रातो-रात भाजपा में शामिल हो गए सचिन पायलट? जानें आखिर क्या है सच

First Published 20, Jul 2020, 11:47 AM

फैक्ट चेक डेस्क. Sachin Pilot Join BJP Fact Check:  सचिन पायलट (Sachin Pilot) इस समय खासा सुर्खियों में हैं। उनका नाम मीडिया और सोशल मीडिया हर जगह छाया हुआ है। राजस्थान कांग्रेस में चल रही खींचतान के बाद उप-मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस प्रमुख के पद से सचिन पायलट को हटाए जाने के बाद सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके जरिए उनके भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल होने का दावा किया जा रहा है। तस्वीर में बीजेपी के प्रेसिडेंट जे पी नड्डा (JP Nadda) , सचिन पायलट (Sachin pilot Joining BJP) को फूलों का गुलदस्ता देते हुए नजर आ रहे हैं। 

 

फैक्ट चेक (Fact Check News) में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

<p>सचिन पायलट लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। अटकलें थीं कि वो जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं।&nbsp;</p>

सचिन पायलट लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। अटकलें थीं कि वो जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं। 

<p>उन्होंने ट्विटर पर कुछ ट्विट्स भी किए उन्होंने लिखा- सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं। हालांकि पालट के कांग्रेस छोड़ने वाले मामले में अभी तक कुछ साफ नहीं हो पाया है।&nbsp;कांग्रेस की कार्रवाई के बाद सचिन पायलट ने अपने अगले सियासी कदम को लेकर चुप्पी साध रखी है। राजस्थान कांग्रेस प्रमुख और उप-मुख्यमंत्री के पद से हटाए जाने के बाद उन्होंने अपने वेरिफाइड ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया था और इसके बाद उनकी प्रोफाइल से दूसरा ट्वीट 18 जुलाई को किया है, जिसमें उन्होंने असम और बिहार में बाढ़ से प्रभावित लोगों की मदद करने की अपील की है।</p>

<p>पर इस बीच उनके बीजेपी में स्वागत की खबरें और पोस्ट सोशल मीडिया पर तैर रही हैं।&nbsp;</p>

उन्होंने ट्विटर पर कुछ ट्विट्स भी किए उन्होंने लिखा- सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं। हालांकि पालट के कांग्रेस छोड़ने वाले मामले में अभी तक कुछ साफ नहीं हो पाया है। कांग्रेस की कार्रवाई के बाद सचिन पायलट ने अपने अगले सियासी कदम को लेकर चुप्पी साध रखी है। राजस्थान कांग्रेस प्रमुख और उप-मुख्यमंत्री के पद से हटाए जाने के बाद उन्होंने अपने वेरिफाइड ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया था और इसके बाद उनकी प्रोफाइल से दूसरा ट्वीट 18 जुलाई को किया है, जिसमें उन्होंने असम और बिहार में बाढ़ से प्रभावित लोगों की मदद करने की अपील की है।

पर इस बीच उनके बीजेपी में स्वागत की खबरें और पोस्ट सोशल मीडिया पर तैर रही हैं। 

<p><strong>क्या है वायरल पोस्ट में?</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>ट्विटर यूजर ‘Rajesh Neel’ ने वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Congratulations join BJP 💐💐#Sachin_pilot….Join BJP”</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>फेसबुक पर अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की सच्ची घटना मानते हुए समान दावे के साथ शेयर किया है।</p>

क्या है वायरल पोस्ट में?

