Asianet News Hindi

Post Office की ये 3 योजनाएं हैं बेहद खास, इन्वेस्टमेंट पर मिलेगा बैंकों से ज्यादा फायदा

First Published Nov 17, 2020, 9:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। पोस्ट ऑफिस (Post Office) की सेविंग्स स्कीम्स में निवेश करने से अब सबसे ज्यादा फायदा मिल रहा है। बैंकों की जमा योजनाओं में ब्याज दर घट जाने से उनमें पैसा लगाने पर अब पहले की तरह फायदा नहीं मिल सकता। इसलिए  पोस्ट ऑफिस की की बचत योजनाओं में निवेश किया जा सकता है। यहां निवेश सुरक्षित होने के साथ रिटर्न भी अच्छा मिलता है। पोस्‍ट ऑफिस की स्कीम्स में निवेश किए गए पैसे के 100 फीसदी सुरक्षित रहने की गारंटी होती है। पोस्ट ऑफिस की ऐसी कई स्कीम्स हैं, जिनमें निवेश कर के अच्छा-खासा फायदा उठाया जा सकता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं पोस्‍ट ऑफिस की 3 खास योजनाओं के बारे में, जिनमें सुरक्षित निवेश किया जा सकता है। 
(फाइल फोटो)

टाइम डिपॉजिट स्कीम 
पोस्‍ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट (TD) योजना बैंकों की फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम (FD) की तरह ही है, लेकिन इसमें बैंकों से ज्यादा फायदा मिलता है। पोस्ट ऑफिस में 1 साल से 5 साल तक का टाइम डिपॉजिट अकाउंट खुलवाया जा सकता है। यह अकाउंट मिनिमम 1000 रुपए से खुलवाया जा सकता है। इस स्कीम में  मैक्सिमम जमा राशि की कोई लिमिट नहीं है।
(फाइल फोटो)
 

टाइम डिपॉजिट स्कीम 
पोस्‍ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट (TD) योजना बैंकों की फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम (FD) की तरह ही है, लेकिन इसमें बैंकों से ज्यादा फायदा मिलता है। पोस्ट ऑफिस में 1 साल से 5 साल तक का टाइम डिपॉजिट अकाउंट खुलवाया जा सकता है। यह अकाउंट मिनिमम 1000 रुपए से खुलवाया जा सकता है। इस स्कीम में  मैक्सिमम जमा राशि की कोई लिमिट नहीं है।
(फाइल फोटो)
 

क्या है ब्याज दर
पोस्‍ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट (TD) स्कीम में मौजूदा ब्याज दर 5.5 फीसदी से 6.7 फीसदी सालाना तक है। टाइम डिपॉजिट स्कीम में सिंगल के साथ जॉइंट खाता भी खुलवाया जा सकता है। इसमें 10 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे या दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी खाता खोला जा सकता है।
(फाइल फोटो)

क्या है ब्याज दर
पोस्‍ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट (TD) स्कीम में मौजूदा ब्याज दर 5.5 फीसदी से 6.7 फीसदी सालाना तक है। टाइम डिपॉजिट स्कीम में सिंगल के साथ जॉइंट खाता भी खुलवाया जा सकता है। इसमें 10 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे या दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी खाता खोला जा सकता है।
(फाइल फोटो)

प्रीमेच्योर इनकैशमेंट
पोस्‍ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट (TD) स्कीम में 6 महीने पूरे होने से पहले प्रीमेच्योर इनकैशमेंट नहीं हो सकता है। 6 महीने के बाद से लेकर अकाउंट के 12 महीने पूरे होने तक अगर टाइम डिपॉजिट अकाउंट को बंद कराया जाता है तो पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट की ब्याज दर लागू होगी। 5 साल की पोस्‍ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट में निवेश करने पर इनकम टैक्स कानून की धारा 80 सी के तहत टैक्स से छूट मिलती है।
(फाइल फोटो)
 

प्रीमेच्योर इनकैशमेंट
पोस्‍ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट (TD) स्कीम में 6 महीने पूरे होने से पहले प्रीमेच्योर इनकैशमेंट नहीं हो सकता है। 6 महीने के बाद से लेकर अकाउंट के 12 महीने पूरे होने तक अगर टाइम डिपॉजिट अकाउंट को बंद कराया जाता है तो पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट की ब्याज दर लागू होगी। 5 साल की पोस्‍ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट में निवेश करने पर इनकम टैक्स कानून की धारा 80 सी के तहत टैक्स से छूट मिलती है।
(फाइल फोटो)
 

दूसरी सुविधाएं
पोस्‍ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट अकाउंट में नॉमिनेशन की सुविधा, अकाउंट एक पोस्‍ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर कराने की सुविधा, एक ही पोस्‍ट ऑफिस में कई टाइम डिपॉजिट अकाउंट खुलवाने की सुविधा और सिंगल अकाउंट को जॉइंट में या जॉइंट अकाउंट को सिंगल में बदलवाने की सुविधा मिलती है। इसके साथ ही अकाउंट को एक्सटेंड कराने की सुविधा और नेटबैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए ऑनलाइन अकाउंट खोलने की सुविधा भी उपलब्ध है।
(फाइल फोटो)
 

दूसरी सुविधाएं
पोस्‍ट ऑफिस के टाइम डिपॉजिट अकाउंट में नॉमिनेशन की सुविधा, अकाउंट एक पोस्‍ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर कराने की सुविधा, एक ही पोस्‍ट ऑफिस में कई टाइम डिपॉजिट अकाउंट खुलवाने की सुविधा और सिंगल अकाउंट को जॉइंट में या जॉइंट अकाउंट को सिंगल में बदलवाने की सुविधा मिलती है। इसके साथ ही अकाउंट को एक्सटेंड कराने की सुविधा और नेटबैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए ऑनलाइन अकाउंट खोलने की सुविधा भी उपलब्ध है।
(फाइल फोटो)
 

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट 
पोस्ट ऑफिस के नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) का मेच्योरिटी पीरियड 5 साल का है। इस पर मौजूदा सालाना ब्याज दर 6.8 फीसदी है। नेशनल सेविंग्स  स्कीम में मिनिमम 1000 रुपए से निवेश शुरू किया जा सकता है। इस स्कीम में निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। नेशनल सेविंग्स सर्टिपिकेट स्कीम में सिंगल या जॉइंट खाता खोला जा सकता है। इसमें 10 साल से ज्यादा उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी निवेश किया जा सकता है। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में किए गए निवेश पर इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स छूट मिलती है। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट जारी होने से मेच्योरिटी डेट के बीच एक बार एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के नाम पर ट्रांसफर भी किया जा सकता है।
(फाइल फोटो)
 

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट 
पोस्ट ऑफिस के नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) का मेच्योरिटी पीरियड 5 साल का है। इस पर मौजूदा सालाना ब्याज दर 6.8 फीसदी है। नेशनल सेविंग्स  स्कीम में मिनिमम 1000 रुपए से निवेश शुरू किया जा सकता है। इस स्कीम में निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। नेशनल सेविंग्स सर्टिपिकेट स्कीम में सिंगल या जॉइंट खाता खोला जा सकता है। इसमें 10 साल से ज्यादा उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी निवेश किया जा सकता है। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में किए गए निवेश पर इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स छूट मिलती है। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट जारी होने से मेच्योरिटी डेट के बीच एक बार एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के नाम पर ट्रांसफर भी किया जा सकता है।
(फाइल फोटो)
 

मंथली इनकम स्‍कीम 
पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (MIS) का मेच्‍योरिटी पीरियड 5 साल है। इस पर मौजूदा ब्याज दर 6.6 फीसदी सालाना है। इसका भुगतान हर महीने किया जाता है। पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में मिनिमम 1000 रुपए से अकाउंट खोला जा सकता है। मैक्सिमम इन्वेस्टमेंट लिमिट सिंगल अकाउंट के लिए 4.5 लाख रुपए और जॉइंट अकाउंट के लिए 9 लाख रुपए है। अकाउंट को 10 साल से ज्यादा उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी खुलवाया जा सकता है। अगर कोई इस अकाउंट को मेच्योर होने के पहले बंद कराना चाहता है, तो ऐसा 1 साल पूरा होने के बाद ही किया जा सकता है।(फाइल फोटो)

मंथली इनकम स्‍कीम 
पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (MIS) का मेच्‍योरिटी पीरियड 5 साल है। इस पर मौजूदा ब्याज दर 6.6 फीसदी सालाना है। इसका भुगतान हर महीने किया जाता है। पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में मिनिमम 1000 रुपए से अकाउंट खोला जा सकता है। मैक्सिमम इन्वेस्टमेंट लिमिट सिंगल अकाउंट के लिए 4.5 लाख रुपए और जॉइंट अकाउंट के लिए 9 लाख रुपए है। अकाउंट को 10 साल से ज्यादा उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम पर भी खुलवाया जा सकता है। अगर कोई इस अकाउंट को मेच्योर होने के पहले बंद कराना चाहता है, तो ऐसा 1 साल पूरा होने के बाद ही किया जा सकता है।(फाइल फोटो)

खाता पहले बंद कराने पर लगती है पेनल्टी
पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (MIS) अकांउट के 3 साल पूरा होने से पहले प्रीमेच्‍योर इनकैशमेंट पर जमा राशि से 2 फीसदी काट लिया जाता है, वहीं  3 साल पूरे होने के बाद प्रीमेच्योर इनकैशमेंट पर डिपॉजिट का 1 फीसदी काटा जाता है। पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम अकाउंट में नॉमिनेशन की सुविधा, अकाउंट को एक पोस्‍ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर कराने की सुविधा, एक ही पोस्‍ट ऑफिस में कई अकाउंट खुलवाने की सुविधा, सिंगल अकाउंट को जॉइंट और जॉइंट अकाउंट को सिंगल में बदलवाने की सुविधा उपलब्ध है।
(फाइल फोटो)

खाता पहले बंद कराने पर लगती है पेनल्टी
पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (MIS) अकांउट के 3 साल पूरा होने से पहले प्रीमेच्‍योर इनकैशमेंट पर जमा राशि से 2 फीसदी काट लिया जाता है, वहीं  3 साल पूरे होने के बाद प्रीमेच्योर इनकैशमेंट पर डिपॉजिट का 1 फीसदी काटा जाता है। पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम अकाउंट में नॉमिनेशन की सुविधा, अकाउंट को एक पोस्‍ट ऑफिस से दूसरे में ट्रांसफर कराने की सुविधा, एक ही पोस्‍ट ऑफिस में कई अकाउंट खुलवाने की सुविधा, सिंगल अकाउंट को जॉइंट और जॉइंट अकाउंट को सिंगल में बदलवाने की सुविधा उपलब्ध है।
(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios