FACT CHECK: गर्म पानी में सिरका डालकर पीने से ठीक होगा कोरोना, जानें क्या है इस नुस्खे का सच?

First Published 13, Jul 2020, 4:39 PM

फैक्ट चेक डेस्क.  Warm Water With Vinegar Cure Coronavirus Fact Check: पूरी दुनिया में कोरोना महामारी ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली है। इस वायरस से भारत में लगभग 8 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो गए हैं। कोरोना की कोई वैक्सीन अभी तक नहीं बनी है लेकिन इसके इलाज को लेकर कई तरह के दावे लगातार सामने आ रहे हैं। बहरहाल सोशल मीडिया पर अब सिरके (vinegar ) और गर्म पानी को मिला पीने से कोरोना के इलाज में कारगर बताया जा रहा है। 

 

फैक्ट चेक (Fact Check news In Hindi) में आइए जानते हैं कि आखिर इस देसी नुस्खे का सच क्या है? 

<p>मार्च 2020 से ही सोशल मीडिया पर ये दावा किया जा रहा है कि गुनगुने पानी में नमक या सिरका डाल कर पिया जाए तो कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है। <br />
 </p>

मार्च 2020 से ही सोशल मीडिया पर ये दावा किया जा रहा है कि गुनगुने पानी में नमक या सिरका डाल कर पिया जाए तो कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है। 
 

<p><strong>वायरल पोस्ट क्या है? </strong></p>

<p> </p>

<p>कई लोगों ने लिखा है, “कोरोना सावधानी – कोरोना वायरस फेफड़े में पहुंचने से पहले वह गले में 04 दिन तक रहता है, उस दरमियान व्यक्ति के गले में दर्द व कफ की शिकायत रहती है। यदि आप खूब पानी पियो और गर्म पानी में नमक अथवा वेनिगर डालकर गरारे करे तो वायरस खत्म को जाता है।”</p>

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

कई लोगों ने लिखा है, “कोरोना सावधानी – कोरोना वायरस फेफड़े में पहुंचने से पहले वह गले में 04 दिन तक रहता है, उस दरमियान व्यक्ति के गले में दर्द व कफ की शिकायत रहती है। यदि आप खूब पानी पियो और गर्म पानी में नमक अथवा वेनिगर डालकर गरारे करे तो वायरस खत्म को जाता है।”

<p><strong>क्या दावा किया जा रहा है? </strong></p>

<p> </p>

<p>चम्पावत पुलिस के एसपी ने भी अपने ऑफ़िशियल फ़ेसबुक पेज से 2 जून 2020 को एक पोस्ट शेयर कर ये दावा किया था। इस पोस्ट को डिलीट कर दिया गया लेकिन इसके स्क्रीनशॉट आप नीचे देख सकते हैं। फ़ेसबुक पर बहुत सारे लोगों ने यही दावा किया है।</p>

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

चम्पावत पुलिस के एसपी ने भी अपने ऑफ़िशियल फ़ेसबुक पेज से 2 जून 2020 को एक पोस्ट शेयर कर ये दावा किया था। इस पोस्ट को डिलीट कर दिया गया लेकिन इसके स्क्रीनशॉट आप नीचे देख सकते हैं। फ़ेसबुक पर बहुत सारे लोगों ने यही दावा किया है।

<p><strong>इन सभी पोस्ट में 2 तरह के दावे किये गए हैं :</strong></p>

<p> </p>

<p>1. कोरोना वायरस फेफड़ों में पहुंचने से पहले गले में चार दिनों तक रहता है।</p>

<p>2. ज़्यादा पानी पीने से वायरस को खत्म किया जा सकता है।</p>

<p>3. गर्म पानी में नमक डालकर पीने से कोरोना वायरस खत्म हो जाता है।</p>

<p>4. गर्म पानी में सिरका डालकर पीने से कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है।</p>

इन सभी पोस्ट में 2 तरह के दावे किये गए हैं :

 

1. कोरोना वायरस फेफड़ों में पहुंचने से पहले गले में चार दिनों तक रहता है।

2. ज़्यादा पानी पीने से वायरस को खत्म किया जा सकता है।

3. गर्म पानी में नमक डालकर पीने से कोरोना वायरस खत्म हो जाता है।

4. गर्म पानी में सिरका डालकर पीने से कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है।

<p><strong>फ़ैक्ट-चेक</strong></p>

<p> </p>

<p><strong>1.कोरोना वायरस फेफड़ों में पहुंचने से पहले गले में चार दिनों तक नहीं रहता है।</strong></p>

<p> </p>

<p>हमें ऐसी कोई हालिया रिसर्च नहीं मिली जिसमें कोरोना वायरस के गले में 4 दिनों तक रहने के बारे में बताया गया हो। रिसर्च के मुताबिक, मालूम चला कि कहीं भी किसी भी रिपोर्ट में या दुनिया के किसी डॉक्टर ने कोरोना वायरस के गले में 4 दिनों तक रहने का कोई दावा नहीं किया गया है। </p>

फ़ैक्ट-चेक

 

1.कोरोना वायरस फेफड़ों में पहुंचने से पहले गले में चार दिनों तक नहीं रहता है।

 

हमें ऐसी कोई हालिया रिसर्च नहीं मिली जिसमें कोरोना वायरस के गले में 4 दिनों तक रहने के बारे में बताया गया हो। रिसर्च के मुताबिक, मालूम चला कि कहीं भी किसी भी रिपोर्ट में या दुनिया के किसी डॉक्टर ने कोरोना वायरस के गले में 4 दिनों तक रहने का कोई दावा नहीं किया गया है। 

<p>कोरोना वायरस के मरीज़ों में 2 से 7 दिनों में बुख़ार और अन्य लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इससे ये पता चलता है कि कोरोना वायरस को खून में फैलकर और बुख़ार लाने के लिए कई केसेज़ में सिर्फ़ 2 ही दिन लगते हैं। इस तरह, ये दावा कि कोरोना वायरस को गले से फेफड़ों तक पहुंचने में 4 दिन लगते हैं, ग़लत साबित हो जाता है।</p>

<p> </p>

<p>WHO ने जारी बयान में कहा, कोरोना के मरीज को सांस लेने में परेशानी होती है। हालांकि, एक्सपर्ट द्वारा दी गईं गाइडलाइनों का पालन करने पर यह बिना किसी इलाज के ठीक हो सकता है। केवल गंभीर मामलों में ही डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है।</p>

कोरोना वायरस के मरीज़ों में 2 से 7 दिनों में बुख़ार और अन्य लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इससे ये पता चलता है कि कोरोना वायरस को खून में फैलकर और बुख़ार लाने के लिए कई केसेज़ में सिर्फ़ 2 ही दिन लगते हैं। इस तरह, ये दावा कि कोरोना वायरस को गले से फेफड़ों तक पहुंचने में 4 दिन लगते हैं, ग़लत साबित हो जाता है।

 

WHO ने जारी बयान में कहा, कोरोना के मरीज को सांस लेने में परेशानी होती है। हालांकि, एक्सपर्ट द्वारा दी गईं गाइडलाइनों का पालन करने पर यह बिना किसी इलाज के ठीक हो सकता है। केवल गंभीर मामलों में ही डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है।

<p><strong>3. क्या गर्म पानी में नमक डालने से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है?</strong></p>

<p> </p>

<p>WHO के मुताबिक गर्म पानी पीने या उससे गुनगुना करने से कोरोना वायरस संक्रमण पर कोई असर नहीं पड़ता है। न तो कम और न ही ज़्यादा तापमान कोरोना वायरस को खत्म कर सकता है। वायरस को मारने के लिए गर्म पानी पीना या गर्म पानी से धोना आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है।</p>

3. क्या गर्म पानी में नमक डालने से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है?

 

WHO के मुताबिक गर्म पानी पीने या उससे गुनगुना करने से कोरोना वायरस संक्रमण पर कोई असर नहीं पड़ता है। न तो कम और न ही ज़्यादा तापमान कोरोना वायरस को खत्म कर सकता है। वायरस को मारने के लिए गर्म पानी पीना या गर्म पानी से धोना आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है।

<p><strong>4. गर्म पानी में सिरका डालकर पीने से क्या कोरोना को खत्म किया जा सकता है?</strong></p>

<p> </p>

<p>इस दावे की हकीकत जानने के लिए की-वर्ड्स ‘vinegar coronavirus’ से सर्च करने पर 16 मार्च 2020 का “fullfact.org” का आर्टिकल मिला। इस रिपोर्ट में बताया गया कि पानी में नमक या सिरका डालकर पीने से कोरोना को खत्म नहीं किया जा सकता।</p>

4. गर्म पानी में सिरका डालकर पीने से क्या कोरोना को खत्म किया जा सकता है?

 

इस दावे की हकीकत जानने के लिए की-वर्ड्स ‘vinegar coronavirus’ से सर्च करने पर 16 मार्च 2020 का “fullfact.org” का आर्टिकल मिला। इस रिपोर्ट में बताया गया कि पानी में नमक या सिरका डालकर पीने से कोरोना को खत्म नहीं किया जा सकता।

<p><strong>ये निकला नतीजा  </strong></p>

<p> </p>

<p>जांच-पड़ताल और WHO के दावे के मुताबिक हम ये कह सकते हैं कि सोशल मीडिया पर वायरल कोरोना का ये देसी नुस्खा बकवास है। सिरके और गर्म पानी से कोरोना नहीं मरता है। सतर्क रहें और ऐसी अफवाहों पर ध्यान न दें। <br />
 </p>

ये निकला नतीजा  

 

जांच-पड़ताल और WHO के दावे के मुताबिक हम ये कह सकते हैं कि सोशल मीडिया पर वायरल कोरोना का ये देसी नुस्खा बकवास है। सिरके और गर्म पानी से कोरोना नहीं मरता है। सतर्क रहें और ऐसी अफवाहों पर ध्यान न दें। 
 

loader