 

ट्विटर यूजर ‘Rajesh Neel’ ने वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Congratulations join BJP 💐💐#Sachin_pilot….Join BJP”

 

फेसबुक पर अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की सच्ची घटना मानते हुए समान दावे के साथ शेयर किया है।

<p><strong>फैक्ट चेक</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>वायरल पोस्ट में तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है। गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें वह वास्तविक तस्वीर मिली, जिसे सचिन पायलट के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल होने के दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। वास्तव में यह तस्वीर ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने की है। NDTV.com पर 11 मार्च को प्रकाशित रिपोर्ट में इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>राजस्थान के उप-मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस प्रमुख के पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की खबर झूठी है। इस दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड है। जे पी नड्डा के साथ नजर आ रहे सचिन पायलट की तस्वीर फर्जी है।&nbsp;</p>

फैक्ट चेक

 

वायरल पोस्ट में तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है। गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें वह वास्तविक तस्वीर मिली, जिसे सचिन पायलट के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल होने के दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। वास्तव में यह तस्वीर ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने की है। NDTV.com पर 11 मार्च को प्रकाशित रिपोर्ट में इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है।

 

राजस्थान के उप-मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस प्रमुख के पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की खबर झूठी है। इस दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर एडिटेड है। जे पी नड्डा के साथ नजर आ रहे सचिन पायलट की तस्वीर फर्जी है। 

<p>दी गई जानकारी के मुताबिक सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देते हुए बीजेपी में शामिल हो गए। इसी तस्वीर में सिंधिया के चेहरे को एडिट कर वहां पायलट का चेहरा जोड़ दिया गया है और इसी एडिटेड तस्वीर को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है कि पायलट ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>दैनिक जागरण की वेबसाइट पर मौजूद रिपोर्ट के मुताबिक, 14 जुलाई को कांग्रेस ने सचिन पायलट को पार्टी से बगावत करने के आरोप में राजस्थान के उप-मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटा दिया था।</p>

दी गई जानकारी के मुताबिक सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देते हुए बीजेपी में शामिल हो गए। इसी तस्वीर में सिंधिया के चेहरे को एडिट कर वहां पायलट का चेहरा जोड़ दिया गया है और इसी एडिटेड तस्वीर को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है कि पायलट ने बीजेपी ज्वाइन कर ली है।

 

दैनिक जागरण की वेबसाइट पर मौजूद रिपोर्ट के मुताबिक, 14 जुलाई को कांग्रेस ने सचिन पायलट को पार्टी से बगावत करने के आरोप में राजस्थान के उप-मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटा दिया था।

<p>सचिन पायलट का बीजेपी में शामिल होना बड़ी खबर होगी, लेकिन हमें न्यूज सर्च में ऐसी कोई खबर नहीं मिली। इसके बाद विश्वास न्यूज ने बीजेपी के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा से संपर्क किया। उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया, ‘सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की खबर झूठी है।’</p>

सचिन पायलट का बीजेपी में शामिल होना बड़ी खबर होगी, लेकिन हमें न्यूज सर्च में ऐसी कोई खबर नहीं मिली। इसके बाद विश्वास न्यूज ने बीजेपी के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा से संपर्क किया। उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया, ‘सचिन पायलट के बीजेपी में शामिल होने की खबर झूठी है।’

<p>सोशल मीडिया पर सचिन पायलट की पत्नी सारा के नाम भी एक फर्जी ट्विटर अकाउंट चलाया जा रहा था। इससे कई ऐसे ट्वीट किए गए। ये हैंडल सारा पायलट का नहीं था। सचिन पायलट द्वारा इस हैंडल को फ़ॉलो नहीं किया जाता है। इसके अलावा ओमर अब्दुल्लाह भी इस हैंडल को फ़ॉलो नहीं करते हैं। ऐसे में ये बात साबित गई कि ये फेक अकाउंट था जो अब डीलिट किया जा चुका है।&nbsp;&nbsp;</p>

सोशल मीडिया पर सचिन पायलट की पत्नी सारा के नाम भी एक फर्जी ट्विटर अकाउंट चलाया जा रहा था। इससे कई ऐसे ट्वीट किए गए। ये हैंडल सारा पायलट का नहीं था। सचिन पायलट द्वारा इस हैंडल को फ़ॉलो नहीं किया जाता है। इसके अलावा ओमर अब्दुल्लाह भी इस हैंडल को फ़ॉलो नहीं करते हैं। ऐसे में ये बात साबित गई कि ये फेक अकाउंट था जो अब डीलिट किया जा चुका है।  

loader