गुजरातियों की पहली पसंद क्यों बनी हुई है BJP, मोदी ने एक वीडियो tweet करके बताई ये बड़ी बात

| Nov 28 2022, 10:38 AM IST

गुजरातियों की पहली पसंद क्यों बनी हुई है BJP, मोदी ने एक वीडियो tweet करके बताई ये बड़ी बात

सार

ये तस्वीरें और वीडियो गुजरात के सूरत की हैं। यहां दो फेज यानी 1 और 5 दिसंबर को वोटिंग होनी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के धुआंधार दौरे पर हैं। सूरत का ये वीडियो और तस्वीरें बयां करती हैं कि क्यों गुजरात की सत्ता में भाजपा 1995 से अब तक लगातार है?

खेड़ा/भरूच/सूरत. ये तस्वीरें और वीडियो गुजरात के सूरत की हैं। यहां दो फेज यानी 1 और 5 दिसंबर को वोटिंग होनी है। पहले फेज में 1 दिसंबर को 19 जिलों की 89 सीटों पर मतदान होगा, जिसमें 788 उम्‍मीदवारों की किस्‍मत दांव पर है। दूसरे फेज की 93 सीटों के लिए 5 दिसंबर को वोटिंग होगी। रिजल्ट 8 दिसंबर को हिमाचल चुनाव के साथ आएगा। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के धुआंधार दौरे पर हैं। सूरत का ये वीडियो और तस्वीरें बयां करती हैं कि क्यों गुजरात की सत्ता में भाजपा 1995 से अब तक लगातार है? पढ़िए बाकी की डिटेल्स...

मोदी ने tweet किया वीडियो
यह वीडियो पीएम मोदी ने अपने twitter अकाउंट से खुद शेयर किया है। इसमें लिखा कि सूरत में एक अविस्मरणीय शाम। यानी An unforgettable evening in Surat!)! ये हाइलाइट्स कल(27 नवंबर) की हैं। हमारे डेवलपमेंट एजेंडे की वजह से भाजपा लोगों की पसंद है।

Subscribe to get breaking news alerts

pic.twitter.com/CPYTby5j6F

बता दें कि गुजरात की सत्ता में भाजपा 1995 से अब तक लगातार काबिज है। हालांकि, इससे पहले 1990 में भाजपा भाजपा ने जनता दल के साथ मिलकर गुजरात में सरकार बनाई थी, लेकिन 1992 में राम मंदिर आंदोलन के चलते यह गठबंधन टूट गया था। 2002 के चुनाव में भाजपा ने 127 सीटें जीती थीं और यह उसका अब तक का सबसे बेहतर प्रदर्शन रहा था। यह चुनाव गुजरात में दंगों के बाद हुआ था। दंगे फरवरी 2002 में हुए थे, जबकि चुनाव दिसंबर 2002 में हुए थे। 2007 के चुनाव में पार्टी ने 117 जबकि 2012 के चुनाव में उसे 115 सीट पर जीत हासिल हुई थी। 

गुजरात में बोले मोदी
चुनाव की तारीख नजदीक आने के साथ ही पीएम मोदी ने खुद चुनावी अभियान की कमान संभाल ली है। मोदी ने रविवार को कहा कि गुजरात और देश को कांग्रेस और समान विचारधारा वाले दलों को लेकर ‘सतर्क’ रहने की जरूरत है, जो अपने वोट बैंक को ठेस न पहुंचाने के लिए ‘बड़े आतंकवादी हमलों’ पर चुप्पी साधे रहते हैं। मोदी ने ग्रैंड ओल्ड पार्टी यानी कांग्रेस पर आदिवासी समुदाय का सम्मान नहीं करने का भी आरोप लगाया।

आम आदमी पार्टी (आप) पर इन डायरेक्ट प्रहार करते मोदी ने गुजरात के लोगों से आग्रह किया कि वे उन लोगों को राज्य में पांव रखने देने का पाप न करने दें, जिन्होंने नर्मदा बांध परियोजना विरोधी ताकतों को अतीत में चुनाव का टिकट दिया था। प्रधानमंत्री ने रविवार को गुजरात में प्रचार अभियान शुरू किया। उन्होंने खेड़ा जिले, भरूच जिले के एक आदिवासी क्षेत्र नेतरंग और सूरत शहर में रैलियों को संबोधित किया। उन्होंने एक विशाल रोड शो भी किया।

