Asianet News Hindi

अब बाजार में बिक रहा है नकली आटा, कहीं आप भी तो नहीं खा रहे इस जहर से बनी रोटियां

First Published Jan 12, 2021, 3:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फूड डेस्क: भारत में ज्यादातर घरों में गेंहू का आटा खाया जाता है। सुबह-शाम भारत में रोटियां बनाई और खाई जाती है। अभी तक आपने मार्केट में नकली मावा, पनीर या शहद बिकने की बात सुनी होगी। लेकिन अब मार्केट में नकली आटा भी मिलने लगा है। जानकारी के अभाव में लोग इसी नकली आटे को खरीद कर इसकी रोटियां खा रहे हैं। ये नकली आटा आपके स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक है। इससे बनी रोटियां आपके लिए जहर से कम नहीं है। इससे आपकी सेहत पर काफी बुरा असर पड़ता है। लेकिन कुछ तरीकों से आप पता लगा सकते हैं कि जो आटा आप खरीद रहे हैं, वो असली है या नकली। 
 

मार्केट में इन दिनों नकली आटा मिल रहा है। ये आटा आपके स्वास्थ्य के  नुकसानदायक है। इससे बनी रोटियां खाना इंसान की जान तक ले सकता है। रोटी खाने पर बीमार होने के बाद लोग समझ नहीं पाते कि उनकी तबियत खराब कैसे हुई?

मार्केट में इन दिनों नकली आटा मिल रहा है। ये आटा आपके स्वास्थ्य के  नुकसानदायक है। इससे बनी रोटियां खाना इंसान की जान तक ले सकता है। रोटी खाने पर बीमार होने के बाद लोग समझ नहीं पाते कि उनकी तबियत खराब कैसे हुई?

इस नकली आटे में बोरिक पाउडर, चाक पाउडर तक मिला दिया जाता है। ये आपके स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक है। कई बार मार्केट से लाए आटे की रोटियां काफी सख्त बनती है। इसमें कई बार मैदा भी मिला दिया जाता है। 
 

इस नकली आटे में बोरिक पाउडर, चाक पाउडर तक मिला दिया जाता है। ये आपके स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक है। कई बार मार्केट से लाए आटे की रोटियां काफी सख्त बनती है। इसमें कई बार मैदा भी मिला दिया जाता है। 
 

लेकिन कुछ तरीके हैं, जिनसे आप पता लगा सकते हैं कि जो आटा आप खरीद कर लाए हैं, वो असली है या नकली? अगर इन उपायों से आप आटे की जाँच करेंगे, तो वो खुद चीखकर बता देगा कि असली है या नकली? 

लेकिन कुछ तरीके हैं, जिनसे आप पता लगा सकते हैं कि जो आटा आप खरीद कर लाए हैं, वो असली है या नकली? अगर इन उपायों से आप आटे की जाँच करेंगे, तो वो खुद चीखकर बता देगा कि असली है या नकली? 

नकली आटे की जाँच का सबसे पहला तरीका है पानी के जरिये। अगर आप इसकी जांच करना चाहते हैं तो गिलास में पानी लें। अब इसमें एक चम्मच आटा मिला दीजिये। अगर पानी पर आपको कुछ तैरता नजर आए, तो समझ जाएंग कि आटा मिलावटी है। 
 

नकली आटे की जाँच का सबसे पहला तरीका है पानी के जरिये। अगर आप इसकी जांच करना चाहते हैं तो गिलास में पानी लें। अब इसमें एक चम्मच आटा मिला दीजिये। अगर पानी पर आपको कुछ तैरता नजर आए, तो समझ जाएंग कि आटा मिलावटी है। 
 

नींबू के रस के जरिए भी आटे की जांच की जा सकती है। इसमें एक चम्मच आटा लें और फिर उसमें नींबू के कुछ रस को निचोड़ दें। अगर नींबू का रस आटे पर गिरते ही उससे बुलबुले उठे तो समझ जाएं कि ये नकली है।  

नींबू के रस के जरिए भी आटे की जांच की जा सकती है। इसमें एक चम्मच आटा लें और फिर उसमें नींबू के कुछ रस को निचोड़ दें। अगर नींबू का रस आटे पर गिरते ही उससे बुलबुले उठे तो समझ जाएं कि ये नकली है।  

आखिरी उपाय में आपको हाइड्रोक्लोरिक एसिड की मदद लेनी पड़ेगी। इसमें एक टेस्ट ट्यूब में थोड़ा सा आटा लें। अब इसमें हाइड्रोक्लोरिक एसिड मिलाएं।  अगर एसिड डालने पर आपको टैब में छनी हुई चीज नजर आई, तो आटा नकली है।  

आखिरी उपाय में आपको हाइड्रोक्लोरिक एसिड की मदद लेनी पड़ेगी। इसमें एक टेस्ट ट्यूब में थोड़ा सा आटा लें। अब इसमें हाइड्रोक्लोरिक एसिड मिलाएं।  अगर एसिड डालने पर आपको टैब में छनी हुई चीज नजर आई, तो आटा नकली है।  

बाजार में चंद रुपयों के मुनाफे के लिए लोग इस नकली आटे को बेच रहे हैं। इसे  खाना काफी नुकसानदायक है। इन तरीकों से इसका पता लगाकर आप कई तरह के स्वास्थ्य नुकसान से बच सकते हैं।  

बाजार में चंद रुपयों के मुनाफे के लिए लोग इस नकली आटे को बेच रहे हैं। इसे  खाना काफी नुकसानदायक है। इन तरीकों से इसका पता लगाकर आप कई तरह के स्वास्थ्य नुकसान से बच सकते हैं।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios