Asianet News Hindi

सेना में जाकर देश की सेवा करना चाहती थी निकिता, 3 साल से कर रही थी टॉप..सिरफिरे ने सब तबाह कर दिया

First Published Oct 27, 2020, 8:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


फरीदाबाद (हरियाणा). बल्लभगढ़ में कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौट रही बी-कॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता तोमर की लव जिहाद के चलते सोमवार को दिन दहाड़े हत्या कर दी गई। तौसीफ नाम के आरोपी ने एकतरफा प्यार में इस वारदात को अंजाम दिया। बता दें कि निकिता आर्मी में जाना चाहती थी, उसने सेना में  लेफ्टिनेंट बनकर देश सेवा करने का सपना देखा था। इसके लिए उसने कुछ दिन पहले ही एयरफोर्स की परीक्षा भी दी थी। वह इसके लिए दिन रात एक करकेएनडीए की तैयारी कर रही थी। ताकि किसी तरह से उसका सिलेक्शन सेना में हो जाए। लेकिन एकतरफा प्यार में सिरफिरे आशिक ने चंद मिनटों में उसके सारे अरमान तोड़ दिए। आरोपी ने उसके सपनों के साथ-साथ उसको भी खत्म कर दिया। पढ़िए होनहार बेटी की दर्दनाक मौत की कहानी...


कुछ ही मिनट में लुट गए सारे अरमान
बता दें कि निकिता सोमवार के दिन अपनी सहेली के साथ बल्लभगढ़ के अग्रवाल कॉलेज में पेपर देने के लिए गई थी। वह खुशी-खुशी कॉलेज से बाहर निकली थी, क्योंकि उसका पेपर जो अच्छे से गया था। कुछ ही दूर चलने के बाद वह अपने भाई का इंतजार करने लगी। इतने में आरोपी तौसीफ आया और उसके साथ जबरदस्ती करने लगा और उसे अपनी कार में बैठने के लिए दवाब बनाने लगा। निकता ने उसके साथ जाने से इंकार कर दिया। गुस्से में आकर आरोपी ने निकिता की कनपटी पर गोली मार दी। इसके बाद उसको तड़पते छोड़ वहां से अपने साथी के साथ फरार हो गया। सारी वारदात पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई।


कुछ ही मिनट में लुट गए सारे अरमान
बता दें कि निकिता सोमवार के दिन अपनी सहेली के साथ बल्लभगढ़ के अग्रवाल कॉलेज में पेपर देने के लिए गई थी। वह खुशी-खुशी कॉलेज से बाहर निकली थी, क्योंकि उसका पेपर जो अच्छे से गया था। कुछ ही दूर चलने के बाद वह अपने भाई का इंतजार करने लगी। इतने में आरोपी तौसीफ आया और उसके साथ जबरदस्ती करने लगा और उसे अपनी कार में बैठने के लिए दवाब बनाने लगा। निकता ने उसके साथ जाने से इंकार कर दिया। गुस्से में आकर आरोपी ने निकिता की कनपटी पर गोली मार दी। इसके बाद उसको तड़पते छोड़ वहां से अपने साथी के साथ फरार हो गया। सारी वारदात पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई।


हर क्लास में टॉप करती थी निकिता
निकिता के परिजनों ने बताया कि उनकी बेटी बचपन से ही पढ़ने में होशियार थी। उसने 12वीं की परीक्षा में 95% अंक हासिल करते हुए स्कूल को टॉप किया था। इतना ही नहीं निकिता बी-कॉम के पिछले दो सेमेस्टर में भी टॉपर रही है। पिता ने बताया कि वह हमेशा 6 से 8 घंटे पढ़ाई करती थी। उसने अपनी जिंदगी को लेकर बड़े-बड़े सपने देखे थे। जो जल्द ही पूरे होने वाले थे, लेकिन उससे पहले ही मेरी बेटी को उसने मार डाला। (
बेटी की मौत के बाद बिलखते हुई निकिता की मां)


हर क्लास में टॉप करती थी निकिता
निकिता के परिजनों ने बताया कि उनकी बेटी बचपन से ही पढ़ने में होशियार थी। उसने 12वीं की परीक्षा में 95% अंक हासिल करते हुए स्कूल को टॉप किया था। इतना ही नहीं निकिता बी-कॉम के पिछले दो सेमेस्टर में भी टॉपर रही है। पिता ने बताया कि वह हमेशा 6 से 8 घंटे पढ़ाई करती थी। उसने अपनी जिंदगी को लेकर बड़े-बड़े सपने देखे थे। जो जल्द ही पूरे होने वाले थे, लेकिन उससे पहले ही मेरी बेटी को उसने मार डाला। (
बेटी की मौत के बाद बिलखते हुई निकिता की मां)

पिता ने कहा-मेरी होनहार बेटी को मार डाला
लड़की के पिता मूलचंद तोमर ने रोते हुए अपना दर्द बयां किया। उन्होंने कहा कि तौशीफ उनकी बेटी से जबरन शादी करना चाहता था, इसके लिए वह आए दिन उससे दोस्ती के लिए दबाव बना रहा था। साथ ही धर्म बदलने के लिए भी दबाव बना रहा था। वह पहले भी निकिता को अगवा कर चुका है। आए दिन रास्ते में उसके साथ छेड़छाड़ करता था। बेटी चुपचाप सब सहती रहती थी, किसी को कुछ नहीं बताती थी। हमने पुलिस के पास शिकायत भी की थी। लेकिन आरोपी के रसूख के चलते उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। आज उसने मेरी होनहार बेटी को मार डाला। 

पिता ने कहा-मेरी होनहार बेटी को मार डाला
लड़की के पिता मूलचंद तोमर ने रोते हुए अपना दर्द बयां किया। उन्होंने कहा कि तौशीफ उनकी बेटी से जबरन शादी करना चाहता था, इसके लिए वह आए दिन उससे दोस्ती के लिए दबाव बना रहा था। साथ ही धर्म बदलने के लिए भी दबाव बना रहा था। वह पहले भी निकिता को अगवा कर चुका है। आए दिन रास्ते में उसके साथ छेड़छाड़ करता था। बेटी चुपचाप सब सहती रहती थी, किसी को कुछ नहीं बताती थी। हमने पुलिस के पास शिकायत भी की थी। लेकिन आरोपी के रसूख के चलते उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। आज उसने मेरी होनहार बेटी को मार डाला। 

आरोपी ने कबूला गुनाह..बताई वजह
मामले ने तूल पकड़ा तो हत्या के दूसरे दिन मुख्य आरोपी तौशीफ और उसके दोस्त रेहान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तौसीफ ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसने पुलिस को निकिता को मारने की वजह भी बताई। उसने कहा है कि वह निकिता से प्यार करता था। उसकी कहीं और शादी होने वाली थी, इसलिए मैंने उसे गोली मारी। सूत्रों के मुताबिक, दोनों के बीच 24-25 अक्टूबर की रात फोन पर बातचीत हुई थी। उसने कहा कि उसे पुलिस ने निकता को लेकर एक बार पहले गिरफ्तार कर लिया था। जिसकी वजह से मैं अपनी मेडिकल की पढ़ाई नहीं कर पाया। बस यह उसी बात का बदला था, जो मैंने ले लिया।
 

आरोपी ने कबूला गुनाह..बताई वजह
मामले ने तूल पकड़ा तो हत्या के दूसरे दिन मुख्य आरोपी तौशीफ और उसके दोस्त रेहान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तौसीफ ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसने पुलिस को निकिता को मारने की वजह भी बताई। उसने कहा है कि वह निकिता से प्यार करता था। उसकी कहीं और शादी होने वाली थी, इसलिए मैंने उसे गोली मारी। सूत्रों के मुताबिक, दोनों के बीच 24-25 अक्टूबर की रात फोन पर बातचीत हुई थी। उसने कहा कि उसे पुलिस ने निकता को लेकर एक बार पहले गिरफ्तार कर लिया था। जिसकी वजह से मैं अपनी मेडिकल की पढ़ाई नहीं कर पाया। बस यह उसी बात का बदला था, जो मैंने ले लिया।
 


निकिता की फोटो लेकर लोगों ने दिया धरना
मंगलवार को आक्रोशित भीड़ ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के चक्कर में जमकर हंगामा किया। वहीं पीड़ित परिवार भी इंसाफ के लिए सड़क पर धरने पर बैठ गया। जहां उन्होंने बल्लभगढ़ में दिल्ली-मथुरा नेशनल हाइवे को जाम कर दिया। वे आरोपियों के एनकाउंटर करने की मांग कर रहे थे। उन्होंने मृतका का अंतिम संस्कार करने से भी इनकार कर दिया। हालांकि पुलिस ने उन्हें समझाया।


निकिता की फोटो लेकर लोगों ने दिया धरना
मंगलवार को आक्रोशित भीड़ ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के चक्कर में जमकर हंगामा किया। वहीं पीड़ित परिवार भी इंसाफ के लिए सड़क पर धरने पर बैठ गया। जहां उन्होंने बल्लभगढ़ में दिल्ली-मथुरा नेशनल हाइवे को जाम कर दिया। वे आरोपियों के एनकाउंटर करने की मांग कर रहे थे। उन्होंने मृतका का अंतिम संस्कार करने से भी इनकार कर दिया। हालांकि पुलिस ने उन्हें समझाया।


बिलख-बिलखकर मां कह रही एक ही बात
बेटी की मौत के बाद परिजन फरीदाबाद के बीके अस्पताल में पहुंचे। जहां निकिता की मां का रो-रोकर बुरा हाल था। वह एक ही बात कह रहीं थीं कि उस हैवान को भी गोलियों से भून दो।
 


बिलख-बिलखकर मां कह रही एक ही बात
बेटी की मौत के बाद परिजन फरीदाबाद के बीके अस्पताल में पहुंचे। जहां निकिता की मां का रो-रोकर बुरा हाल था। वह एक ही बात कह रहीं थीं कि उस हैवान को भी गोलियों से भून दो।
 

सीसीटीवी में कैद हुई वारदात
सारी वारदात पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। जहां एकतरफा प्यार में दबाव बना रहा युवक दोस्तों के साथ अपहरण के इरादे से आया था। जब उसने साथ जाने से मना कर दिया तो सरेआम कनपटी में गोली मार कर भाग गया।
 

सीसीटीवी में कैद हुई वारदात
सारी वारदात पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। जहां एकतरफा प्यार में दबाव बना रहा युवक दोस्तों के साथ अपहरण के इरादे से आया था। जब उसने साथ जाने से मना कर दिया तो सरेआम कनपटी में गोली मार कर भाग गया।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios