इस पूर्व ओपनर ने बताया, जब कोहली ने पाक गेंदबाजों के खिलाफ की थी रनों की बारिश; वो थी उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी

First Published 1, Aug 2020, 6:51 PM

स्पोर्ट्स डेस्क. भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने विराट कोहली की सर्वश्रेष्ठ पारी के बारे में अपनी राय रखी है। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ 2012 एशिया कप में खेली गई 183 रनों की पारी को तीनों प्रारूपों में भारतीय कप्तान विराट कोहली की सबसे शानदार पारी करार दिया। इस मैच में विराट कोहली ने पाक गेंदबाजों के खिलाफ रनों की बारिश कर दी थी। पाक टीम में एक भी ऐसा गेंदबाज नहीं था जो कोहली के रनों के तूफ़ान को रोक सका हो।
 

<p>पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम में बताया कि ढाका में पाक के खिलाफ जीत के लिए 330 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिए कोहली ने धमाकेदार बल्लेबाजी की थी।</p>

पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम में बताया कि ढाका में पाक के खिलाफ जीत के लिए 330 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के लिए कोहली ने धमाकेदार बल्लेबाजी की थी।

<p>उन्होंने बताया कि विराट कोहली ने 148 गेंदों की पारी में 22 चौके और एक छक्के की मदद से 183 रन बनाकर भारत को 6 विकेट से जीत दिलाई थी। इस मैच में खाता खोलने में नाकाम रहे गंभीर ने कहा,‘विराट कोहली ने तीनों प्रारूपों में कई अविश्वसनीय पारियां खेली हैं, लेकिन उनकी ये पारी हर दृष्टिकोण से उनकी सबसे शानदार पारी है।’<br />
 </p>

उन्होंने बताया कि विराट कोहली ने 148 गेंदों की पारी में 22 चौके और एक छक्के की मदद से 183 रन बनाकर भारत को 6 विकेट से जीत दिलाई थी। इस मैच में खाता खोलने में नाकाम रहे गंभीर ने कहा,‘विराट कोहली ने तीनों प्रारूपों में कई अविश्वसनीय पारियां खेली हैं, लेकिन उनकी ये पारी हर दृष्टिकोण से उनकी सबसे शानदार पारी है।’
 

<p>स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम ‘ बेस्ट ऑफ एशिया कप वॉच एलॉन्ग’ में गंभीर ने कहा, ‘हम 330 का पीछा कर रहे थे और भारतीय टीम ने खाता खोले बगैर विकेट गंवा दिया था। उस समय विराट इतने अनुभवी भी नहीं थे और फिर 330 में से अकेले 183 रन बनाना बेहद खास था। ’</p>

स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम ‘ बेस्ट ऑफ एशिया कप वॉच एलॉन्ग’ में गंभीर ने कहा, ‘हम 330 का पीछा कर रहे थे और भारतीय टीम ने खाता खोले बगैर विकेट गंवा दिया था। उस समय विराट इतने अनुभवी भी नहीं थे और फिर 330 में से अकेले 183 रन बनाना बेहद खास था। ’

<p>उस मैच में पाकिस्तान के पास मोहम्मद हफीज, उमर गुल, एजाज चीमा, सईद अजमल, शाहिद आफरीदी और वहाब रियाज जैसे अनुभवी गेंदबाज थे।<br />
 </p>

उस मैच में पाकिस्तान के पास मोहम्मद हफीज, उमर गुल, एजाज चीमा, सईद अजमल, शाहिद आफरीदी और वहाब रियाज जैसे अनुभवी गेंदबाज थे।
 

<p>कोहली ने पाकिस्तानी आक्रमण की घज्जियां उड़ा दी थीं।’ गंभीर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि शायद यह (183) विराट कोहली की सबसे बड़ी पारी है।’<br />
 </p>

कोहली ने पाकिस्तानी आक्रमण की घज्जियां उड़ा दी थीं।’ गंभीर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि शायद यह (183) विराट कोहली की सबसे बड़ी पारी है।’
 

loader