Asianet News Hindi

अमिताभ बच्चन के बचपन का रोल करने वाला चाइल्ड आर्टिस्ट दिखने लगा ऐसा, फिल्म नहीं यहां से कमा रहा करोड़ों

First Published May 11, 2021, 5:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. बॉलीवुड इंडस्ट्री में ऐसे कई स्टार्स रहे हैं जिन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट अपने करियर की शुरुआत की। हालांकि, जब मौका फिल्मों में लीड रोल प्ले करने का आया तो ये चाइल्ड आर्टिस्ट उतना दमखम नहीं दिखा पाए। आज आपको 70-80 के दशक के उस चाइल्ड आर्टिस्ट के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने फिल्मों में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के बचपन का रोल कर खूब वाहवाही लूटी। इतना ही नहीं इस शख्स को जूनियर अमिताभ बच्चन के नाम भी जाना जाने लगे था। इस एक्टर का नाम मयूर राज वर्मा (Mayur Raj Verma) है। इनकी पॉपुलैरिटी कुछ ऐसी थी कि यह अपने दौर के हाईएस्ट पेड चाइल्ड आर्टिस्ट में से एक थे।

मयूर ने 70 और 80 के उस दशक में अमिताभ बच्चन की कई फिल्मों में उनके बचपन का किरदार निभाया और खूब नाम कमाया। उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट कई फिल्मों में काम किया। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत अमिताभ बच्चन की फिल्म मुकद्दर का सिकंदर से ही की थी।

मयूर ने 70 और 80 के उस दशक में अमिताभ बच्चन की कई फिल्मों में उनके बचपन का किरदार निभाया और खूब नाम कमाया। उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट कई फिल्मों में काम किया। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत अमिताभ बच्चन की फिल्म मुकद्दर का सिकंदर से ही की थी।

पहली ही फिल्म ने मयूर को रातोंरात स्टार बना दिया था। छोटे अमिताभ बनकर वे काफी फेमस हुए। फिल्म मुकद्दर का सिकंदर के बाद अमिताभ की हर फिल्म के लिए मयूर को साइन किया जाने लगा।

पहली ही फिल्म ने मयूर को रातोंरात स्टार बना दिया था। छोटे अमिताभ बनकर वे काफी फेमस हुए। फिल्म मुकद्दर का सिकंदर के बाद अमिताभ की हर फिल्म के लिए मयूर को साइन किया जाने लगा।

मयूर फिल्मों में अपना काम बहुत ही गंभीरता से करते थे। और यहीं वजह थी कि लोगों में काफी फेमस हुए। उन्होंने सात साल बाद, लावारिस, ये रास्ते हैं प्यार के, लव इ गोवा, सौगंध, राजू चाचा, दुल्हन हम ले जाएंगे, एक रिश्ता, अंश, कुछ खट्टी कुठ मीठी, ऊंची उड़ान जैसी फिल्मों में काम किया।

मयूर फिल्मों में अपना काम बहुत ही गंभीरता से करते थे। और यहीं वजह थी कि लोगों में काफी फेमस हुए। उन्होंने सात साल बाद, लावारिस, ये रास्ते हैं प्यार के, लव इ गोवा, सौगंध, राजू चाचा, दुल्हन हम ले जाएंगे, एक रिश्ता, अंश, कुछ खट्टी कुठ मीठी, ऊंची उड़ान जैसी फिल्मों में काम किया।

फिल्मों के साथ मयूर ने बीआर चोपड़ा के पॉपुलर टीवी शो महाभारत में भी काम कियाा। इस सीरियल में मयूर ने अर्जुन के बेटे अभिमन्यु का किरदार निभाया था।

फिल्मों के साथ मयूर ने बीआर चोपड़ा के पॉपुलर टीवी शो महाभारत में भी काम कियाा। इस सीरियल में मयूर ने अर्जुन के बेटे अभिमन्यु का किरदार निभाया था।

