Asianet News Hindi

जून 2021 राशिफल: मेष वाले हो सकते हैं सफल, सिंह को मिल सकती है क्रिटिसिज्म, जानें कैसा रहेगा आपके लिए ये महीना

First Published May 31, 2021, 1:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. जून 2021 में मंगल, बुध, सूर्य, शुक्र और बृहस्पति ग्रह अपनी चाल बदलने वाले हैं। महीने की शुरुआत में यानी 2 जून को मंगल मिथुन राशि से निकलकर कर्क राशि में प्रवेश करेंगे। इसके बाद बुध 3 जून को वृषभ राशि में वक्री गति शुरू करेंगे। 15 जून को ग्रहों के राजा सूर्य वृषभ से निकलकर मिथुन राशि में गोचर करेंगे, वहीं गुरु 20 जून को कुंभ राशि में वक्री गोचर करेंगे, 22 तारीख को शुक्र ग्रह मिथुन राशि से निकलकर कर्क में गोचर करेंगे। जानिए कैसा रहेगा आपके लिए ये महीना...

मेष
इस महीने में सूर्य-राहु वृषभ राशि का दूसरे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का आठवें भाव में, शनि मकर राशि का दसवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ शानदार तरीके से होगा। जिस काम में हाथ डालेंगे, उसमें सफलता प्राप्त होगी। नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। आय के नई स्त्रोत बन सकते हैं। क्रोध पर काबू रखना होगा, नहीं तो स्थितियां विपरीत हो सकती हैं। सुखद यात्रा के योग भी बन रहे हैं। 11 से 13 के बीच आप काम के साथ-साथ मनोरंजन पर भी ध्यान देंगे। इस समय बिजनेस में थोड़ा-बहुत नुकसान हो सकता है, जिसके कारण मन उदास रहेगा। 18-19 को रुका हुआ पैसा मिलने के योग बन रहे हैं। आप अपने करियर के प्रति सजग रहेंगे। संतान की ओर से मन प्रसन्न रहेगा। घर-परिवार के साथ समय बीतेगा। परिवार के बुजुर्ग लोगों का आशीर्वाद आपको मिलेगा। महीने का अंतिम सप्ताह मिला-जुला फल देने वाला रहेगा। काम में वृद्धि होगी। आर्थिक स्थितियां सुधरेंगी। आपका काम आसानी से बन जाएगा।

मेष
इस महीने में सूर्य-राहु वृषभ राशि का दूसरे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का तीसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का आठवें भाव में, शनि मकर राशि का दसवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ शानदार तरीके से होगा। जिस काम में हाथ डालेंगे, उसमें सफलता प्राप्त होगी। नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। आय के नई स्त्रोत बन सकते हैं। क्रोध पर काबू रखना होगा, नहीं तो स्थितियां विपरीत हो सकती हैं। सुखद यात्रा के योग भी बन रहे हैं। 11 से 13 के बीच आप काम के साथ-साथ मनोरंजन पर भी ध्यान देंगे। इस समय बिजनेस में थोड़ा-बहुत नुकसान हो सकता है, जिसके कारण मन उदास रहेगा। 18-19 को रुका हुआ पैसा मिलने के योग बन रहे हैं। आप अपने करियर के प्रति सजग रहेंगे। संतान की ओर से मन प्रसन्न रहेगा। घर-परिवार के साथ समय बीतेगा। परिवार के बुजुर्ग लोगों का आशीर्वाद आपको मिलेगा। महीने का अंतिम सप्ताह मिला-जुला फल देने वाला रहेगा। काम में वृद्धि होगी। आर्थिक स्थितियां सुधरेंगी। आपका काम आसानी से बन जाएगा।

वृष
इस महीने में सूर्य-राहु वृषभ राशि का लग्न में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का सातवें भाव में, शनि मकर राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा-गुरु कुंभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ सुखदायक रहेगा। बिजनेस की भागदौड़ के बीच आप परिवार को समय दे पाएंगे। 4-5 जून को ग्यारहवां चंद्रमा आपको फायदा दिलाएगा। आप अपने काम को पूरी ईमानदारी से करेंगे, जिससे ऑफिस में आपको मान-सम्मान मिलेगा। बारहवां चंद्रमा आपके लिए कुछ परेशानियां खड़ी कर सकता है। महीने के मध्य में धन लाभ के योग बन रहे हैं। आप दूसरों पर अपनी प्रतिभा का असर छोड़ेंगे। इस समय आपका आत्मविश्वास काफी ऊंचा रहेगा। अध्यात्म की ओर आपका झुकाव हो सकता है। 16 जून के बाद पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। मकान या कार्यस्थल बदल सकते हैं, लेकिन नई जगह आपको पसंद नहीं आएगी। किसी का मार्गदर्शन आपको मिलेगा। आपके अड़ियल रवैये के कारण जमीन-जायदाद से जुड़े मामले अटक सकते हैं। 24 से 26 के बीच आठवां चंद्रमा मन में अशांति उत्पन्न करेगा। कोई गलत निर्णय इस समय आप ले सकते हैं। 29 के बाद जीवन में शांति का संचार होगा।

वृष
इस महीने में सूर्य-राहु वृषभ राशि का लग्न में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का दूसरे भाव में, केतु वृश्चिक राशि का सातवें भाव में, शनि मकर राशि का नौवें भाव में, चंद्रमा-गुरु कुंभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ सुखदायक रहेगा। बिजनेस की भागदौड़ के बीच आप परिवार को समय दे पाएंगे। 4-5 जून को ग्यारहवां चंद्रमा आपको फायदा दिलाएगा। आप अपने काम को पूरी ईमानदारी से करेंगे, जिससे ऑफिस में आपको मान-सम्मान मिलेगा। बारहवां चंद्रमा आपके लिए कुछ परेशानियां खड़ी कर सकता है। महीने के मध्य में धन लाभ के योग बन रहे हैं। आप दूसरों पर अपनी प्रतिभा का असर छोड़ेंगे। इस समय आपका आत्मविश्वास काफी ऊंचा रहेगा। अध्यात्म की ओर आपका झुकाव हो सकता है। 16 जून के बाद पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। मकान या कार्यस्थल बदल सकते हैं, लेकिन नई जगह आपको पसंद नहीं आएगी। किसी का मार्गदर्शन आपको मिलेगा। आपके अड़ियल रवैये के कारण जमीन-जायदाद से जुड़े मामले अटक सकते हैं। 24 से 26 के बीच आठवां चंद्रमा मन में अशांति उत्पन्न करेगा। कोई गलत निर्णय इस समय आप ले सकते हैं। 29 के बाद जीवन में शांति का संचार होगा।

मिथुन
इस महीने मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का छठे भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का नौवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत का समय आपके पक्ष का रहेगा। बिजी होने के बाद भी आप परिवार के लिए समय निकाल लेंगे। परिवार में हर्षोल्लास का माहौल रहेगा। बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय आप ले सकते हैं। आपकी योग्यता लोगों के सामने आएगी। 8 जून के बाद समय थोड़ा नकारात्मक रहेगा। पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। बेकार के कामों में समय खराब होने में मन में चिढ़-चिढ़ापन आ सकता है। आर्थिक रूप से खींचतान की स्थिति बनी रहेगी। इस समय अपनी वाणी और क्रोध पर नियंत्रण रखें, नहीं तो स्थिति बिगड़ सकती है। महीने के तीसरे सप्ताह में महत्वपूर्ण व्यापारिक यात्रा हो सकती है। इस समय किसी को भूलकर भी पैसा उधार न दें, नहीं तो उलझ सकते हैं। नए काम में मन लगेगा। 22-23 को राजकीय कामों में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। 24 से 30 के बीच पारिवारिक विवाद सुलझ सकते हैं। रिश्तेदारों व मित्रों का सहयोग मिलेगा।

मिथुन
इस महीने मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का लग्न में, केतु वृश्चिक राशि का छठे भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का नौवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत का समय आपके पक्ष का रहेगा। बिजी होने के बाद भी आप परिवार के लिए समय निकाल लेंगे। परिवार में हर्षोल्लास का माहौल रहेगा। बिजनेस में कोई बड़ा निर्णय आप ले सकते हैं। आपकी योग्यता लोगों के सामने आएगी। 8 जून के बाद समय थोड़ा नकारात्मक रहेगा। पति-पत्नी में किसी बात पर विवाद हो सकता है। बेकार के कामों में समय खराब होने में मन में चिढ़-चिढ़ापन आ सकता है। आर्थिक रूप से खींचतान की स्थिति बनी रहेगी। इस समय अपनी वाणी और क्रोध पर नियंत्रण रखें, नहीं तो स्थिति बिगड़ सकती है। महीने के तीसरे सप्ताह में महत्वपूर्ण व्यापारिक यात्रा हो सकती है। इस समय किसी को भूलकर भी पैसा उधार न दें, नहीं तो उलझ सकते हैं। नए काम में मन लगेगा। 22-23 को राजकीय कामों में सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। 24 से 30 के बीच पारिवारिक विवाद सुलझ सकते हैं। रिश्तेदारों व मित्रों का सहयोग मिलेगा।

कर्क
इस महीने केतु वृश्चिक राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का सातवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि के छठे भाव में, सूर्य-बुध वृषभ राशि के ग्यारहवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का बारहवें भाव में रहेगा। इस महीने की शुरूआत अच्छी नहीं कही जा सकती। किसी मामले को लेकर उलझनें बढ़ सकती हैं। क्रोध अधिक आने के कारण किसी से विवाद भी हो सकता है। इस समय आपको धैर्य रखने की जरूरत है। मन में कई तरह की शंकाएं आएंगी। 6 जून के बाद अटके कामों में तेजी आएगी और आपके पक्ष का माहौल बनेगा। कोई शुभ समाचार भी आपको मिल सकता है। 12 व 13 जून को बारहवां चंद्रमा आपको किसी विपत्ती में फंसा सकता है। खर्च अधिक होगा, लेकिन उसका प्रतिफल नहीं मिल पाएगा। लक्ष्य से भी ध्यान भटक सकता है। कोर्ट केस में उलझ सकते हैं। 21 जून के बाद पारिवारिक मामले सुलझ सकते हैं। 24 जून के बाद प्रेम संबंधों में सफलता मिल सकती है। मेहमानों के आने से मन प्रफुल्लित रहेगा। उच्च शिक्षा और शोध कार्यों में सफलता मिलेगी। बिजनेस में भी लाभ की स्थिति बनेगी।

कर्क
इस महीने केतु वृश्चिक राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का सातवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि के छठे भाव में, सूर्य-बुध वृषभ राशि के ग्यारहवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का बारहवें भाव में रहेगा। इस महीने की शुरूआत अच्छी नहीं कही जा सकती। किसी मामले को लेकर उलझनें बढ़ सकती हैं। क्रोध अधिक आने के कारण किसी से विवाद भी हो सकता है। इस समय आपको धैर्य रखने की जरूरत है। मन में कई तरह की शंकाएं आएंगी। 6 जून के बाद अटके कामों में तेजी आएगी और आपके पक्ष का माहौल बनेगा। कोई शुभ समाचार भी आपको मिल सकता है। 12 व 13 जून को बारहवां चंद्रमा आपको किसी विपत्ती में फंसा सकता है। खर्च अधिक होगा, लेकिन उसका प्रतिफल नहीं मिल पाएगा। लक्ष्य से भी ध्यान भटक सकता है। कोर्ट केस में उलझ सकते हैं। 21 जून के बाद पारिवारिक मामले सुलझ सकते हैं। 24 जून के बाद प्रेम संबंधों में सफलता मिल सकती है। मेहमानों के आने से मन प्रफुल्लित रहेगा। उच्च शिक्षा और शोध कार्यों में सफलता मिलेगी। बिजनेस में भी लाभ की स्थिति बनेगी।

सिंह
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में ग्रीष्म ऋतु से संबंधित रोग जैसे लू आदि के कारण परेशानी रहेंगे। खर्च बढ़ सकता है। कोई नया काम हाथ में आ सकता है, लेकिन सफलता में संदेह रहेगा। 6 जून के बाद कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। शत्रु परास्त होंगे। अधिकारी वर्ग आपसे खुश रहेगा। 11 जून के बाद आर्थिक पक्ष थोड़ा मजबूत होगा। पत्नी व बच्चों के साथ खरीदी करने जा सकते हैं। आपके काम का फायदा किसी और को मिल सकता है। किसी काम को लेकर आपकी आलोचना हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में आपके सोचे हुए सभी काम समय पर हो जाएंगे। पुरानी चिंताओं का अंत होगा। काम में रुचि बढ़ेगी। आपका मूड इस समय अच्छा रहेगा। 24 से 30 जून के बीच में मेहमानों का आना-जाना लगा रहेगा। हास-परिहास में समय बीतेगा। समय आपके पक्ष में बना रहेगा, फिर भी शत्रुओं से सावधान रहें।

सिंह
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का छठे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का दसवें भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में ग्रीष्म ऋतु से संबंधित रोग जैसे लू आदि के कारण परेशानी रहेंगे। खर्च बढ़ सकता है। कोई नया काम हाथ में आ सकता है, लेकिन सफलता में संदेह रहेगा। 6 जून के बाद कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। शत्रु परास्त होंगे। अधिकारी वर्ग आपसे खुश रहेगा। 11 जून के बाद आर्थिक पक्ष थोड़ा मजबूत होगा। पत्नी व बच्चों के साथ खरीदी करने जा सकते हैं। आपके काम का फायदा किसी और को मिल सकता है। किसी काम को लेकर आपकी आलोचना हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में आपके सोचे हुए सभी काम समय पर हो जाएंगे। पुरानी चिंताओं का अंत होगा। काम में रुचि बढ़ेगी। आपका मूड इस समय अच्छा रहेगा। 24 से 30 जून के बीच में मेहमानों का आना-जाना लगा रहेगा। हास-परिहास में समय बीतेगा। समय आपके पक्ष में बना रहेगा, फिर भी शत्रुओं से सावधान रहें।

कन्या
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके अनुकूल रहेगा। धार्मिक कार्य के प्रति आकर्षण बढ़ेगा। 4 और 5 जून को मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। मौसम जनित बीमारियां परेशान कर सकती है। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे लोगों को सफलता मिलेगी। 6 और 7 जून को थोड़ा संभल कर रहें, दुर्घटना के योग बन रहे हैं। आप किसी कानूनी मामले में फंस सकते हैं। 14 और 15 जून को समय आपके पक्ष में रहेगा। पुराने निवेश का फायदा इस समय मिल सकता है। रोजगार के अवसर सुलभ होंगे। प्रयासों के अनुरूप सफलता मिलेगी। 16 से 23 जून के बीच आप किसी षड्यंत्र का शिकार हो सकते हैं। किसी महापुरुष से मुलाकात इस समय हो सकती है। परीक्षा परिणाम को लेकर मन में शंका रहेगी। महीने के अंतिम दिनों में आपके साथ कोई हादसा हो सकता है। झूठ बोलकर आप किसी मुसीबत में फंस सकते हैं। लक्ष्य प्राप्ति के लिए मेहनत करनी पड़ेगी।

कन्या
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का नौवें भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ आपके अनुकूल रहेगा। धार्मिक कार्य के प्रति आकर्षण बढ़ेगा। 4 और 5 जून को मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। मौसम जनित बीमारियां परेशान कर सकती है। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे लोगों को सफलता मिलेगी। 6 और 7 जून को थोड़ा संभल कर रहें, दुर्घटना के योग बन रहे हैं। आप किसी कानूनी मामले में फंस सकते हैं। 14 और 15 जून को समय आपके पक्ष में रहेगा। पुराने निवेश का फायदा इस समय मिल सकता है। रोजगार के अवसर सुलभ होंगे। प्रयासों के अनुरूप सफलता मिलेगी। 16 से 23 जून के बीच आप किसी षड्यंत्र का शिकार हो सकते हैं। किसी महापुरुष से मुलाकात इस समय हो सकती है। परीक्षा परिणाम को लेकर मन में शंका रहेगी। महीने के अंतिम दिनों में आपके साथ कोई हादसा हो सकता है। झूठ बोलकर आप किसी मुसीबत में फंस सकते हैं। लक्ष्य प्राप्ति के लिए मेहनत करनी पड़ेगी।

तुला
इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का आठवे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र-मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच नौकरी में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। वसीयत से जुड़े काम इस समय पूरे हो सकते हैं। सामाजिक पद-प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। धन प्राप्ति के लिए समय ठीक है। घर व काम से जुड़ी सभी जिम्मेदारियां समय पर पूरी कर पाएंगे। महीने के दूसरे सप्ताह में अपनी मनचाही जगह पर घूमने जा सकते हैं। जीवन साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का मौका मिलेगा। खानपान को लेकर लापरवाही ना करें। 18 जून के बाद किसी साजिश का शिकार हो सकते हैं। आपके हाथों से कोई ऐसा काम होगा, जिसका आपको पछतावा रहेगा। कोई बड़ा अनुबंध टूट सकता है। आर्थिक मामलों में किसी से विवाद होने के योग बन रहे हैं। 24 जून के बाद का समय आपके लिए अनुकूल है। किसी प्रतियोगिता में सफलता मिल सकती है। घर में कोई नया मेहमान आ सकता है। अपने आत्मविश्वास के सहारे आप सभी कामों में विजय होंगे।

तुला
इस महीने केतु वृश्चिक राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का आठवे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र-मिथुन राशि का नौवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच नौकरी में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अधिकारी किसी बात पर आपसे नाराज हो सकते हैं। वसीयत से जुड़े काम इस समय पूरे हो सकते हैं। सामाजिक पद-प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। धन प्राप्ति के लिए समय ठीक है। घर व काम से जुड़ी सभी जिम्मेदारियां समय पर पूरी कर पाएंगे। महीने के दूसरे सप्ताह में अपनी मनचाही जगह पर घूमने जा सकते हैं। जीवन साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का मौका मिलेगा। खानपान को लेकर लापरवाही ना करें। 18 जून के बाद किसी साजिश का शिकार हो सकते हैं। आपके हाथों से कोई ऐसा काम होगा, जिसका आपको पछतावा रहेगा। कोई बड़ा अनुबंध टूट सकता है। आर्थिक मामलों में किसी से विवाद होने के योग बन रहे हैं। 24 जून के बाद का समय आपके लिए अनुकूल है। किसी प्रतियोगिता में सफलता मिल सकती है। घर में कोई नया मेहमान आ सकता है। अपने आत्मविश्वास के सहारे आप सभी कामों में विजय होंगे।

वृश्चिक
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का लग्न में, शनि मकर राशि का तीसरे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का चौथे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का सातवें भाव में, शुक्र-मंगल-बुध मिथुन राशि का आठवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत का समय कष्टकारी रहेगा। आपका समय बेकार के कामों में नष्ट हो सकता है। जीवन साथी से किसी बात पर विवाद हो सकता है। आर्थिक पक्ष भी कुछ खास मजबूत नहीं होगा। 7 जून के बाद आध्यात्मिक गतिविधियों में मन लगेगा। आप कुछ गोपनीय सौदा भी इस समय कर सकते हैं। 13 जून के बाद का समय थोड़ा कष्टकारी साबित हो सकता है। आप किसी ठगी का शिकार हो सकते हैं। काम का बोझ भी इस समय ज्यादा रहेगा। वाणी पर संयम रखना जरूरी है। आपकी महत्वकांक्षा अधूरी रह सकती है। महीने के तीसरे सप्ताह में आप सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ेंगे। आपमें काम के प्रति लग्न साफ नजर आएगी। नौकरी और व्यवसाय में अनुकूल वातावरण बना रहेगा। 24 से 30 जून के बीच आप शांति का अनुभव करेंगे। अपनी मनपसंद जगह घूमने जा सकते हैं। वैवाहिक संबंधों में खटास आ सकती है। अचानक कोई बड़ा खर्च सामने आ सकता है।

वृश्चिक
इस महीने में केतु वृश्चिक राशि का लग्न में, शनि मकर राशि का तीसरे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का चौथे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का सातवें भाव में, शुक्र-मंगल-बुध मिथुन राशि का आठवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत का समय कष्टकारी रहेगा। आपका समय बेकार के कामों में नष्ट हो सकता है। जीवन साथी से किसी बात पर विवाद हो सकता है। आर्थिक पक्ष भी कुछ खास मजबूत नहीं होगा। 7 जून के बाद आध्यात्मिक गतिविधियों में मन लगेगा। आप कुछ गोपनीय सौदा भी इस समय कर सकते हैं। 13 जून के बाद का समय थोड़ा कष्टकारी साबित हो सकता है। आप किसी ठगी का शिकार हो सकते हैं। काम का बोझ भी इस समय ज्यादा रहेगा। वाणी पर संयम रखना जरूरी है। आपकी महत्वकांक्षा अधूरी रह सकती है। महीने के तीसरे सप्ताह में आप सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ेंगे। आपमें काम के प्रति लग्न साफ नजर आएगी। नौकरी और व्यवसाय में अनुकूल वातावरण बना रहेगा। 24 से 30 जून के बीच आप शांति का अनुभव करेंगे। अपनी मनपसंद जगह घूमने जा सकते हैं। वैवाहिक संबंधों में खटास आ सकती है। अचानक कोई बड़ा खर्च सामने आ सकता है।

धनु
इस महीने शनि मकर राशि का दूसरे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का छठे भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का सातवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आप जितनी मेहनत करेंगे उतना ही फल आपको मिलेगा। घर में मांगलिक कार्य हो सकते हैं। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। संतान की तरक्की से मन प्रसन्न रहेगा। इस समय छोटी-छोटी बातों पर क्रोध ना करें और ना ही कोई तनाव लें। विद्यार्थी वर्ग को सफलता मिलेगी। यात्रा के योग भी बन रहे हैं। 8 से 15 जून के बीच कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है हालांकि आप अपनी सूझबूझ से सभी समस्याओं का निराकरण करने में सक्षम रहेंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में आपके निजी संबंधों में सुधार आएगा। लोगों के सामने आपकी छवि पहले से बेहतर होगी। आर्थिक स्थिति में सुधार होने के योग भी बन रहे हैं। 22 और 23 जून का समय ठीक नहीं है। इस समय आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। 24 से 30 जून के बीच किस्मत आपका साथ देगी। लाभ की स्थिति बनेगी भागीदारी के बिजनेस में फायदा मिल सकता है।

धनु
इस महीने शनि मकर राशि का दूसरे भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का तीसरे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का छठे भाव में, मंगल-शुक्र-बुध मिथुन राशि का सातवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में आप जितनी मेहनत करेंगे उतना ही फल आपको मिलेगा। घर में मांगलिक कार्य हो सकते हैं। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। संतान की तरक्की से मन प्रसन्न रहेगा। इस समय छोटी-छोटी बातों पर क्रोध ना करें और ना ही कोई तनाव लें। विद्यार्थी वर्ग को सफलता मिलेगी। यात्रा के योग भी बन रहे हैं। 8 से 15 जून के बीच कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है हालांकि आप अपनी सूझबूझ से सभी समस्याओं का निराकरण करने में सक्षम रहेंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में आपके निजी संबंधों में सुधार आएगा। लोगों के सामने आपकी छवि पहले से बेहतर होगी। आर्थिक स्थिति में सुधार होने के योग भी बन रहे हैं। 22 और 23 जून का समय ठीक नहीं है। इस समय आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। 24 से 30 जून के बीच किस्मत आपका साथ देगी। लाभ की स्थिति बनेगी भागीदारी के बिजनेस में फायदा मिल सकता है।

मकर
इस महीने शनि मकर राशि का लग्न में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का पांचवें भाव में, बुध-मंगल-शुक्र मिथुन राशि का आठवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच का समय मिश्रित फल देने वाला रहेगा। कोई बड़ा व्यापारिक अनुबंध हो सकता है। मानसिक तनाव से राहत महसूस करेंगे। आपके पुराने मित्र इस समय काम आएंगे। इस समय आप आर्थिक रूप से पहले से बेहतर महसूस करेंगे। कोई गलत काम करने से आपकी बदनामी हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में मेहमानों का आगमन होगा। अनुकूल समय का भरपूर फायदा उठाएंगे। राहु, सूर्य और चंद्रमा की युति होने से परिवार में विवाद की स्थिति बन सकती है। आमदनी कम होने से खर्चों में कटौती करनी पड़ेगी। 16 से 23 जून के बीच हेल्थ को लेकर सावधान रहें, नहीं तो स्थिति बिगड़ सकती है। किसी तीर्थ स्थल की यात्रा पर जाने का मौका मिलेगा। किसी विशेष व्यक्ति से मुलाकात आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। अविवाहित लोगों के लिए विवाह प्रस्ताव आ सकते हैं।

मकर
इस महीने शनि मकर राशि का लग्न में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का पांचवें भाव में, बुध-मंगल-शुक्र मिथुन राशि का आठवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। 1 से 7 जून के बीच का समय मिश्रित फल देने वाला रहेगा। कोई बड़ा व्यापारिक अनुबंध हो सकता है। मानसिक तनाव से राहत महसूस करेंगे। आपके पुराने मित्र इस समय काम आएंगे। इस समय आप आर्थिक रूप से पहले से बेहतर महसूस करेंगे। कोई गलत काम करने से आपकी बदनामी हो सकती है। महीने के दूसरे सप्ताह में मेहमानों का आगमन होगा। अनुकूल समय का भरपूर फायदा उठाएंगे। राहु, सूर्य और चंद्रमा की युति होने से परिवार में विवाद की स्थिति बन सकती है। आमदनी कम होने से खर्चों में कटौती करनी पड़ेगी। 16 से 23 जून के बीच हेल्थ को लेकर सावधान रहें, नहीं तो स्थिति बिगड़ सकती है। किसी तीर्थ स्थल की यात्रा पर जाने का मौका मिलेगा। किसी विशेष व्यक्ति से मुलाकात आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। अविवाहित लोगों के लिए विवाह प्रस्ताव आ सकते हैं।

कुंभ
इस महीने में गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का लग्न में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का पांचवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में गुरु और चंद्रमा की युति आपको धन और स्वास्थ्य संबंधित फायदा पहुंचाएगी। गुरुजनों का आशीर्वाद मिलेगा। किसी जरूरतमंद की मदद इस समय आप कर सकते हैं। अचानक धन लाभ का योग बन रहा है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए बहुत ही शुभ रहेगा। 8 से 15 जून के बीच तनाव की स्थिति बन सकती है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव और अति व्यस्त होने के कारण आप थोड़े चिड़चिड़ा हो सकते हैं। समाज कल्याण के कामों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। अटके हुए कामों को नए सिरे से शुरू कर सकते हैं। पारिवारिक समस्याओं पर ध्यान नहीं दे पाएंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में विद्यार्थियों को मनचाही सफलता नहीं मिल पाएगी। आपको अपनी कार्यशैली में बदलाव लाना होगा। इस समय आप किसी मसले को लेकर असमंजस में फंस सकते हैं। 24 से 30 जून के बीच पूजा पाठ में मन लगेगा। संतान की सफलता से खुशी मिलेगी। आप कुछ अच्छी आदतों को अपने जीवन में शामिल कर सकते हैं।

 

कुंभ
इस महीने में गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का लग्न में, सूर्य-राहु वृषभ राशि का चौथे भाव में, मंगल-बुध-शुक्र मिथुन राशि का पांचवें भाव में, केतु वृश्चिक राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरुआत में गुरु और चंद्रमा की युति आपको धन और स्वास्थ्य संबंधित फायदा पहुंचाएगी। गुरुजनों का आशीर्वाद मिलेगा। किसी जरूरतमंद की मदद इस समय आप कर सकते हैं। अचानक धन लाभ का योग बन रहा है। कुल मिलाकर यह समय आपके लिए बहुत ही शुभ रहेगा। 8 से 15 जून के बीच तनाव की स्थिति बन सकती है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव और अति व्यस्त होने के कारण आप थोड़े चिड़चिड़ा हो सकते हैं। समाज कल्याण के कामों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। अटके हुए कामों को नए सिरे से शुरू कर सकते हैं। पारिवारिक समस्याओं पर ध्यान नहीं दे पाएंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में विद्यार्थियों को मनचाही सफलता नहीं मिल पाएगी। आपको अपनी कार्यशैली में बदलाव लाना होगा। इस समय आप किसी मसले को लेकर असमंजस में फंस सकते हैं। 24 से 30 जून के बीच पूजा पाठ में मन लगेगा। संतान की सफलता से खुशी मिलेगी। आप कुछ अच्छी आदतों को अपने जीवन में शामिल कर सकते हैं।

 

मीन
इस महीने राहु-सूर्य वृषभ राशि का तीसरे भाव में, मंगल-शुक्र-बुध वृषभ राशि का तीसरे भाव में, केतु- वृश्चिक राशि का नौवें भाव में, शनि मकर राशि का ग्यारहवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में कोई बड़ा नुकसान हो सकता है। नौकरी और इंटरव्यू में निराशा हाथ लगेगी। किसी पर भी आंख मूंदकर विश्वास ना करें। विरोधी आप पर कोई छोटा आरोप लगा सकते हैं। 6 और 7 जून को कोई अच्छी खबर मिल सकती है। 8 से 15 जून के बीच आपका झुकाव रेकी, योगा और प्राणायाम की ओर हो सकता है। धन संबंधी मामलों में गति आएगी। कुछ दिलचस्प लोगों से मुलाकात इस समय हो सकती है। बिजनेस में नई संभावना बनेगी। यात्रा के दौरान परेशानी का अनुभव करेंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में अपने काम पर फोकस करेंगे। आमदनी का नया स्त्रोत मिल सकता है। लोगों में आपका संपर्क बढ़ेगा। काम में लापरवाही नुकसानदायक साबित होगी। 18 और 19 जून को सातवा चंद्रमा शुभ रहेगा। महीने के अंतिम सप्ताह में धन लाभ के योग बन रहे हैं। आपको बेकार के खर्चों पर रोक लगानी होगी। पति पत्नी के बीच नोकझोंक हो सकती है।

मीन
इस महीने राहु-सूर्य वृषभ राशि का तीसरे भाव में, मंगल-शुक्र-बुध वृषभ राशि का तीसरे भाव में, केतु- वृश्चिक राशि का नौवें भाव में, शनि मकर राशि का ग्यारहवें भाव में, गुरु-चंद्रमा कुंभ राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में कोई बड़ा नुकसान हो सकता है। नौकरी और इंटरव्यू में निराशा हाथ लगेगी। किसी पर भी आंख मूंदकर विश्वास ना करें। विरोधी आप पर कोई छोटा आरोप लगा सकते हैं। 6 और 7 जून को कोई अच्छी खबर मिल सकती है। 8 से 15 जून के बीच आपका झुकाव रेकी, योगा और प्राणायाम की ओर हो सकता है। धन संबंधी मामलों में गति आएगी। कुछ दिलचस्प लोगों से मुलाकात इस समय हो सकती है। बिजनेस में नई संभावना बनेगी। यात्रा के दौरान परेशानी का अनुभव करेंगे। महीने के तीसरे सप्ताह में अपने काम पर फोकस करेंगे। आमदनी का नया स्त्रोत मिल सकता है। लोगों में आपका संपर्क बढ़ेगा। काम में लापरवाही नुकसानदायक साबित होगी। 18 और 19 जून को सातवा चंद्रमा शुभ रहेगा। महीने के अंतिम सप्ताह में धन लाभ के योग बन रहे हैं। आपको बेकार के खर्चों पर रोक लगानी होगी। पति पत्नी के बीच नोकझोंक हो सकती है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios