Asianet News HindiAsianet News Hindi

जिस यूनिवर्सिटी ने दिए 17 नोबल विजेता, वहां से पढ़ाई करेगा हैदराबाद का वेदांत, 1.3 करोड़ की मिली स्कॉलरशिप

वेदांत की इस उपलब्धि पर उनकी मां विजया लक्ष्मी अनादवड़े काफी खुश हैं। उन्होंने डेक्सटेरिटी का आभार जताते हुए कहा कि, उनकी वजह से ही वेदांत को एक अच्छा मंच मिला और उसे यह स्कॉलरशिप मिलने में काफी मदद मिली। यह मेरे लिए गर्व का क्षण है।

Hyderabad 18 year old Vedant Anandwade got scholarship from Case Western Reserve University America stb
Author
Hyderabad, First Published Aug 10, 2022, 6:53 PM IST

करियर डेस्क : हैदराबाद (Hyderabad) के 18 साल के छात्र वेदांत आनंदवाड़े (Vedant Anandwade) को अमेरिका की केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी (Case Western Reserve University) में पढ़ाई के लिए 1.3 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप मिली है। यह वही यूनिवर्सिटी है, जहां से एक-दो नहीं बल्कि 17 नोबल पुरस्कार विजेता (Nobel Prize Winners) निकले हैं। वेदांत इस यूनिवर्सिटी से न्यूरोसाइंस और साइकोलॉजी की पढ़ाई करेंगे। यह स्कॉलरशिप उन्हें प्री मेडिकल अंडरग्रेजुएट स्टडीज में एडमिशन के लिए मिली है।

नवंबर में यूनेस्को जाएंगे वेदांत
वेदांत ने कोरोनाकाल के दौरान 10वीं की पढ़ाई कंप्लीट की। उसके बाद उनकी मां ने उन्हें डेक्सटेरिटी ग्लोबल (Dexterity Global) से बारें में बताया। एक न्यूज एजेंसी को दिए एक इंटरव्यू में वेदांत ने बताया कि उन्होंने 16 साल की उम्र में तीन महीने का करियर डेवलपमेंट प्रोग्राम के लिए अप्लाई किया था। तब उन्होंने जलवायु पर हुई एक कॉम्पटिशन में भी पार्टिसिपेट किया था। इसके बाद डेक्सटेरिटी ग्लोबल की उनकी टीम ने यह प्रतियोगिता जीत ली और अब उन्हें नवंबर में यूनेस्को जाना है। जहां जूरी के सामने क्लाइमेट चैलेंज को लेक वे अपना सुझाव देंगे।

असाइमेंट ने हेल्प की, टीचर्स ने सिखाया
वेदांत ने अपनी इस सफलता को शेयर करते हुए कहा कि मेरे लिए केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करना बहुत बड़ी और गर्व की बात है। उन्होंने बताया कि उन्हें क्लास के दौरान उन्हें जो वीकली और मंथल असाइमेंट मिलते थे, उसी से उन्हें प्रेरणा मिली। क्विज कॉम्पटिशन की वजह से उनकी तैयारी अच्छी हुई और डेक्सटेरिटी ग्लोबल की उनकी टीम ने जलवायु पर मिले चैलेंज में विनर रही। इससे उनका रिज्यूमे काफी स्ट्रॉन्ग हो गया। वेदांत आनंदवाड़े एक सर्जन बनना चाहते हैं। तैयारी कर रहे स्टूडेट्स को उन्होंने सलाह देते हुए कहा है कि हमेशा टीचर्स और एक्सपर्ट की बात माननी चाहिए। एक्सट्रा करिकुलर एक्टिविटीज को अपनी लाइफ का हिस्सा बनाएं और ऑल राउंडर जैसा बनने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें
दुनिया की नंबर-1 यूनिवर्सिटी में करना चाहते हैं पढ़ाई तो जानें कैसे मिलेगा एडमिशन, कितनी होगी फीस

Cambridge University में करना चाहते हैं पढ़ाई, नहीं हो पा रहा फीस का जुगाड़ तो इन स्कॉलरशिप से पूरा होगा सपना

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios