Asianet News HindiAsianet News Hindi

Chandra Grahan 2022: 8 नवंबर को होने वाला चंद्र ग्रहण इन 4 राशि वालों पर है भारी

Chandra Grahan 2022: वैसे तो खगोल शास्त्र में ग्रहण को सामान्य घटना माना जाता है लेकिन ज्योतिष शास्त्र में इसका विशेष महत्व है। इसके अनुसार चाहे सूर्य ग्रहण हो या चंद्र ग्रहण, इनका असर आम जनमानस पर जरूर पड़ता है। 
 

Lunar Eclipse 2022 Lunar Eclipse 2022 Horoscope Lunar Eclipse Date 2022 MMA
Author
First Published Nov 1, 2022, 3:23 PM IST

उज्जैन. साल 2022 का अंतिम चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022) 8 नवंबर, मंगलवार को होने जा रहा है। इस दिन कार्तिक पूर्णिमा तिथि रहेगी। ये चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई देगा, इसलिए यहां इसका धार्मिक और ज्योतिषीय महत्व माना जाएगा। इसका असर सभी राशि के लोगों पर शुभ-अशुभ रूप में देखने को मिलेगा। हाल ही में 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण हुआ था और अब 15 दिनों के अंदर चंद्र ग्रहण होगा। लगातार 2 ग्रहण होना ज्योतिष की दृष्टि से ठीक नहीं माना जाता। 8 नवंबर को होने वाले चंद्र ग्रहण का अशुभ प्रभाव कुछ राशियों (Chandra Grahan 2022 Ka Rashifal) पर देखने को मिलेगा। आगे जानिए कौन-सी हैं वो राशियां… 

वृषभ राशि
इस राशि के लोगों पर चंद्र ग्रहण का प्रभाव ठीक नहीं रहेगा। इनकी सेहत पर बुरा असर हो सकता है। साथ ही इन्हें पैसों के लेन-देन को लेकर सावधान रहना होगा। नौकरी और बिजनेस में भी उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरन ये कोई भी नया काम शुरू न करें तो बेहतर रहेगा। 

मिथुन राशि
इस राशि के लोगों की मानसिक स्थिति चंद्र ग्रहण के कारण खराब हो सकती है। इनके खर्च अचानक बढ़ सकते हैं। वैवाहिक जीवन में भी उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। न चाहते हुए भी इन्हें अपनी जमा पूंजी खर्च करनी पड़ सकती है। कुछ लोग डिप्रेशन में आकर कोई गलत कदम भी उठा सकते हैं।

कन्या राशि
इस राशि के लोगों पर चंद्रग्रहण का असर काफी लंबे समय तक रहेगा। इन्हें सावधान रहने की जरूरत है। पैसों से जुड़े मामलों में इन्हें सावधान रहने की जरूरत है। बच्चों से जुड़ी कोई समस्या इन्हें परेशान कर सकती है। वाहन चलाते समय और अन्य कोई काम करते समय इन्हें सावधान रहना चाहिए।

वृश्चिक राशि
इस राशि के लोगों की बनते हुए काम रूक सकते हैं। राजनीति से जुड़े लोगों को नुकसान हो सकता है। हाथ आया मौका इनके हाथ से निकल सकता है। समय के अनुसार इन्हें निर्णय लेना होगा, नहीं तो किसी बड़ी मुसीबत में ये फंस सकते हैं। किसी को दिया हुआ पैसा अटक सकता है।



ये भी पढ़ें-

Kartik Purnima 2022: कब है कार्तिक पूर्णिमा, इसे देव दीपावली क्यों कहते हैं?


Devuthani Ekadashi 2022: देवउठनी एकादशी पर क्यों किया जाता है तुलसी-शालिग्राम का विवाह?

Amla Navami 2022: क्यों मनाते हैं आंवला नवमी का पर्व, इन दिन कौन-से 4 काम जरूर करने चाहिए?
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios