नई दिल्ली. हाल में दिल्ली विधानसभा चुनाव संपन्न हुए हैं जिसमें आम आदमी पार्टी ने प्रचंड जीत हासिल की है। दिल्ली में तीसरी बार अरविंद केजरीवाल की सरकार बनेगी। अब इस बीच सोशल मीडिया पर राहुल गांधी का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिस पर जनता पेट पकड़कर हंस रही है। दरअसल वीडियो में राहुल गांधी कह रहे हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी और आरएसएस की वजह से युवा तो क्या चील कौए भी बेरोजगार हो गए हैं। 

ट्विटर पर इस वीडियो ने आग लगा रखी है और लोग पप्पू कह राहुल गांधी पर जंकर हंस रहे हैं। पर आइए जानते हैं कि क्या वाकई कांग्रेस के पूर्व राष्ट्राध्यक्ष ने ऐसी बात कही है या नहीं? 

वायरल पोस्ट क्या है? 

वीडियो में राहुल गांधी कह रहे हैं, “यहां पे मुझे एक बात समझाओ, कि ये जो चील हैं ये यहां क्यों उड़ रहे हैं? ये चील यहां पर क्या कर रहे हैं? कोई बता सकता है कि ये जो चील हैं यहां पर, क्या कर रहे हैं? बताओं मुझे, पिछले पांच साल से उनको रोज़गार नहीं मिल रहा है। इसका कारण नरेंद्र मोदी हैं। इसका कारण RSS है। इसका कारण भाजपा है।”

क्या दावा किया जा रहा है? 

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर जमकर शेयर किया जा रहा है। हालांकि एक बीजेपी विधायक ने भी इसे ट्वीट किया। वीडियो शेयर कर लोग राहुल गांधी से पूछ रहे हैं चील और कौए कैसे बेरोजगार हो सकते हैं? राहुल गांधी का मज़ाक उड़ाते हुए कई यूज़र्स ट्विटर और फेसबुक पर यह वीडियो शेयर कर रहे हैं। इसे अब तक करीब 4,500 बार शेयर किया जा चुका है। 

फैक्ट चेकिंग- 

अब हम आपको बताते हैं कि इस वीडियो की असलियत क्या है? दरअसल इस वीडियो में कई छोटे-छोटे कट्स और एडिट्स हैं जिसकी वजह से ये कई वीडियो का एक कम्पाइलेशन हो गया है। वीडियो में राहुल गांधी जो कह रहे हैं वो पूरी तरह से एडिटेड है। यूट्यूब पर की-वर्ड्स सर्च से हमें राहुल गांधी के पूरे भाषण का वीडियो मिला जिसमें वो 5 फरवरी को नई दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान भाषण दे रहे थे। 

इसी पूरे भाषण में से कुछ शब्दों के हेर-फेर कर एडिट कर बातचीत को घुमा-फिरा दिया गया और  क्लिप बनाकर वायरल कर दिया गया। दरअसल राहुल जनता से चील का उदाहरण देते हुए कहते हैं, “पिछले पांच सालों में नरेंद्र मोदी ने 3 लाख 50 हज़ार करोड़ रुपये अनिल अम्बानी, अदानी जैसे लोगों को दिए है।” वीडियो में 8 मिनट 40 सेकंड पर वो कहते हैं – “अच्छा भैया, यहां पे मुझे एक बात समझाओ, चील है, ये चील यहां क्या कर रहे हैं? बताओ मुझे, कोई बता सकता है कि ये चील जो यहां घूम रहे हैं, ये क्यों घूम रहे हैं? ये जो गंदगी है, आप बताओ, मुझे इस गंदगी को हटाने के लिए आपको कितने करोड़ रूपये लगेंगे। 5 करोड़? 10 करोड़? 10 साल की बच्ची कह रही है, ठीक है 50 करोड़ लग जायेंगे।”

ये निकला नतीजा

इस बीच वो युवाओं के रोजगार की बात करते हैं और बाद में हर शिकायत के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराते हैं। इसी वीडियो के कुछ अंश एडिट कर राहुल का फनी क्लिप तैयार कर दिया गया जिसे शेयर कर लोग हंस रहे हैं। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि राहुल गांधी का यह वीडियो एडिट किया हुआ था उन्होंने दिल्ली चुनाव के भाषण में चीलों के बेरोजगार होने की बात नहीं कही थी।