Asianet News Hindi

कांग्रेस ने रेल की पटरी पर जूठन खाते मजदूर का पुराना वीडियो शेयर कर PM पर कसा तंज, ऐसे खुली पोल

First Published May 18, 2020, 4:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कांग्रेस पार्टी ने हाल ही में अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल से दो वीडियोज़ का एक सेट शेयर किया है। इसमें से एक वीडियो में एक शख्स रेलवे की पटरी पर से उठाकर जूठन खा रहा है। ये काफी दर्दनाक और हिला देने वाला वीडियो है जिसमें गरीब को पेट भरने के लिए गंदगी में से खाना उठाकर खाना पड़ रहा है। कांग्रेस ने इन दोनों वीडियोज़ को इस तरह से शेयर किया है जैसे वो दोनों हाल ही में रिकॉर्ड की गयी हो, जबकि ऐसा नहीं है।  

 

फैक्ट चेकिंग में आइए जांच करते हैं कि कांग्रेस जिस वीडियो को हाल का बता रही है उसकी सच्चाई क्या है? क्या लॉकडाउन के बीच इस गरीब शख्स को रेलवे की पटरी से जूठन उठाकर खाना पड़ा। 

ये ट्वीट ऐसे समय पर शेयर किया गया है जब देशभर से अपने घरों को वापस लौटते प्रवासी मज़दूर भूख और लाचारी की दोहरी मार झेल रहे हैं। दोनों वीडियो दो अलग अलग कैप्शन के साथ शेयर की गयी हैं। जहां विचलित कर देने वाले पहले वीडियो में आप एक गरीब व्यक्ति को रेल की पटरियों पर से जूठन उठा कर खाते देख सकते हैं, वहीं दूसरे वीडियो में कांग्रेस के कार्यकर्ता ज़रूरतमंद लोगों को खाने के पैकेट्स बांटते नज़र आते हैं।

ये ट्वीट ऐसे समय पर शेयर किया गया है जब देशभर से अपने घरों को वापस लौटते प्रवासी मज़दूर भूख और लाचारी की दोहरी मार झेल रहे हैं। दोनों वीडियो दो अलग अलग कैप्शन के साथ शेयर की गयी हैं। जहां विचलित कर देने वाले पहले वीडियो में आप एक गरीब व्यक्ति को रेल की पटरियों पर से जूठन उठा कर खाते देख सकते हैं, वहीं दूसरे वीडियो में कांग्रेस के कार्यकर्ता ज़रूरतमंद लोगों को खाने के पैकेट्स बांटते नज़र आते हैं।

पोस्ट क्या है? 

 

पहले वीडियो के साथ लिखा कैप्शन कहता है 'भाजपा: गरीबों को दाने-दाने के लिए तरसाती है' वहीँ दूसरे वीडियो के साथ लिखा कैप्शन कुछ इस प्रकार है 'कांग्रेस: गरीबों को खाना खिलाती है' | इन दोनों वीडियोज़ को इस कैप्शन के साथ ट्वीट किया गया है 'फर्क- मानवता का। भाजपा ने कोरोना संकट के दौरान खाने के लिए तरसते गरीब देशवासियों से मुंह मोड़ लिया, जबकि कांग्रेस ने संकट की इस घड़ी में देशवासियों के लिए अपने कार्यालयों को "रसोई" बना दिया।'

पोस्ट क्या है? 

 

पहले वीडियो के साथ लिखा कैप्शन कहता है 'भाजपा: गरीबों को दाने-दाने के लिए तरसाती है' वहीँ दूसरे वीडियो के साथ लिखा कैप्शन कुछ इस प्रकार है 'कांग्रेस: गरीबों को खाना खिलाती है' | इन दोनों वीडियोज़ को इस कैप्शन के साथ ट्वीट किया गया है 'फर्क- मानवता का। भाजपा ने कोरोना संकट के दौरान खाने के लिए तरसते गरीब देशवासियों से मुंह मोड़ लिया, जबकि कांग्रेस ने संकट की इस घड़ी में देशवासियों के लिए अपने कार्यालयों को "रसोई" बना दिया।'

क्या दावा किया जा रहा है?
 

 

दरअसल इन वीडियोज के साथ दावा किया जा रहा है कि रेलवे की पटरी पर खाना खाते मजदूर का वीडियो हाल में लागू हुए लॉकडाउन के दौरान का है। कांग्रेस आरोप लगा रही है कि ये बीजेपी सरकार के राज में हो रहा है जब लॉकडाउन में किसी मजदूर को पटरी से झूठा खाना उठाकर खाना पड़ रहा है। 

क्या दावा किया जा रहा है?
 

 

दरअसल इन वीडियोज के साथ दावा किया जा रहा है कि रेलवे की पटरी पर खाना खाते मजदूर का वीडियो हाल में लागू हुए लॉकडाउन के दौरान का है। कांग्रेस आरोप लगा रही है कि ये बीजेपी सरकार के राज में हो रहा है जब लॉकडाउन में किसी मजदूर को पटरी से झूठा खाना उठाकर खाना पड़ रहा है।