान अचानक से आपको छुट्टी की आवश्यकता पड़ती है। ऐसे में आप अपने बॉस को लीव एप्लीकेशन (Leave Application) मेल करते हैं। इस एप्लीकेशन को लिखते वक्त आप कई बातों का ध्यान रखते हैं लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस एप्लीकेशन की वो गलतियां जो आमतौर पर ज्यादातर एम्प्लाई करते हैं और उनकी छुट्टियां अप्रूव नहीं हो पाती हैं। दरअसल, नौकरी में छुट्टी लेना आपका अधिकार है। कंपनी की पॉलिसी के मुताबिक आपके लिए छुट्टियां तय होती हैं। लेकिन अगर आपको अपनी लीव को अप्रूव करानी है तो गलती से भी इन मिस्टेक से बचें।

इस तरह के शब्दों से बचें
याद रख लीजिए कि लीव एप्लीकेशन में फॉर्मल शब्दों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। हल्के शब्द लिखने से बचना चाहिए। जैसे डियर बॉस की बजाय रिस्पेक्टेड सर लिखना चाहिए। इससे आपकी एप्लीकेशन अच्छी होती है और छुट्टियां अप्रूव होने में आसानी होती है।

गलती से भी न करें ये मिस्टेक
कई बार लीव एप्लीकेशन लिखते वक्त स्‍पेलिंग की कई गलतियां हो जाती है। इससे आपकी इमेज तो खराब होती ही है, साथ ही इसका असर भी गलत पड़ता है। इसलिए जब भी लीव एप्लीकेशन लिखें, तब उसे दोबारा से जरूर चेक करें। इससे आपकी पकड़ में स्पेलिंग मिस्टेक आज जाती है और हल्के शब्द भी हटाए जा सकते हैं। आप चाहें तो ऑनलाइन स्‍पेल चेक सॉफ्टवेयर या गूगल की फ्री सर्विस भी यूज कर सकते हैं।

ये डिटेल्स न छूटने पाएं
लीव एप्लीकेशन में हर डिटेल्स होनी चाहिए। इसमें आप कब तक हैं। वापस कब काम पर आ जाएंगे। अगर आप अबसेंट हैं तो कम्युनिकेशन कैसे हो पाएगा। किस नंबर पर आपसे कॉन्टैक्ट हो सकता है। मेल के सबडेड में आप इसकी जानकारी अवश्य रुप से दें। इससे आपकी लीव अप्रूव होने में आसानी होती है।

ये करना भी जरूरी
देखिए छुट्टी आपका हक है। आप इसे ले सकते हैं। लेकिन छुट्टी बॉस की ही देते हैं, इसे भी न भूलें। क्योंकि लीव अप्रूव करना बॉस का अधिकार होता है। ऐसे में लीव एप्लीकेशन में अपने हेड या बॉस को रिगार्ड देना न भूलें। यह जरूरी होता है।

इस तरह से रखें अपनी बात
लीव एप्लीकेशन में इंग्लिश के बड़े-बड़े सेंटेंस की बजाय छोटे-छोटे वाक्य लिखें। एप्लीकेशन में कॉमा, फुल स्टॉप और पैराग्राफ इन सबका सही तरीके से ध्यान रखें। कई बार जल्दी-जल्दी में एप्लीकेशन लिखते वक्त लोग ऐसी मिस्टेक्स कर अपना काम बिगाड़ लेते हैं।

इसे भी पढ़ें
मुफ्त में करें लाखों फीस वाला कोर्स : गूगल दे रहा शानदार मौका, मोटी होगी कमाई

आदतें जो बदल सकती हैं आपकी लाइफ : करियर में मिलेगी ग्रोथ, हर एग्जाम में सक्सेस


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios