Asianet News HindiAsianet News Hindi

Ashes Series: पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने इंग्लिश मैनेजमेंट की रणनीति पर उठाए सवाल

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने गाबा में शुरुआती एशेज टेस्ट में तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) को प्लेइंग इलेवन में शामिल न करने के फैसले पर हैरानी जताई है। 

Ashes Series, Michael Vaughan raised questions on the strategy of English management-mjs
Author
Brisbane QLD, First Published Dec 9, 2021, 9:54 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) मैनेजमेंट की रणनीति पर सवाल उठाए हैं। गाबा में शुरुआती एशेज टेस्ट में तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) को प्लेइंग इलेवन में शामिल न करने के फैसले पर हैरानी जताई है। उन्होंने इस को लेकर इंग्लिश कप्तान जोए रूट की आलोचना की है।  

माइकल वॉन ने कहा, "गाबा की पिच काफी अच्छी है मैंने अपने समय में एशेज क्रिकेट को जितना देखा है, उससे कहीं ज्यादा बेहतरीन पिच है। वहीं, इंग्लैंड की टेस्ट बल्लेबाजी ने लंबे समय से ऐसी पिचों का सामना नहीं किया है। मैं इस बात से भी हैरान हूं कि इस तरह की पिच पर ब्रॉड को नहीं खिलाया गया।"  

इंग्लैंड टीम की रणनीति पर सवाल उठाने वाले वॉन अकेले दिग्गज नहीं हैं। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर मार्क वॉ ने भी ब्रॉड को पहले टेस्ट में बाहर करने के हैरानी जताई। उन्होंने वॉन के सुर में सुर मिलाते हुए कहा, "इंग्लिश टीम ने कई गलत निर्णय लिए हैं, एक तो टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी दूसरी एंडरसन और ब्रॉड जैसे अनुभवी गेंदबाजों को अंतिम एकादश से बाहर रखा।"  

ब्रॉड दुनिया छठे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज

35 साल के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड टेस्ट मैचों में छठवें सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। उनके नाम 524 विकेट दर्ज हैं। उनके हमवतन जेम्स एंडरसन (632 विकेट) और ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्ग्रा (563 विकेट) के बाद वे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाजों में तीसरे स्थान पर हैं। 

पहले मैच की पहली पारी में ही ढेर हुई इंग्लिश टीम

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इंग्लैंड क्रिकेट टीम की शुरुआत खराब रही है। पहले टेस्ट मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लिश टीम पहली पारी में पहले ही दिन 50.1 ओवर खेलकर 147 रनों पर ही ढेर हो गई। पेट कमिंस के नेतृत्व वाले ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण ने इंग्लिश बल्लेबाजों को पैर जमाने का मौका ही नहीं दिया। कप्तान कमिंस ने 13.1 ओवर में 38 रन देकर पांच इंग्लिश बल्लेबाजों को आउट किया। इसके अलावा मिचेल स्टार्क और जोश हेजलवुड के खाते में 2-2 विकेट आए। कैमरून ग्रीन 1 विकेट लेने में कामयाब रहे। 

बटलर-पोप ने किया संघर्ष

इंग्लैंड की ओर से केवल विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर और ओली पोप ने संघर्ष किया। बटलर ने 58 गेंदों में 5 चौकों की सहायता से 39 रन बनाए। वहीं पोप ने 79 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 35 रन बनाए। इन दोनों के अलावा कोई भी बल्लेबाज कंगारू गेंदबाजों के सामने बेबस नजर आया। टीम के 7 बल्लेबाज तो दहाई का आंकड़ा तक नहीं छू सके। रोरी बर्न्स (शून्य), हबीब (25 रन), डेविड मलान (6 रन), कप्तान जोए रूट (शून्य) और लंबे समय बाद टीम में पासी करने वाले बेन स्टोक्स (5 रन) ने निराश किया। वहीं क्रिस वोक्स (21 रन), रोबिन्सन (शून्य) और मार्क वुड (8 रन) जल्दी आउट होकर चले गए। जैक लिंच 2 रन बनाकर नाबाद रहे।  

यह भी पढ़ें: 

साउथ अफ्रीका दौरे से पहले विराट से छिनी वनडे की कप्तानी, रोहित शर्मा को मिली कमान, विराट टेस्ट टीम के कप्तान

ICC Test Rankings: टेस्ट ऑलराउंडर्स की रैंकिंग में नंबर 2 पर पहुंचे अश्विन, मयंक ने लगाई 31 स्थानों की छलांग

Vijay Hazare Trophy: ऋतुराज गायकवाड़ का बड़ा धमाका, बतौर कप्तान पहले ही मैच में ठोका शतक

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios