Asianet News Hindi

Fact Check: शराब बिक्री को लेकर शिवराज सिंह चौहान के वायरल वीडियो का सच, खुल गई पूरी पोल

दस सेकंड के इस वीडियो में शिवराज सिंह कहते दिख रहे हैं, "क्या कर रहा है यह आबकारी अमला? काय के लिए बैठा है यह? दारू इतनी फैला दो पूरे प्रदेश में कि पिये और पड़े रहें।"

shivraj singh chouhan viral video wine shops was morphed here is the truth kpt
Author
New Delhi, First Published Jun 15, 2020, 9:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.  सोशल मीडिया पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वीडियो के जरिये दावा किया जा रहा है कि शिवराज आबकारी अमले पर भड़कते हुए प्रदेश में शराब की बिक्री को बढ़ावा देने की बात कह रहे हैं। वीडियो को लेकर लोग सोशल मीडिया पर एमपी सीएम को जमकर आलोचना कर रहे हैं। वायरल वीडियो की सच्चाई अब सामने आ गई है। 

फैक्ट चेकिंग में वीडियो की पूरी पोल खुल गई- 

वायरल पोस्ट क्या है? 

'सच्ची खबरें - भारत ' नाम के एक फेसबुक पेज पर इस वीडियो को शेयर किया गया है, वीडियो को अभी तक हजारों बार शेयर किया जा चुका है। दस सेकंड के इस वीडियो में शिवराज सिंह कहते दिख रहे हैं, "क्या कर रहा है यह आबकारी अमला? काय के लिए बैठा है यह? दारू इतनी फैला दो पूरे प्रदेश में कि पिये और पड़े रहें।"

क्या दावा किया जा रहा? 

दरअसल बीते दिनों एमपी में सरकार गिराने को लेकर भी एक वीडियो वायरल हुआ था। ये ओडियो क्लिप थी जिसमें कमलनाथ सरकार को गिराने की साजिश के दावे के साथ वायरल किया गया था। अब दूसरे वायरल वीडियो में भी लिखा दिख रहा है, "आबकारी अमले पर भड़के शिवराज, कहा दारू इतनी फैला दो कि पीये और पड़े रहे।"

 

 

फैक्ट चेकिंग 

सोशल मीडिया पर ही थोड़ी जांच-पड़ताल में हमने पाया कि वायरल वीडियो भ्रामक है। एक लंबे वीडियो को काट-छांट कर इसे बनाया गया है, जिससे ऐसा लगे कि शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में शराब की बिक्री को बढ़ावा दे रहे हैं। असली वीडियो इसी साल जनवरी का है, जब विपक्ष में रहते हुए शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर शराब की उपदुकानें खोलने को लेकर हमला किया था।

एक फेसबुक पेज पर इस वीडियो को शेयर किया गया था, कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी इस वीडियो को ट्वीट किया था। वीडियो के साथ कैप्शन में दिग्विजय सिंह ने लिखा था, 'मदिरालय खोल दिए पर मंदिरों और पूजा स्थलों पर लॉकडाउन, वाह रे मामा "इतना पिलाओ कि पड़े रहें" क्या कहने' यह ट्वीट बाद में डिलीट कर दिया गया। बीजेपी की शिकायत के आधार पर भोपाल क्राइम ब्रांच ने दिग्विजय सिंह पर केस भी दर्ज किया है।

क्या है सच्चाई?

वीडियो के वायरल हो जाने के बाद इसकी असलियत शिवराज सिंह चौहान ने खुद ट्विटर पर जाहिर की। शिवराज सिंह के ऑफिस ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसे देखने से साफ हो जाता है कि इस वीडियो से छेड़छाड़ करके वायरल वीडियो को बनाया गया है। 

असली वीडियो में 1 मिनट 36 सेकंड के बाद; शिवराज सिंह कह रहे हैं- "क्या कर रहा है यह आबकारी अमला? काय के लिए बैठा है यह? यह क्यों नहीं रोकता अवैध शराब की बिक्री? शराब घर-घर भेजोगे क्या?  युवा पीढ़ी को खोखला कर देगी, प्रदेश को तबाह और बर्बाद कर देगी शराब लेकिन किसान कर्जा माफी की मांग न करे, नौजवान बेरोजगारी भत्ता न मांगे, गरीब संबल योजना की बात न करे, कोई मुख्यमंत्री कन्यादान का पैसा न मांग ले, इसलिए दारू इतनी फैला दो पूरे प्रदेश में कि पीये और पड़े रहें। मैं तो कहता हूं कि मुख्यमंत्री इतने नैतिक हैं तो नशामुक्ति अभियान चलाना चाहिए।"

 

 

यह ओरिजिनल वीडियो है। मध्य प्रदेश में ओछी राजनीति की कोई जगह नहीं! दरअसल, इस वीडियो में शिवराज तत्कालीन कांग्रेस सरकार की शराब संबंधी नई नीति का विरोध कर रहे थे।  इस वीडियो को खुद शिवराज ने भी 12 जनवरी, 2020 को ट्वीट किया था। 

ये निकला नतीजा 

इस वीडियो से कुछ हिस्सा उठाकर वायरल वीडियो को तैयार किया गया है। प्रदेश में दारू फैलाने वाली बात शिवराज सिंह ने कमलनाथ सरकार के संदर्भ में बोली थी। पूरा वीडियो देखने से ये बात साफ हो जाती है कि शिवराज शराब को बढ़ावा देने की बात नहीं कर रहे, बल्कि इसकी आलोचना कर रहे थे। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios