Fact Check: धरती पर सबसे गहरे रंग की मॉडल ने गिनीज बुक में बनाया रिकॉर्ड? जानें आखिर क्या है सच

First Published 11, Jul 2020, 1:30 PM

फैक्ट चेक डेस्क.  Queen Of Dark Guinness World Records Fact Check: सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म- फेसबुक, ट्विटर, इंस्टा पर एक तस्वीर काफी वायरल हो रही है। इस तस्वीर के साथ लोग तारीफों के पुल बांध रहे हैं।  दावा है कि, ‘क्वीन ऑफ डार्क’ के नाम से मशहूर अमेरिकी मॉडल न्याकिम गैटवेच (Nyakim Gatwech) ने हाल में अपनी हैरतअंगेज सुंदरता के लिए ग्लैमर की दुनिया को आकर्षित किया है। दक्षिण सूडानी मूल की इस मॉडल ने इंटरनेट की दुनिया में भी खूब धूम मचाई। कुछ यूजर्स का दावा है कि गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में मॉडल का नाम “धरती पर अब तक की सबसे गहरे रंग की त्वचा” वाले इंसान के रूप में दर्ज किया गया है। 

 

फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

<p>कुछ वेबसाइट्स के मुताबिक, 27 वर्षीय न्याकिम अपने “खूबसूरत गहरे रंग के लिए​” काफी मशहूर हैं और उन्होंने इसी के दम पर खूब दौलत और शोहरत कमाई है। </p>

कुछ वेबसाइट्स के मुताबिक, 27 वर्षीय न्याकिम अपने “खूबसूरत गहरे रंग के लिए​” काफी मशहूर हैं और उन्होंने इसी के दम पर खूब दौलत और शोहरत कमाई है। 

<p><strong>वायरल पोस्ट क्या है? </strong></p>

<p> </p>

<p>वायरल पोस्ट में न्याकिम गैटवेच की तस्वीर के साथ अंग्रेजी में कैप्शन लिखा गया है, जिसका हिंदी अनुवाद है “यह काले पत्थर या ग्रेनाइट पर किया गया कोई आर्ट वर्क नहीं है। ये सूडानी मॉडल न्याकिम गैटवेच हैं। सबसे दुर्लभ ब्लैक ब्यूटी, धरती पर सबसे गहरे रंग की त्वचा के लिए उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है। उन्हें ‘क्वीन ऑफ डार्क’ के नाम से भी जाना जाता हैं।”</p>

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

वायरल पोस्ट में न्याकिम गैटवेच की तस्वीर के साथ अंग्रेजी में कैप्शन लिखा गया है, जिसका हिंदी अनुवाद है “यह काले पत्थर या ग्रेनाइट पर किया गया कोई आर्ट वर्क नहीं है। ये सूडानी मॉडल न्याकिम गैटवेच हैं। सबसे दुर्लभ ब्लैक ब्यूटी, धरती पर सबसे गहरे रंग की त्वचा के लिए उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ है। उन्हें ‘क्वीन ऑफ डार्क’ के नाम से भी जाना जाता हैं।”

<p><strong>क्या दावा किया गया है? </strong></p>

<p> </p>

<p>कई वेबसाइट्स और फेसबुक यूजर्स ने तो ऐसा ही दावा किया है। दावा है कि गहरे रंग के कारण इस मॉडल ने गिनीज बुक में वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज किया है। </p>

क्या दावा किया गया है? 

 

कई वेबसाइट्स और फेसबुक यूजर्स ने तो ऐसा ही दावा किया है। दावा है कि गहरे रंग के कारण इस मॉडल ने गिनीज बुक में वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज किया है। 

<p><strong>फैक्ट चेक</strong></p>

<p> </p>

<p>वायरल पोस्ट की जांच-पड़ताल में हमने पाया कि दावा गलत है। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने इस दावे को फर्जी बताते हुए इसे खारिज किया है. गिनीज बुक में त्वचा के रंग के लिए कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाता। वायरल पोस्ट की सच्चाई जानने के लिए हमने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की वेबसाइट पर ये खोजने की कोशिश की कि क्या इस पर डार्क स्किन के लिए कोई एंट्री हुई है। हमें वेबसाइट पर इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली। </p>

<p> </p>

<p>इसी सिलसिले में हमने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड का ट्विटर अकाउंट खंगाला। 28 अप्रैल, 2020 को ट्विटर हैंडल @iChopTweets के एक ट्वीट के जवाब में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की तरफ से इस दावे का खंडन किया गया है। संस्था की ओर से किए गए​ ट्वीट में कहा गया, “फेक न्यूज अलर्ट। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में स्किन टोन का रिकॉर्ड नहीं रखा जाता।”</p>

फैक्ट चेक

 

वायरल पोस्ट की जांच-पड़ताल में हमने पाया कि दावा गलत है। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने इस दावे को फर्जी बताते हुए इसे खारिज किया है. गिनीज बुक में त्वचा के रंग के लिए कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाता। वायरल पोस्ट की सच्चाई जानने के लिए हमने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की वेबसाइट पर ये खोजने की कोशिश की कि क्या इस पर डार्क स्किन के लिए कोई एंट्री हुई है। हमें वेबसाइट पर इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली। 

 

इसी सिलसिले में हमने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड का ट्विटर अकाउंट खंगाला। 28 अप्रैल, 2020 को ट्विटर हैंडल @iChopTweets के एक ट्वीट के जवाब में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की तरफ से इस दावे का खंडन किया गया है। संस्था की ओर से किए गए​ ट्वीट में कहा गया, “फेक न्यूज अलर्ट। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में स्किन टोन का रिकॉर्ड नहीं रखा जाता।”

<p><strong>सच क्या है? </strong></p>

<p><br />
बाद में ट्विटर हैंडल @iChopTweets ने इसी थ्रेड में जवाब देते हुए “गलत सूचना” के लिए माफी मांगी। इस यूजर ने ये भी दावा किया कि उसने वायरल “सूचना” के बारे में गैटवेच से संपर्क किया था। उसने गैटवेच से हुई कथित बातचीत का स्क्रीनशॉट भी पोस्ट किया।</p>

<p> </p>

सच क्या है? 


बाद में ट्विटर हैंडल @iChopTweets ने इसी थ्रेड में जवाब देते हुए “गलत सूचना” के लिए माफी मांगी। इस यूजर ने ये भी दावा किया कि उसने वायरल “सूचना” के बारे में गैटवेच से संपर्क किया था। उसने गैटवेच से हुई कथित बातचीत का स्क्रीनशॉट भी पोस्ट किया।

 

<p><strong>ये निकला नतीजा </strong></p>

<p> </p>

<p>जाहिर है कि इंटरनेशनल मॉडल न्याकिम गैटवेच के बारे में वायरल यह दावा गलत है कि उनका नाम धरती पर सबसे गहरे रंग की त्वचा के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है। गिनीज बुक में त्वचा के रंग का कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाता। हालांकि वो ‘क्वीन ऑफ डार्क’ के नाम से मशहूर हैं और अपने अंदाज और हॉटनेस के कारण काफी चर्चा में रहती हैं। न्याकिम अपनी डार्क स्किन वाली खूबसूरती के कारण सोशल मीडिया और ब्यूटी जगत में काफी फेमस हैं। इंस्टाग्राम पर उनके लाखों फैंस हैं। </p>

ये निकला नतीजा 

 

जाहिर है कि इंटरनेशनल मॉडल न्याकिम गैटवेच के बारे में वायरल यह दावा गलत है कि उनका नाम धरती पर सबसे गहरे रंग की त्वचा के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है। गिनीज बुक में त्वचा के रंग का कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाता। हालांकि वो ‘क्वीन ऑफ डार्क’ के नाम से मशहूर हैं और अपने अंदाज और हॉटनेस के कारण काफी चर्चा में रहती हैं। न्याकिम अपनी डार्क स्किन वाली खूबसूरती के कारण सोशल मीडिया और ब्यूटी जगत में काफी फेमस हैं। इंस्टाग्राम पर उनके लाखों फैंस हैं। 

loader