ईद के लिए मुस्लिम महिला ने कर दी सुपरमार्केट की सफाई, बुर्के से निकला ढेरों सामान, जानें कहां का है मामला?

First Published 20, May 2020, 12:28 PM

नई दिल्ली. रमजान का महीना चल रहा है और 23-24 मई को ईद होनी है। हालांकि लॉकडाउन के कारण लोग घरों में कैद हैं  ऐसे में सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। बुर्का पहने हुए दो महिलाओं का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें दोनों महिलाएं किसी सुपरमार्केट में अपने कपड़ों में छुपाया हुआ सामान निकाल कर बाहर रख रही हैं। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि ये औरतें रमजान के दौरान ‘इफ्तार’ के लिए खाने-पीने का सामान चुरा रही थीं। वीडियो में दोनों महिलाओं को कुछ पुरुषों ने घेर रखा है और ऐसा लग रहा है कि उन्हें सुपरमार्केट से सामान चोरी करते हुए पकड़ा गया है।
 

फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है और ये कहां का मामला है?

<p>सोशल मीडिया पर लोग रमजान के महीने में मुस्लिम महिलाओं की चोरी के दावे के साथ इस वीडियो को वायरल हो रहे हैं। दावा ये है कि ये लॉकडाउन के दौरान वर्तमान का वीडियो है। बाजार बंद हैं ऐसे में इन दावों पर सवाल उठना लाजिमी है।&nbsp;</p>

सोशल मीडिया पर लोग रमजान के महीने में मुस्लिम महिलाओं की चोरी के दावे के साथ इस वीडियो को वायरल हो रहे हैं। दावा ये है कि ये लॉकडाउन के दौरान वर्तमान का वीडियो है। बाजार बंद हैं ऐसे में इन दावों पर सवाल उठना लाजिमी है। 

<p><strong>वायरल पोस्ट क्या है?&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>इस वीडियो को शेयर करते हुए इसके साथ तंज किया गया है, “रमज़ान चल रहे है रोज़ा अफ्तारी के लिए कुछ सामान लिया था काफिरों ने बुर्खे में से भी निकलबा लिया।” इस पोस्ट से ऐसा संदेश जा रहा है कि यह वीडियो हाल ही में रमजान के दौरान का है।</p>

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

इस वीडियो को शेयर करते हुए इसके साथ तंज किया गया है, “रमज़ान चल रहे है रोज़ा अफ्तारी के लिए कुछ सामान लिया था काफिरों ने बुर्खे में से भी निकलबा लिया।” इस पोस्ट से ऐसा संदेश जा रहा है कि यह वीडियो हाल ही में रमजान के दौरान का है।

<p>इस वीडियो को काफी शेयर किया जा रहा है, फेसबुक ट्विटर सब जगह ये वीडियो वायरल है। हालांकि वीडियो में कहीं भी ये नहीं बताया गया है कि ये मामला कहां का है और वीडियो में मौजूद महिलाएं से जुड़ी भी कोई जानकारी नहीं दी गई है।</p>

इस वीडियो को काफी शेयर किया जा रहा है, फेसबुक ट्विटर सब जगह ये वीडियो वायरल है। हालांकि वीडियो में कहीं भी ये नहीं बताया गया है कि ये मामला कहां का है और वीडियो में मौजूद महिलाएं से जुड़ी भी कोई जानकारी नहीं दी गई है।

<p><strong>फैक्ट चेकिंग</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>muslim Woman stealing stuff in mall की-वर्ड्स की मदद से सर्च करने पर हमने पाया कि इस वीडियो से संबंधित कई खबरें नेट पर मौजूद हैं। “The Sun” की खबर के मुताबिक, यह घटना पूर्वी लंदन के डेगनहम में एक एस्डा स्टोर में हुई, जहां बुर्का पहने हुए दो महिलाओं को चोरी करते हुए पकड़ा गया था। यह रिपोर्ट 7 अगस्त, 2019 को छपी थी। &nbsp;लंदन के एक स्थानीय समाचार पत्र "इवनिंग स्टैंडर्ड" ने भी पिछले साल अगस्त में हुई घटना के बारे में खबर प्रकाशित की थी। हमने पाया कि इसी तरह का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर इसी दावे के साथ वायरल हो रहा है। इस वीडियो में दिख रहा है कि बुर्का पहले हुए दो महिलाएं अपने कपड़े से चॉकलेट और अन्य सामान निकाल कर बाहर रख रही हैं। ऐसा लग रहा है कि यह वीडियो किसी दूसरे सुपरमार्केट का है।<br />
&nbsp;</p>

फैक्ट चेकिंग

 

muslim Woman stealing stuff in mall की-वर्ड्स की मदद से सर्च करने पर हमने पाया कि इस वीडियो से संबंधित कई खबरें नेट पर मौजूद हैं। “The Sun” की खबर के मुताबिक, यह घटना पूर्वी लंदन के डेगनहम में एक एस्डा स्टोर में हुई, जहां बुर्का पहने हुए दो महिलाओं को चोरी करते हुए पकड़ा गया था। यह रिपोर्ट 7 अगस्त, 2019 को छपी थी।  लंदन के एक स्थानीय समाचार पत्र "इवनिंग स्टैंडर्ड" ने भी पिछले साल अगस्त में हुई घटना के बारे में खबर प्रकाशित की थी। हमने पाया कि इसी तरह का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर इसी दावे के साथ वायरल हो रहा है। इस वीडियो में दिख रहा है कि बुर्का पहले हुए दो महिलाएं अपने कपड़े से चॉकलेट और अन्य सामान निकाल कर बाहर रख रही हैं। ऐसा लग रहा है कि यह वीडियो किसी दूसरे सुपरमार्केट का है।
 

<p><strong>सच क्या है?&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>वीडियो के साथ किया जा रहा दावा ​भ्रामक है। ये वीडियो पिछले अगस्त में लंदन में शूट किया गया था और इसका फिलहाल चल रहे रमजान के मौसम से कोई लेना-देना नहीं है। यह पोस्ट फेसबुक और ट्विटर पर वायरल है लोग झूठे दावे के साथ वीडियो को भारत का बता रहे हैं। वहीं लॉकडाउन में ये वीडियो किसी भी तरह वर्तमान समय का नहीं है।&nbsp;</p>

सच क्या है? 

 

वीडियो के साथ किया जा रहा दावा ​भ्रामक है। ये वीडियो पिछले अगस्त में लंदन में शूट किया गया था और इसका फिलहाल चल रहे रमजान के मौसम से कोई लेना-देना नहीं है। यह पोस्ट फेसबुक और ट्विटर पर वायरल है लोग झूठे दावे के साथ वीडियो को भारत का बता रहे हैं। वहीं लॉकडाउन में ये वीडियो किसी भी तरह वर्तमान समय का नहीं है। 

<p><strong>ये निकला नतीजा&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>हमें इस वीडियो के बारे ज्यादा कुछ पता नहीं चल सका लेकिन यह वीडियो भी पुराना है क्योंकि यह पिछले साल सितंबर से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पड़ताल से स्पष्ट है कि बुर्का पहने हुए ​महिलाओं द्वारा चोरी का पुराना है। मौजूदा रमजान से इसका कोई लेना-देना नहीं है।</p>

ये निकला नतीजा 

 

हमें इस वीडियो के बारे ज्यादा कुछ पता नहीं चल सका लेकिन यह वीडियो भी पुराना है क्योंकि यह पिछले साल सितंबर से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पड़ताल से स्पष्ट है कि बुर्का पहने हुए ​महिलाओं द्वारा चोरी का पुराना है। मौजूदा रमजान से इसका कोई लेना-देना नहीं है।

loader