Asianet News Hindi

Fact Check: अयोध्या खुदाई में मिली जानकी, भगवान राम और हनुमान की मूर्ति? धड़ाधड़ हुई शेयर लेकिन सच कुछ और

First Published Jun 2, 2020, 8:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया पर एक फोटो तेजी से वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू होने के बाद खुदाई चल रही है। इसी कारण वहां खुदाई में  राम, लक्ष्मण और सीता की एक मूर्ति की मिली। मूर्ती की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसे लोग जय हनुमान और जय श्रीराम जैसे नारे के साथ शेयर कर रहे हैं। 

 

फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि आखिर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे दावे- अयोध्या में खुदाई करते समय राम, लक्ष्मण जानकी….जय बोलो हनुमान की मूर्ति पा गए…जय श्री राम का सच क्या है? 

अयोध्या में खुदाई के दौरान पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और अन्य सामानों के मिलने का जिक्र है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अयोध्या के राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे समतलीकरण के दौरान राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को कई पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और शिवलिंग मिले हैं। इस बीच लोग एक तस्वीर शेयर कर वायरल करने लगे। लोगों ने दावा किया कि माता जानकी, भगवान राम और लक्ष्मण की एक साथ वाली मूर्ति मिली है। पर फैक्ट चेक में इसकी सच्चाई कुछ और ही है। 

अयोध्या में खुदाई के दौरान पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और अन्य सामानों के मिलने का जिक्र है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अयोध्या के राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे समतलीकरण के दौरान राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को कई पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और शिवलिंग मिले हैं। इस बीच लोग एक तस्वीर शेयर कर वायरल करने लगे। लोगों ने दावा किया कि माता जानकी, भगवान राम और लक्ष्मण की एक साथ वाली मूर्ति मिली है। पर फैक्ट चेक में इसकी सच्चाई कुछ और ही है। 

क्या है वायरल पोस्ट में?

 

फेसबुक यूजर ‘टाइगर राजा फैन क्लब’ ने वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा है, हिंदी में इसे ऐसे पढ़ा जा सकता है, ”अयोध्या में खुदाई करते समय राम, लक्ष्मण जानकी….जय बोलो हनुमान की मूर्ति पा गए…जय श्री राम।” 

क्या है वायरल पोस्ट में?

 

फेसबुक यूजर ‘टाइगर राजा फैन क्लब’ ने वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा है, हिंदी में इसे ऐसे पढ़ा जा सकता है, ”अयोध्या में खुदाई करते समय राम, लक्ष्मण जानकी….जय बोलो हनुमान की मूर्ति पा गए…जय श्री राम।” 

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू हो चुका है जहां खुदाई में भगवान की मूर्ति मिली। इन तस्वीरों को देख लोग अभिभूत हो गए। तस्वीरें वायरल होने के बाद हमने इसकी जांच-पड़ताल की। 

 

पड़ताल किए जाने तक इस तस्वीर को चार सौ लोग शेयर कर चुके हैं, जबकि इसे पांच हजार से अधिक लोगों ने पसंद किया है।

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू हो चुका है जहां खुदाई में भगवान की मूर्ति मिली। इन तस्वीरों को देख लोग अभिभूत हो गए। तस्वीरें वायरल होने के बाद हमने इसकी जांच-पड़ताल की। 

 

पड़ताल किए जाने तक इस तस्वीर को चार सौ लोग शेयर कर चुके हैं, जबकि इसे पांच हजार से अधिक लोगों ने पसंद किया है।

फैक्ट चेकिंग

 

जांच-पड़ताल में हमने पाया कि लॉकडाउन के दौरान लोग पुरानी फोटोज को शेयर कर फर्जी दावे कर रहे हैं। जिस मूर्ति के अयोध्या में खुदाई के दौरान मिलने का दावा किया जा रहा है, वह झारखंड के एक गांव में मिली थी। गूगल करने पर हमें पुरानी न्यूज रिपोर्ट मिलीं। वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज किए जाने पर हमें पांच जनवरी 2019 को प्रकाशित एक आर्टिकल का लिंक मिला, जिसमें इस तस्वीर के साथ अन्य तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया है।

 

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘झारखंड के खूंटी जिले के भंडरा पंचायत के जिलिंग गांव में खुदाई के दौरान श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियां मिली।’ रिपोर्ट के मुताबिक, यहां से मूर्तियों के अलावा छोटे आकार का शंख, एक धूपदानी, धातु का बना बैल और अन्य सामान भी मिले। जिलिंगा गांव झारखंड के खूंटी जिले के भंडरा पंचायत में आता है।

फैक्ट चेकिंग

 

जांच-पड़ताल में हमने पाया कि लॉकडाउन के दौरान लोग पुरानी फोटोज को शेयर कर फर्जी दावे कर रहे हैं। जिस मूर्ति के अयोध्या में खुदाई के दौरान मिलने का दावा किया जा रहा है, वह झारखंड के एक गांव में मिली थी। गूगल करने पर हमें पुरानी न्यूज रिपोर्ट मिलीं। वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज किए जाने पर हमें पांच जनवरी 2019 को प्रकाशित एक आर्टिकल का लिंक मिला, जिसमें इस तस्वीर के साथ अन्य तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया है।

 

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘झारखंड के खूंटी जिले के भंडरा पंचायत के जिलिंग गांव में खुदाई के दौरान श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियां मिली।’ रिपोर्ट के मुताबिक, यहां से मूर्तियों के अलावा छोटे आकार का शंख, एक धूपदानी, धातु का बना बैल और अन्य सामान भी मिले। जिलिंगा गांव झारखंड के खूंटी जिले के भंडरा पंचायत में आता है।

सच क्या है? 

 

वायरल हो रही मूर्ती काफी पुरानी है और किसी भी हाल में अयोध्या से जुड़ी नहीं है, इससे पहले भी ये फोटो काफी वायरल हो चुकी है इसके साथ फर्जी दावे किए गए थे। हालांकि अयोध्या में मूर्तियां मिली हैं वहा राम मंदिर निर्माण के लिए ईंटे भी जुटाई गई हैं।

सच क्या है? 

 

वायरल हो रही मूर्ती काफी पुरानी है और किसी भी हाल में अयोध्या से जुड़ी नहीं है, इससे पहले भी ये फोटो काफी वायरल हो चुकी है इसके साथ फर्जी दावे किए गए थे। हालांकि अयोध्या में मूर्तियां मिली हैं वहा राम मंदिर निर्माण के लिए ईंटे भी जुटाई गई हैं।

ये निकला नतीजा 

 

अयोध्या में श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की मूर्ति मिलने के दावे के साथ वायरल हो रही पोस्ट फर्जी है। जिन मूर्तियों के अयोध्या में खुदाई के दौरान मिलने का दावा किया जा रहा है, वह पिछले साल झारखंड के एक गांव में जमीन समतलीकरण के दौरान मिली थीं। इस तस्वीर का अयोध्या से कोई लेना-देना नहीं है भ्रामक दावों के साथ पुरानी तस्वीर वायरल की जा रही है। 

ये निकला नतीजा 

 

अयोध्या में श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की मूर्ति मिलने के दावे के साथ वायरल हो रही पोस्ट फर्जी है। जिन मूर्तियों के अयोध्या में खुदाई के दौरान मिलने का दावा किया जा रहा है, वह पिछले साल झारखंड के एक गांव में जमीन समतलीकरण के दौरान मिली थीं। इस तस्वीर का अयोध्या से कोई लेना-देना नहीं है भ्रामक दावों के साथ पुरानी तस्वीर वायरल की जा रही है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios