Asianet News Hindi

पाकिस्तानी व्हाट्सएप ग्रुप पर भारत से तस्वीरों को भेजता था ये शख्स, करता था मजदूर का काम

First Published Oct 6, 2020, 1:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना  (Bihar) । पाकिस्तानी एजेंट के तौर पर काम करने के आरोप में नागपुर से गिरफ्तार संजीव कुमार (Sanjeev Kumar) गोपालपुर जिले  (Gopalpur district) के आलापुर गांव (Alapur Village) का रहने वाला है। खबर है कि वो पाकिस्तानी व्हाट्सएप ग्रुप में देओलाली रक्षा क्षेत्र की तस्‍वीरें शेयर करता था, जिसे कोर्ट ने 9 अक्‍टूबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया है। वहीं, परिजनों के मुताबिक संजीव, लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान अपने घर पर ही रहता था। इस दौरान घर की आर्थिक हालत खराब होने लगी जिसके बाद वो डेढ़ महीने पहले ही महाराष्ट्र में मजदूरी करने के नाम पर घर से निकला था।

संजीव कुमार के गिरफ्तारी की जानकारी उसके चाचा हरि भगत को दी गई है। वहीं, परिजनों का कहना है कि उससे कही अनजाने में गलती हो गई होगी, जिसकी वजह से उसे गिरफ्तार किया गया होगा, क्योंकि इसके बारे में उन्हें कुछ नहीं पता है। वो तो मजदूरी करने गया है।

संजीव कुमार के गिरफ्तारी की जानकारी उसके चाचा हरि भगत को दी गई है। वहीं, परिजनों का कहना है कि उससे कही अनजाने में गलती हो गई होगी, जिसकी वजह से उसे गिरफ्तार किया गया होगा, क्योंकि इसके बारे में उन्हें कुछ नहीं पता है। वो तो मजदूरी करने गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नागपुर के एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि 21 वर्षीय आरोपी संजीव कुमार को बीते शुक्रवार को कुछ सैनिकों ने उस समय पकड़ा था जब वह देओलली कैंप में सैन्य अस्पताल क्षेत्र की तस्वीरें क्लिक कर रहा था।

(प्रतीकात्मक फोटो)

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नागपुर के एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि 21 वर्षीय आरोपी संजीव कुमार को बीते शुक्रवार को कुछ सैनिकों ने उस समय पकड़ा था जब वह देओलली कैंप में सैन्य अस्पताल क्षेत्र की तस्वीरें क्लिक कर रहा था।

(प्रतीकात्मक फोटो)


बता दें कि इस क्षेत्र में फोटोग्राफी या वीडियो बनाना प्रतिबंधित है, जिसकी वजह से सैनिकों ने युवक को तत्काल हिरासत में लेकर उसका मोबाइल फोन जब्त कर लिया था। (प्रतीकात्मक फोटो)
 


बता दें कि इस क्षेत्र में फोटोग्राफी या वीडियो बनाना प्रतिबंधित है, जिसकी वजह से सैनिकों ने युवक को तत्काल हिरासत में लेकर उसका मोबाइल फोन जब्त कर लिया था। (प्रतीकात्मक फोटो)
 


मोबाइल की जांच में पता चला कि युवक ने कथित तौर पर पड़ोसी देश में एक व्हाट्सएप ग्रुप पर तस्वीरें भेजी थीं, आरोपी संजीव कुमार को शनिवार शाम को देओलली कैंप पुलिस को सौंप दिया गया। (प्रतीकात्मक फोटो)


मोबाइल की जांच में पता चला कि युवक ने कथित तौर पर पड़ोसी देश में एक व्हाट्सएप ग्रुप पर तस्वीरें भेजी थीं, आरोपी संजीव कुमार को शनिवार शाम को देओलली कैंप पुलिस को सौंप दिया गया। (प्रतीकात्मक फोटो)

गिरफ्तार संजीव सैन्य क्षेत्र में हो रहे निर्माण कार्य में मजदूरी करता था। महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक देओलली कैंप रेलवे स्टेशन के पास बस्ती में रहता है।

गिरफ्तार संजीव सैन्य क्षेत्र में हो रहे निर्माण कार्य में मजदूरी करता था। महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक देओलली कैंप रेलवे स्टेशन के पास बस्ती में रहता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios