नई दिल्ली. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद भारत सरकार कश्मीर में सेब के बागानों को नष्ट कर रही है। वायरल वीडियो को 27 अगस्त को ट्वीट किया गया था। अब तक 550 से अधिक बार रीट्वीट किया गया है।  वीडियो 46 सेकंड का है। इसमें दिख रहा है कि फलों से लदे सेब के पेड़ काटे जा रहे हैं।

वायरल न्यूज में क्या है?
 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद वहां की स्थिति बताती कई फेक सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, उन्हीं में से एक पोस्ट यह भी है। पोस्ट में सेब के पेड़ काटते हुए कुछ लोग दिख रहे हैं। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद अब सरकार वहां के सेब के बागान खत्म करवा रही है।

 

वायरल न्यूज की पड़ताल

- ट्विटर पर पोस्ट वीडियो के नीचे कमेंट बॉक्स में एक यूजर ने लिखा कि वीडियो कश्मीर का नहीं, बल्कि हिमाचल प्रदेश का है। 2018 में अतिक्रमण हटाने के दौरान यह कार्रवाई की गई थी। इंटरनेट पर सर्च करने पर यूट्यूब पर भी यह वीडियो मिला, जिसे जुलाई 2018 में अपलोड किया गया था।

- इंटरनेट पर सर्च करने 10 मई 2018 को पब्लिश इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर मिली, जिसमें कहा गया, "हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने बुधवार को जांच के लिए एक सप्ताह का समय दिया। टीम (एसआईटी) ने शिमला के सेब-बेल्ट में सेब के पौधों की कटाई को पूरा करने के लिए अदालत के आदेश के तहत वन भूमि पर अवैध अतिक्रमण को हटाने के लिए गए।"  

निष्कर्ष

वायरल वीडियो कश्मीर नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश का है। वीडियो में किया जा रहा दावा गलत है कि सरकार सेब के बागानों को नष्ट करा रही है। 2018 का हिमाचल प्रदेश का वीडियो फिर से वायरल हो रहा है।