खेड़ा में बोलते हुए मोदी ने कहा, "आतंकवाद अभी खत्म नहीं हुआ है और कांग्रेस की राजनीति भी नहीं बदली है। तुष्टिकरण की राजनीति जारी रहने तक आतंकवाद का डर बना रहेगा।"

मोदी ने बिना नाम लिए कहा, 'कांग्रेस आतंकवाद को वोट बैंक के चश्मे से देखती है। सिर्फ कांग्रेस ही नहीं बल्कि कई समान विचारधारा वाली पार्टियां अब सामने आ गई हैं, जो आतंकवाद को सफलता हासिल करने का एक शॉर्टकट के रूप में देखती हैं।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब बड़े आतंकवादी हमले होते हैं] तो इन दलों के मुंह बंद रहते हैं, ताकि उनका वोट बैंक नाराज न हो। वे आतंकवादियों को बचाने के लिए पिछले दरवाजे से अदालत भी जाते हैं।  जब बाटला हाउस एनकाउंटर हुआ तो कांग्रेस के एक नेता ने आतंकियों का रोना रोया था। गुजरात और देश को ऐसी पार्टियों से सतर्क रहना चाहिए।

बता दें कि दिल्ली के पास ओखला के बाटला हाउस इलाके में 2008 की मुठभेड़ में एक फ्लैट में छिपे दो आतंकवादियों को मार गिराया गया था। इसमें एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई थी।

पीएम ने कहा, "2014 (लोकसभा चुनाव) में आपके एक वोट ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को मजबूत किया। अब हमारे शहरों में आतंकी हमलों के बारे में भूल जाइए, वे (भारत के दुश्मन) हमारी सीमाओं पर इस तरह के हमले करने से पहले 100 बार सोचते हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि भारत उनके घरों में घुसकर मारेगा।"

मोदी ने यह बात भी कही
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और समान विचारधारा वाली पार्टियों ने सर्जिकल स्ट्राइक और हमारे सशस्त्र बलों की क्षमता पर संदेह जताया था।

 उन्होंने कहा, ''जिन देशों ने आतंकवाद को हल्के में लिया, वे आतंकवाद के चंगुल में हैं। आतंकवाद अभी खत्म नहीं हुआ है। कांग्रेस पार्टी की राजनीति भी नहीं बदली है, जबकि छोटे दल भी वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं।''

मोदी ने कहा, "हमें गुजरात को आतंकवाद का गंदा खेल खेलने वालों से बचाना है। यह लंबी लड़ाई है और हमें आपके समर्थन की जरूरत है।" उन्होंने कहा कि 2008 का मुंबई आतंकी हमला 'देश में आतंकवादी हमलों का प्रतीक' था। पीएम ने कहा, "मैं दिवंगत आत्माओं के लिए प्रार्थना करता हूं।" 

बता दें कि 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा किए गए 26/11 के हमले की 14वीं वर्षगांठ मनाने के लिए श्रद्धांजलि अर्पित करने के एक दिन बाद मोदी ने यह बात कही। इस आतंकवादी हमले में166 लोग मारे गए थे और कई घायल हुए थे।

मोदी ने कहा-"गुजरात ने अहमदाबाद और सूरत में भी सिलसिलेवार विस्फोटों का सामना किया और कई लोगों की जान चली गई।"

यह भी पढ़ें
बाटला हाउस में मारे गए आतंकवादियों को लेकर कांग्रेस पर मोदी ने साधा निशाना, बोले-सेना की ताकत पर किया संदेह
दो दशक पहले इस जिले में आया था विनाशकारी भूकंप, तब से हुआ जबरदस्त हुआ विकास, जानिए किसका है कब्जा

 

 
Read more Articles on