Asianet News Hindi

इस बल्लेबाज को 10 साल में एक बार भी आउट नहीं कर पाए शोएब अख्तर, आज भी करते हैं अफसोस

First Published May 26, 2020, 4:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क। पाकिस्तान की टीम से टेस्ट और वनडे मैच खलेनवाले शोएब अख्तर दुनिया के ऐसे तूफानी शुमार रहे जिनके आगे अच्छे-अच्छे बैट्समैन परेशान रहते थे। करियर में शोएब ने दुनियाभर के चोटी के बल्लेबाजों को कई बार अपना शिकार भी बनाया। लेकिन एक बल्लेबाज ऐसा भी है जिसे अख्तर 10 साल में एक बार भी आउट नहीं कर पाए। 161.3 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से सबसे तेज गेंद डाल चुके 'रावलपिंडी एक्सप्रेस' को आज भी इस बात का अफसोस है। 

कौन था वो बल्लेबाज?
वो बल्लेबाज कोई और नहीं शोएब अख्तर के साथ क्रिकेट खेलने वाले दिग्गज इंजमाम-उल-हक थे। ईएसपीएन क्रिकइंफो वीडियोकास्ट में शोएब ने कहा कि वो इंजमाम दूसरे बल्लेबाजों की तुलना में उनकी गेंदों को चंद सेकेंड पहले ही पढ़ लेते थे। 

कौन था वो बल्लेबाज?
वो बल्लेबाज कोई और नहीं शोएब अख्तर के साथ क्रिकेट खेलने वाले दिग्गज इंजमाम-उल-हक थे। ईएसपीएन क्रिकइंफो वीडियोकास्ट में शोएब ने कहा कि वो इंजमाम दूसरे बल्लेबाजों की तुलना में उनकी गेंदों को चंद सेकेंड पहले ही पढ़ लेते थे। 

10 साल में एक बार भी नहीं कर पाए आउट 
शोएब ने कहा, "मैं ईमानदारी से कहूं तो वह इंजमाम-उल-हक हैं। ब्रेट ली से अलग मेरा एक्शन काफी जटिल है। मगर मैं उन्हें (इंजमाम को) कभी बोल्ड नहीं कर पाया। 10 साल मैंने नेट्स पर उनको गेंद डाली मगर कभी आउट नहीं कर पाया। मुझे लगता है कि दूसरे बल्लेबाजों से पहले वह (इंजमाम) मेरी गेंद को ही पढ़ लेते थे।''

10 साल में एक बार भी नहीं कर पाए आउट 
शोएब ने कहा, "मैं ईमानदारी से कहूं तो वह इंजमाम-उल-हक हैं। ब्रेट ली से अलग मेरा एक्शन काफी जटिल है। मगर मैं उन्हें (इंजमाम को) कभी बोल्ड नहीं कर पाया। 10 साल मैंने नेट्स पर उनको गेंद डाली मगर कभी आउट नहीं कर पाया। मुझे लगता है कि दूसरे बल्लेबाजों से पहले वह (इंजमाम) मेरी गेंद को ही पढ़ लेते थे।''

द्रविड़ की तारीफ की
शोएब अख्तर ने अपने कई समकालीन बल्लेबाजों की तारीफ की। मार्टिन क्रो और द वाल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ को लेकर कहा, "मार्टिन क्रो ने मुझे अच्छा खेला है। वह जादूगर थे और बहुत एलिगेंट थे। भारतीय बल्लेबाजों में राहुल द्रविड़ काफी शानदार बल्लेबाज थे। जब तक वह खुद मुझे मौका नहीं देते मैं उनका डिफेंस नहीं तोड़ सकता था।" शोएब की नजर में दक्षिण अफ्रीका के जैक कैलिस बेस्ट ऑलराउंडर रहे। 

द्रविड़ की तारीफ की
शोएब अख्तर ने अपने कई समकालीन बल्लेबाजों की तारीफ की। मार्टिन क्रो और द वाल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ को लेकर कहा, "मार्टिन क्रो ने मुझे अच्छा खेला है। वह जादूगर थे और बहुत एलिगेंट थे। भारतीय बल्लेबाजों में राहुल द्रविड़ काफी शानदार बल्लेबाज थे। जब तक वह खुद मुझे मौका नहीं देते मैं उनका डिफेंस नहीं तोड़ सकता था।" शोएब की नजर में दक्षिण अफ्रीका के जैक कैलिस बेस्ट ऑलराउंडर रहे। 

देरी से खोज पाए सहवाग की काट 
शोएब ने वीरेंद्र सहवाग को लेकर कहा, ''मैंने उन्हें शुरू-शुरू में कम गेंदबाजी की। मुझे दूर जाती गेंद फेंकनी चाहिए थी। जब मैंने यह किया वह मेरे खिलाफ ज्यादा रन नहीं बना पाए। इसके बाद मैंने कई मौकों पर उन्हें बोल्ड किया।"

देरी से खोज पाए सहवाग की काट 
शोएब ने वीरेंद्र सहवाग को लेकर कहा, ''मैंने उन्हें शुरू-शुरू में कम गेंदबाजी की। मुझे दूर जाती गेंद फेंकनी चाहिए थी। जब मैंने यह किया वह मेरे खिलाफ ज्यादा रन नहीं बना पाए। इसके बाद मैंने कई मौकों पर उन्हें बोल्ड किया।"

शोएब और ली में जबरदस्त कंपटीशन 
शोएब और ऑस्ट्रेलियाई पेसर ब्रैट ली में जबरदस्त कंपटीशन रहा। दोनों क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज और खतरनाक गेंदबाज रहे।

शोएब और ली में जबरदस्त कंपटीशन 
शोएब और ऑस्ट्रेलियाई पेसर ब्रैट ली में जबरदस्त कंपटीशन रहा। दोनों क्रिकेट इतिहास के सबसे तेज और खतरनाक गेंदबाज रहे।

हालांकि चोटों की वजह से अख्तर का करियर ज्यादा लंबा नहीं चल पाया। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 178 टेस्ट और 247 एकदिवसीय विकेट हासिल किए। शोएब भारत में आईपीएल मैच भी खेल चुके हैं। 

हालांकि चोटों की वजह से अख्तर का करियर ज्यादा लंबा नहीं चल पाया। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 178 टेस्ट और 247 एकदिवसीय विकेट हासिल किए। शोएब भारत में आईपीएल मैच भी खेल चुके हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios