Asianet News Hindi

डिप्टी सीएम ने कहा-चीन और पाक की भाषा बोल रही कांग्रेस, मनमोहन सरकार में 600 से अधिक बार चीन ने किया था घुसपैठ

First Published Jun 22, 2020, 9:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar)  । बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि कांग्रेस व उसके नेता चीन और पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं। डॉ. मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्रित्व काल 2010-13 के बीच 600 से ज्यादा बार चीनी सेना ने घुसपैठ किया। भारत को देपसांग, चुमार, पेनगोंग में 640 वर्ग किमी जमीन गंवा देनी पड़ी। इस बार चीन ने गलवान घाटी में सरहद पार करने का नहीं, बल्कि लक्ष्मण रेखा लांधने का प्रयास किया तो भारत ने उसका माकूल जवाब दिया है। 


औरंगाबाद जिला अंतर्गत गोह विधानसभा क्षेत्र के लिए आयोजित वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि नवाज शरीफ के घर पहुंच कर दोस्ती का हाथ बढ़ाने वाले प्रधानमंत्री सर्जिकल स्ट्राइक कर सबक सिखाना भी जानते हैं।


औरंगाबाद जिला अंतर्गत गोह विधानसभा क्षेत्र के लिए आयोजित वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि नवाज शरीफ के घर पहुंच कर दोस्ती का हाथ बढ़ाने वाले प्रधानमंत्री सर्जिकल स्ट्राइक कर सबक सिखाना भी जानते हैं।


डिप्टी सीएम ने कहा कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाकर जहां यथास्थिति को खत्म किया, वहीं चीन के विरोध के बावजूद लद्दाख को केंद्र शासित राज्य बनाया। कोरोना से लड़ने वाली सरकार चीन को भी जवाब देने में सक्षम है।


डिप्टी सीएम ने कहा कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाकर जहां यथास्थिति को खत्म किया, वहीं चीन के विरोध के बावजूद लद्दाख को केंद्र शासित राज्य बनाया। कोरोना से लड़ने वाली सरकार चीन को भी जवाब देने में सक्षम है।


डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी इसके पहले वैशाली जिले के जंदाहा के चक फतेह गांव स्थित शहीद सैनिक जय किशोर सिंह के घर पहंचे। शहीद जय सिंह के परिजनों को बिहार सरकार की ओर से 36 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। 


डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी इसके पहले वैशाली जिले के जंदाहा के चक फतेह गांव स्थित शहीद सैनिक जय किशोर सिंह के घर पहंचे। शहीद जय सिंह के परिजनों को बिहार सरकार की ओर से 36 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। 


डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने बताया कि राज्य और केंद्र सरकार की ओर से बिहार के शहीद जवानों के परिजनों को करीब एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जा रही है। लेकिन, मैं यह कहना चाहता हूं कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती है, क्योंकि जो चले गएं वो वापस लौटकर नहीं आ सकते हैं। 


डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने बताया कि राज्य और केंद्र सरकार की ओर से बिहार के शहीद जवानों के परिजनों को करीब एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी जा रही है। लेकिन, मैं यह कहना चाहता हूं कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती है, क्योंकि जो चले गएं वो वापस लौटकर नहीं आ सकते हैं। 

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि भी हम समस्तीपुर, सहरसा और भोजपुर के शहीद जवानों के परिजनों से मुलाकात करेंगे। इससे पहले उन्होंने रविवार को बिहटा के शहीद सुनील कुमार के परिजनों से भी मुलाकात की थी।
 

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि भी हम समस्तीपुर, सहरसा और भोजपुर के शहीद जवानों के परिजनों से मुलाकात करेंगे। इससे पहले उन्होंने रविवार को बिहटा के शहीद सुनील कुमार के परिजनों से भी मुलाकात की थी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios