गरीब मुसलमानों को रमज़ान गिफ्ट के साथ 500-500 रुपये बांट रही है सरकार, जानें पूरा मामला

First Published 18, May 2020, 6:16 PM

नई दिल्ली. पूरे देश में इस सयम कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन चल रहा है। लॉकडाउन मतलब लोग घरों में बंद रहे और बाहर बाजार दुकानें यातायात सब बंद है। 30 मई तक बढ़ाए गए इस लॉकडाउन में रमज़ान का त्यौहार भी चल रहा है। मुस्लिम समुदाय के लोग रोजा रख रहे हैं और कहीं भी ज्यादा लोगों को इकट्ठा होने की मनाही है। रमज़ान के बाद 24 मई को ईद मनाई जाएगी इस बीच सोशल मीडिया पर एक गुलाबी रंग के रमज़ान गिफ्ट की तस्वीर जमकर वायरल हो रही है। लोग इसे शेयर कर रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि तेलंगाना सरकार कोरोना वायरस संकट के बीच मुसलमानों को रमजान गिफ्ट बांट रही है।

 

फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि इस दावे में कितनी सच्चाई है? 

<p>सोशल मीडिया पर एक गुलाबी रंग के बैग की तस्वीर वायरल हो रही है जिस पर लिखा है, "ईद मुबारक, रमजान गिफ्ट, तेलंगाना सरकार।" लोग इस तस्वीर को धड़ाधड़ शेयर करके सवाल उठा रहे हैं वहीं अधिकतर लोग इससे जुड़ी जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं कि आखिर ये गिफ्ट मिल कहां रहे हैं?&nbsp;</p>

सोशल मीडिया पर एक गुलाबी रंग के बैग की तस्वीर वायरल हो रही है जिस पर लिखा है, "ईद मुबारक, रमजान गिफ्ट, तेलंगाना सरकार।" लोग इस तस्वीर को धड़ाधड़ शेयर करके सवाल उठा रहे हैं वहीं अधिकतर लोग इससे जुड़ी जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं कि आखिर ये गिफ्ट मिल कहां रहे हैं? 

<p><strong>वायरल पोस्ट क्या है?&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>सुदर्शन न्यूज के प्रमुख संपादक सुरेश चव्हाणके ने 11 मई को एक फोटो ट्वीट किया था। इसके साथ उन्होंने हिंदी में लिखा, “तेलंगाना सरकार मुसलमानों को रमज़ान कि स्पेशल किट फ्रि में दे रही है। हिन्दू के त्यौहार रामनवमी,हनुमान जयंती,उगादि पर घर से भी बाहर निकलना मना था।”</p>

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

सुदर्शन न्यूज के प्रमुख संपादक सुरेश चव्हाणके ने 11 मई को एक फोटो ट्वीट किया था। इसके साथ उन्होंने हिंदी में लिखा, “तेलंगाना सरकार मुसलमानों को रमज़ान कि स्पेशल किट फ्रि में दे रही है। हिन्दू के त्यौहार रामनवमी,हनुमान जयंती,उगादि पर घर से भी बाहर निकलना मना था।”

<p><strong>क्या दावा किया जा रहा है?&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि तेलंगाना सरकार कोरोना महामारी के बीच मुसलमानों को रमजान गिफ्ट बांट रही है। स्टोरी लिखे जाने तक चव्हाणके के ट्वीट को 25,000 से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं और 10,000 से ज्यादा लोगों ने रीट्वीट किया है। इसका आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है। यह पोस्ट फेसबुक पर भी वायरल हो रही है।&nbsp;</p>

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि तेलंगाना सरकार कोरोना महामारी के बीच मुसलमानों को रमजान गिफ्ट बांट रही है। स्टोरी लिखे जाने तक चव्हाणके के ट्वीट को 25,000 से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं और 10,000 से ज्यादा लोगों ने रीट्वीट किया है। इसका आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है। यह पोस्ट फेसबुक पर भी वायरल हो रही है। 

<p><strong>फैक्ट चेकिंग</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>रिवर्स इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि वायरल तस्वीर जुलाई, 2015 में “iChowk.in” के एक लेख में इस्तेमाल हुई थी। इस लेख के मुताबिक, रमजान के अवसर पर तेलंगाना सरकार की ओर से यह गिफ्ट पैक मुसलमानों को दिया गया था।</p>

फैक्ट चेकिंग

 

रिवर्स इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि वायरल तस्वीर जुलाई, 2015 में “iChowk.in” के एक लेख में इस्तेमाल हुई थी। इस लेख के मुताबिक, रमजान के अवसर पर तेलंगाना सरकार की ओर से यह गिफ्ट पैक मुसलमानों को दिया गया था।

<p>यही तस्वीर 2018 में “Sakshi Post” के एक लेख में इस्तेमाल हुई है। यह लेख भी तेलंगाना सरकार की द्वारा दिए गए रमजान गिफ्ट से ही संबंधित है। इससे यह साबित होता है कि तस्वीर पुरानी है और पिछले वर्षों में इसका प्रयोग कई बार किया जाता रहा है।</p>

यही तस्वीर 2018 में “Sakshi Post” के एक लेख में इस्तेमाल हुई है। यह लेख भी तेलंगाना सरकार की द्वारा दिए गए रमजान गिफ्ट से ही संबंधित है। इससे यह साबित होता है कि तस्वीर पुरानी है और पिछले वर्षों में इसका प्रयोग कई बार किया जाता रहा है।

<p><strong>सच क्या है?&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>दरअसल रमज़ान गिफ्ट की ये फोटो लॉकडाउन के दौरान की नहीं है बल्कि काफी साल पुरानी है। तस्वीर के साथ किया गया यह दावा भी भ्रामक है। 5 साल पुरानी फोटो तेलांगना की है वहां के चंद्रशेखर राव (केसीआर) की सरकार सालों से मुसलमानों को रमजान गिफ्ट बांटती आई है, लेकिन इस बार कोविड-19 के प्रकोप के चलते इसे रोक दिया गया है।&nbsp;</p>

सच क्या है? 

 

दरअसल रमज़ान गिफ्ट की ये फोटो लॉकडाउन के दौरान की नहीं है बल्कि काफी साल पुरानी है। तस्वीर के साथ किया गया यह दावा भी भ्रामक है। 5 साल पुरानी फोटो तेलांगना की है वहां के चंद्रशेखर राव (केसीआर) की सरकार सालों से मुसलमानों को रमजान गिफ्ट बांटती आई है, लेकिन इस बार कोविड-19 के प्रकोप के चलते इसे रोक दिया गया है। 

<p>केसीआर ने 5 मई को मीडिया को संबोधित करते हुए स्पष्ट किया था कि राज्य सरकार कोविड-19 महामारी के चलते इस वर्ष रमजान गिफ्ट नहीं वितरित करेगी, क्योंकि इससे भीड़ एकत्र होने का खतरा है। तेलंगाना के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ने भी बताया है कि राज्य सरकार कोरोना वायरस संकट के चलते इस साल रमजान गिफ्ट नहीं वितरित कर रही है। इस महामारी के चलते सभी तरह की धार्मिक गतिविधियों पर पाबंदी है।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>हमें कुछ ऐसी न्यूज रिपोर्ट भी मिलीं, जो बताती हैं कि तेलंगाना सरकार अन्य त्योहारों पर भी उपहार वितरित करती है। तेलंगाना सरकार ने राज्य के एक लोक त्योहार बथुकम्मा और क्रिसमस के दौरान भी गिफ्ट बांटे थे।</p>

केसीआर ने 5 मई को मीडिया को संबोधित करते हुए स्पष्ट किया था कि राज्य सरकार कोविड-19 महामारी के चलते इस वर्ष रमजान गिफ्ट नहीं वितरित करेगी, क्योंकि इससे भीड़ एकत्र होने का खतरा है। तेलंगाना के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ने भी बताया है कि राज्य सरकार कोरोना वायरस संकट के चलते इस साल रमजान गिफ्ट नहीं वितरित कर रही है। इस महामारी के चलते सभी तरह की धार्मिक गतिविधियों पर पाबंदी है।

 

हमें कुछ ऐसी न्यूज रिपोर्ट भी मिलीं, जो बताती हैं कि तेलंगाना सरकार अन्य त्योहारों पर भी उपहार वितरित करती है। तेलंगाना सरकार ने राज्य के एक लोक त्योहार बथुकम्मा और क्रिसमस के दौरान भी गिफ्ट बांटे थे।

<p><strong>ये निकला नतीजा-&nbsp;</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, तेलंगाना में 12 मई की शाम तक कोरोना वायरस के 1,275 मामले सामने आए हैं और 30 मौतें हुई हैं। राज्य सरकार ने इस संकट के कारण किसी भी तरह की सभा करने को प्रतिबंधित कर दिया है और रमजान के दौरान मुसलमानों को गिफ्ट बांटने का कार्यक्रम भी रद्द कर दिया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा यह मैसेज पुराना है।</p>

ये निकला नतीजा- 

 

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, तेलंगाना में 12 मई की शाम तक कोरोना वायरस के 1,275 मामले सामने आए हैं और 30 मौतें हुई हैं। राज्य सरकार ने इस संकट के कारण किसी भी तरह की सभा करने को प्रतिबंधित कर दिया है और रमजान के दौरान मुसलमानों को गिफ्ट बांटने का कार्यक्रम भी रद्द कर दिया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा यह मैसेज पुराना है।

loader