अभिमन्यु के काम को काफी सराहा गया था। मयूर उन कलाकारों में शुमार हैं जो इतने सफल शो का हिस्सा होकर भी इंडस्ट्री में सक्रिय नहीं हो पाए। इस शो के बाद उन्हें किसी बड़े प्रोजेक्ट में काम करना का मौका नहीं मिला।

अभिमन्यु के काम को काफी सराहा गया था। मयूर उन कलाकारों में शुमार हैं जो इतने सफल शो का हिस्सा होकर भी इंडस्ट्री में सक्रिय नहीं हो पाए। इस शो के बाद उन्हें किसी बड़े प्रोजेक्ट में काम करना का मौका नहीं मिला।

महाभारत के बाद मयूर छोटे और बड़े पर्दे से पूरी तरह से दूर हो गए। रिपोर्ट्स की मानें तो मयूर वेल्स में पत्नी के साथ इंडियाना नाम का एक रेस्त्रां चलाते हैं और इसके जरिए करोड़ों की कमाई करते हैं। बता दें कि उन्होंने 2007 में ही इंडिया छोड़ दिया था। 

महाभारत के बाद मयूर छोटे और बड़े पर्दे से पूरी तरह से दूर हो गए। रिपोर्ट्स की मानें तो मयूर वेल्स में पत्नी के साथ इंडियाना नाम का एक रेस्त्रां चलाते हैं और इसके जरिए करोड़ों की कमाई करते हैं। बता दें कि उन्होंने 2007 में ही इंडिया छोड़ दिया था। 

मयूर की पत्नी नूरी जानीमानी शेफ हैं। नूरी और मयूर के दो बच्चे हैं। इसके अलावा मयूर वेल्स के लोगों को बॉलीवुड से रूबरू करवाते हैं और इसके लिए वे वर्कशॉप और एक्टिंग क्लास भी चलाते हैं। अमेरिका में मयूर का कारोबार करोड़ों का है।

मयूर की पत्नी नूरी जानीमानी शेफ हैं। नूरी और मयूर के दो बच्चे हैं। इसके अलावा मयूर वेल्स के लोगों को बॉलीवुड से रूबरू करवाते हैं और इसके लिए वे वर्कशॉप और एक्टिंग क्लास भी चलाते हैं। अमेरिका में मयूर का कारोबार करोड़ों का है।

रिपोर्ट्स की मानें तो मयूर की मां चाहती थी कि उनका बेटा एक्टर बने। वे हर मुमकिन बेटे को फिल्म दिलाने की कोशिश में रहती थी। वे एक जर्नलिस्ट थी और अक्सर फिल्मी दुनिया से जुड़े लोगों का इंटरव्यू लेती थी। इंटरव्यू के दौरान वे प्रोड्यूसर और डायरेक्टर को अपने बेटे की फोटोज जरूर दिखाती थी। 

रिपोर्ट्स की मानें तो मयूर की मां चाहती थी कि उनका बेटा एक्टर बने। वे हर मुमकिन बेटे को फिल्म दिलाने की कोशिश में रहती थी। वे एक जर्नलिस्ट थी और अक्सर फिल्मी दुनिया से जुड़े लोगों का इंटरव्यू लेती थी। इंटरव्यू के दौरान वे प्रोड्यूसर और डायरेक्टर को अपने बेटे की फोटोज जरूर दिखाती थी। 

एक बार उन्होंने डायरेक्टर प्रकाश मेहरा का इंटरव्यू किया। इंटरव्यू के दौरान उन्होंने अपने बेटे की फोटोज प्रकाश मेहता दो दिखाई। और यहीं से मयूर की किस्मत खुल गई और प्रकाश मेहरा ने मयूर को फिल्म मुकद्दर का सिकंदर के लिए साइन कर लिया। 

एक बार उन्होंने डायरेक्टर प्रकाश मेहरा का इंटरव्यू किया। इंटरव्यू के दौरान उन्होंने अपने बेटे की फोटोज प्रकाश मेहता दो दिखाई। और यहीं से मयूर की किस्मत खुल गई और प्रकाश मेहरा ने मयूर को फिल्म मुकद्दर का सिकंदर के लिए साइन कर लिया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios