Asianet News Hindi

खाट से बांध महिला को जिंदा जलाया, राख में दिखा सिर्फ आधा पैर..मंजर देख लोगों ने बंद कर लीं आंखें

First Published Feb 13, 2020, 12:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुजफ्फरपुर. बिहार में एक दिल को झकझोर देने वाली एक दुखद घटना सामने आई है। जिसकी वजह से पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। दरअसल, मुजफ्फरपुर के मनियारी थाने क्षेत्र में एक 60 वर्षीय वृद्धा को अज्ञात अपराधियों ने खाट से बांधकर जिंदा जला दिया। महिला का पूरा शरीर जल चुका था, आलम यह था कि उसका सिर्फ एक अधजला पैर ही दिखाई दे रहा था। बाकी उसका पूरा शरीर जलकर खाक हो चुका था।

दरअसल, यह दर्दनाक घटना  मनियारी थाने क्षेत्र के महंत मनियारी गांव में मंगलवार देर रात सामने आई है। जहां बदमाशों पहले तो 60 वर्षीय कृष्णा देवी को दर्दनाक मौत दी। इसके बाद वो अलमारी से गहने और कुछ नगदी लूटकर फरार हो गए। हालांकि मृतका के पति विश्वनाथ ठाकुर की शिकायत पर उसके पड़ोस में रहने वाले मां-बेटे मीरा देवी और सोनू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

दरअसल, यह दर्दनाक घटना मनियारी थाने क्षेत्र के महंत मनियारी गांव में मंगलवार देर रात सामने आई है। जहां बदमाशों पहले तो 60 वर्षीय कृष्णा देवी को दर्दनाक मौत दी। इसके बाद वो अलमारी से गहने और कुछ नगदी लूटकर फरार हो गए। हालांकि मृतका के पति विश्वनाथ ठाकुर की शिकायत पर उसके पड़ोस में रहने वाले मां-बेटे मीरा देवी और सोनू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

महिला के पति विश्वनाथ ने बतााय कि वह रात को अंदर वाले कमरे में सो रहे थे। जबकि उनकी पत्नी कृष्णा बाहर बरामदे में सो रही थी। सुबह देर हो जाने के बाद भी जब वो मेरे लिए चाय लेकर नहीं आई तो मैंने उसको अवाज लगाई। लेकिन कोई जबाव नहीं आया। फिर मैंने आंगन में जाकर देखा तो वह कहीं नहीं दिखाई दी और घर का मुख्य दरवाजा खुला हुआ था। अचानक एक कोने में जली हुई खाट दिख रही थी। पास जाकर देखा तो पत्नी का सिर्फ आधा पैर अधजला दिख रहा था।

महिला के पति विश्वनाथ ने बतााय कि वह रात को अंदर वाले कमरे में सो रहे थे। जबकि उनकी पत्नी कृष्णा बाहर बरामदे में सो रही थी। सुबह देर हो जाने के बाद भी जब वो मेरे लिए चाय लेकर नहीं आई तो मैंने उसको अवाज लगाई। लेकिन कोई जबाव नहीं आया। फिर मैंने आंगन में जाकर देखा तो वह कहीं नहीं दिखाई दी और घर का मुख्य दरवाजा खुला हुआ था। अचानक एक कोने में जली हुई खाट दिख रही थी। पास जाकर देखा तो पत्नी का सिर्फ आधा पैर अधजला दिख रहा था।

विश्वनाथ ठाकुर ने पुलिस को बताया कि घर में कई बार चोरी हो चुकी है। आरोपित सोनू के पकड़े जाने पर एक बार थाने में शिकायत की थी, लेकिन दबंगों की पैरवी से वह थाने से ही छूट गया था। कुछ दिन पहले धान बेचकर 12 हजार रुपये जमा किए थे। रुपये गेहूं की कोठी में रखे थे। इसकी भनक सोनू को लग गई थी। छानबीन के दौरान गेहूं की कोठी क्षतिग्रस्त मिली।

विश्वनाथ ठाकुर ने पुलिस को बताया कि घर में कई बार चोरी हो चुकी है। आरोपित सोनू के पकड़े जाने पर एक बार थाने में शिकायत की थी, लेकिन दबंगों की पैरवी से वह थाने से ही छूट गया था। कुछ दिन पहले धान बेचकर 12 हजार रुपये जमा किए थे। रुपये गेहूं की कोठी में रखे थे। इसकी भनक सोनू को लग गई थी। छानबीन के दौरान गेहूं की कोठी क्षतिग्रस्त मिली।

विश्वनाथ ने बतााय कि उनको उम्र के चलते कानों में कम सुनाई देता है और वह मोतियाबिंद के मरीज हैं। इसलिए रात में भनक नहीं लगी। कोई शोर शराबा भी नहीं हुआ। आरोपियो ने मेरी पत्नी को क्यों जलाया इसका पता नहीं है।

विश्वनाथ ने बतााय कि उनको उम्र के चलते कानों में कम सुनाई देता है और वह मोतियाबिंद के मरीज हैं। इसलिए रात में भनक नहीं लगी। कोई शोर शराबा भी नहीं हुआ। आरोपियो ने मेरी पत्नी को क्यों जलाया इसका पता नहीं है।

मृतका के दो बेटे हैं जो दिल्ली में एक कंपनी में नौकरी करते हैं।  घटना की जानकारी दोनों को दे दी गई है और वह दिल्ली से अपने गांव पहुंच चुके हैं।

मृतका के दो बेटे हैं जो दिल्ली में एक कंपनी में नौकरी करते हैं। घटना की जानकारी दोनों को दे दी गई है और वह दिल्ली से अपने गांव पहुंच चुके हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios