नई दिल्ली. सोशल मीडिया पर छोटी बच्ची की एक तस्वीर वायरल हो रही है। बच्ची को मंगलौर में भिखारियों के साथ भीख मांगते हुए दिखाया जा रहा है। तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि वह मुंबई से आने वाली ट्रेन से मिली थी और उसका नाम सोनल बिपिन पटेल है।

वायरल न्यूज में क्या है?
वायरल न्यूज में एक बच्ची की तस्वीर दिख रही है, जिसके हाथ में एक प्लेट है और प्लेट में कुछ रुपए दिख रहे हैं। फोटो के साथ मैसेज लिखा है, "इस बच्ची को मंगलौर में तमिल भिखारियों के साथ भीख मांगते हुए देखा गया। इस मैसेज को तब तक फॉरवर्ड करें, जब तक इसके माता-पिता नहीं मिल जाते हैं। बच्ची मुंबई से आने वाली ट्रेन में दिखी। इसका नाम सोनल बिपिन पटेल है।"

 

वायरल न्यूज की पड़ताल

- वायरल न्यूज की पड़ताल करने के लिए हमने वायरल तस्वीर को गूगल पर रिवर्स सर्च किया। तब फेसबुक पर एक तस्वीर मिली। इसमें बच्ची ने जो प्लेट पकड़ा है उसमें बांग्लादेश की करंसी नजर आ रही है।

- तस्वीर को गूगल रिवर्स करने पर बांग्लादेश की कई न्यूज साइट्स खुलीं। 13 जुलाई, 2019 को Ajker Comilla में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, आसिफ अकबर द्वारा फेसबुक पोस्ट के आधार पर लिखा गय है कि लड़की को दो साल पहले बागेरहाट के एक बाजार से किडनैप कर लिया गया था। हाल ही में एक व्यक्ति ने ढाका के बनानी में यह तस्वीर क्लिक की। बच्चे के चाचा ने अपनी भतीजी को पहचान लिया और फोटोग्राफर से संपर्क किया।

- हालांकि, जब चाचा और फोटोग्राफर दोबारा उस जगह पर गए तो बच्ची नहीं मिली। फेसबुक पोस्ट ने दावा किया गया है कि लड़की के पिता चटगांव में काम करते हैं और मोबाइल फोन यूज नहीं करते हैं। अगर किसी को भी बच्ची मिलती है, तो कृपया पुलिस या बच्चे के चाचा को सूचित करें।" साथ में दो फोन नंबर दिए हुए हैं, जिसमें एक चाचा का था और दूसरा इकबाल कबीर नाम के पत्रकार का। जब कबीर से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया, तस्वीरों में दिख रही लड़की बांग्लादेश की है। वह अभी तक नहीं मिली है और मुझे उसके माता-पिता के बारे में भी नहीं पता है।"

निष्कर्ष
वायरल तस्वीर मंगलौर में भीख मांगती बच्ची की नहीं है, बल्कि यह बांग्लादेश की है। बांग्लादेश के स्थानीय मीडिया के अनुसार बच्ची का अपहरण हुआ था, लेकिन अभी तक उसकी कोई खबर नहीं मिली है।