Asianet News Hindi

मासिक रासिफल: सितंबर में राहु-केतु सहित ये 5 ग्रह बदलेंगे राशि, वक्रीय से मार्ग होंगे गुरु और शनि

First Published Sep 1, 2020, 2:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. सितंबर 2020 में ग्रह नक्षत्रों की स्थितियां कुछ राशियों के लिए शुभ रहेगी, वहीं कुछ लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, इस महीन में ग्रह राशि बदलेंगे। ये ग्रह हैं सूर्य, बुध, शुक्र, राहु और केतु। इसके अलावा मंगल ग्रह मेष राशि में मार्गी से वक्रीय होगा। साथ ही गुरु धनु में और शनि मकर राशि में वक्रीय से मार्गी होंगे। जानिए इन ग्रहों के परिवर्तन का क्या होगा आपकी राशि पर असर…

मेष
इस महीने मंगल मेष राशि का लग्न में, राहु मिथुन राशि का तीसरे भाव में, शुक्र कर्क राशि का चौथे भाव में सूर्य और बुध सिंह राशि का पांचवे भाव में रहेगा। ये महीने आपके लिए मिला-जुला रहेगा। आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। भविष्य को योजनाओं को आगे बढ़ाने में कामयाब होंगे। इस महीने आपको विवाद, मुकद्में आदि का सामना करना पड़ सकता है। सामाजिक कामों में आपकी रूचि बढ़ेगी। 6 और 7 सितंबर को सन्मुख चंद्रमा शुभ फल देने वाला रहेगा। अपनी प्लानिंग किसी के साथ शेयर न करें। इस महीने आपको कुछ तनाव भरे काम करने पड़ सकते हैं। इस महीने आप कोई बड़ा निवेश कर सकते हैं। करियर को सही दिशा देने में सफल होंगे। इस महीने फिजूलखर्च करने से बचें। संतान से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। संपत्ति को लेकर पिता से विवाद हो सकता है। आपको वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। नौकरी में सबकुछ पहले जैसा चलता रहेगा। नए अधिकारी आपसे खुश रहेंगे। प्रतिस्पर्धा के चलते ऑफिस में लोग आपसे ईर्ष्या करेंगे। यात्रा में कष्ट हो सकता है।

मेष
इस महीने मंगल मेष राशि का लग्न में, राहु मिथुन राशि का तीसरे भाव में, शुक्र कर्क राशि का चौथे भाव में सूर्य और बुध सिंह राशि का पांचवे भाव में रहेगा। ये महीने आपके लिए मिला-जुला रहेगा। आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। भविष्य को योजनाओं को आगे बढ़ाने में कामयाब होंगे। इस महीने आपको विवाद, मुकद्में आदि का सामना करना पड़ सकता है। सामाजिक कामों में आपकी रूचि बढ़ेगी। 6 और 7 सितंबर को सन्मुख चंद्रमा शुभ फल देने वाला रहेगा। अपनी प्लानिंग किसी के साथ शेयर न करें। इस महीने आपको कुछ तनाव भरे काम करने पड़ सकते हैं। इस महीने आप कोई बड़ा निवेश कर सकते हैं। करियर को सही दिशा देने में सफल होंगे। इस महीने फिजूलखर्च करने से बचें। संतान से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है। संपत्ति को लेकर पिता से विवाद हो सकता है। आपको वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। नौकरी में सबकुछ पहले जैसा चलता रहेगा। नए अधिकारी आपसे खुश रहेंगे। प्रतिस्पर्धा के चलते ऑफिस में लोग आपसे ईर्ष्या करेंगे। यात्रा में कष्ट हो सकता है।

वृषभ
इस महीने राहु मिथुन राशि का दूसरे भाव में, शुक्र कर्क राशि का तीसरे भाव में, सूर्य, बुध सिंह राशि का चौथे भाव में, गुरु, केतु धनु राशि का आठवें भाव में, शनि मकर राशि का नवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। इस महीने आप काम को नया रूप देने के लिए अधिक क्रिेएटिव होंगे, इससे आप अधिक प्रोजेक्टिव होंगे। 4-5 सितंबर को धन लाभ के योग बन रहे हैं। इस महीने आप ससुराल पक्ष से परेशान हो सकते हैं। परिवार के बड़े बुजुर्गों की सेहत चिंता का कारण बन सकती है। 14-15 सितंबर को लाभदायक यात्रा का योग बन रहा है। इस महीने आप लेन-देन में विशेष सावधानी रखें, उधार देने से बचें। अति आत्मविश्वास आपके लिए घातक साबित हो सकता है। पति-पत्नी एक-दूसरे की भावनाओं को समझेंगे। महीने के अंत में समय मिश्रित फल देने वाला रहेगा। आप स्वयं को संकटों से घिरा महसूस करेंगे, लेकिन उचित मार्गदर्शन से मुश्किल हालात को संभाल लेंगे।

वृषभ
इस महीने राहु मिथुन राशि का दूसरे भाव में, शुक्र कर्क राशि का तीसरे भाव में, सूर्य, बुध सिंह राशि का चौथे भाव में, गुरु, केतु धनु राशि का आठवें भाव में, शनि मकर राशि का नवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का दसवें भाव में रहेगा। इस महीने आप काम को नया रूप देने के लिए अधिक क्रिेएटिव होंगे, इससे आप अधिक प्रोजेक्टिव होंगे। 4-5 सितंबर को धन लाभ के योग बन रहे हैं। इस महीने आप ससुराल पक्ष से परेशान हो सकते हैं। परिवार के बड़े बुजुर्गों की सेहत चिंता का कारण बन सकती है। 14-15 सितंबर को लाभदायक यात्रा का योग बन रहा है। इस महीने आप लेन-देन में विशेष सावधानी रखें, उधार देने से बचें। अति आत्मविश्वास आपके लिए घातक साबित हो सकता है। पति-पत्नी एक-दूसरे की भावनाओं को समझेंगे। महीने के अंत में समय मिश्रित फल देने वाला रहेगा। आप स्वयं को संकटों से घिरा महसूस करेंगे, लेकिन उचित मार्गदर्शन से मुश्किल हालात को संभाल लेंगे।

मिथुन
इस महीने राहु मिथुन राशि का लग्न में, शुक्र कर्क राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का तीसरे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का सातवें भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का नौवें भाव में, मंगल मेष राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में समान विचारधारा वाले लोगों से मुलाकात होगी। जीवनसाथी का भरपूरी सहयोग मिलेगा। बिजनेस में कोई ठोस निर्णय ले सकते हैं। चतुराई से आप हर मुश्किल का हल निकाल सकते हैं। 6-7 सितंबर को अटका हुआ पैसा मिल सकता है। महीने के दूसरे सप्ताह में कोई बुरी खबर मिल सकती है। स्वास्थ्य में भी गिरावट आ सकती है। खान-पान का विशेष ध्यान रखें। मनोरजंन के साधन जैसे टीवी आदि पर खर्च हो सकता है। सरकारी काम में सफलता मिल सकती है। स्वयं को साबित करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। महीने के तीसरे सप्ताह में चंद्रमा चौथे भाव में रहेगा, इसलिए इस समय अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें। इस समय आप परिवार को टाइम नहीं दे पाएंगे, इस वजह से पत्नी से छोटा-मोटा विवाद हो सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में गुरु-चंद्रमा का योग दांपत्य जीवन में मधुरता बढ़ाएगा।
 

मिथुन
इस महीने राहु मिथुन राशि का लग्न में, शुक्र कर्क राशि का दूसरे भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का तीसरे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का सातवें भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का नौवें भाव में, मंगल मेष राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में समान विचारधारा वाले लोगों से मुलाकात होगी। जीवनसाथी का भरपूरी सहयोग मिलेगा। बिजनेस में कोई ठोस निर्णय ले सकते हैं। चतुराई से आप हर मुश्किल का हल निकाल सकते हैं। 6-7 सितंबर को अटका हुआ पैसा मिल सकता है। महीने के दूसरे सप्ताह में कोई बुरी खबर मिल सकती है। स्वास्थ्य में भी गिरावट आ सकती है। खान-पान का विशेष ध्यान रखें। मनोरजंन के साधन जैसे टीवी आदि पर खर्च हो सकता है। सरकारी काम में सफलता मिल सकती है। स्वयं को साबित करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। महीने के तीसरे सप्ताह में चंद्रमा चौथे भाव में रहेगा, इसलिए इस समय अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें। इस समय आप परिवार को टाइम नहीं दे पाएंगे, इस वजह से पत्नी से छोटा-मोटा विवाद हो सकता है। महीने के अंतिम सप्ताह में गुरु-चंद्रमा का योग दांपत्य जीवन में मधुरता बढ़ाएगा।
 

कर्क
इस महीने शुक्र कर्क राशि का लग्न में, सूर्य-बुध सिंह राशि का दूसरे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का छठें भाव में, शनि मकर राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का आठवें भाव में, मंगल मेष राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में संतान से जुड़े मामलों में खर्च हो सकता है। पति-पत्नी में वैचारिक मतभेद हो सकता है। नए लोगों से संपर्क फायदेमंद साबित होंगे। 3-5 सितंबर का समय पक्ष में नहीं रहेगा। थोड़ा संभलकर रहें तो अच्छा रहेगा। दूसरे सप्ताह में लोग आपकी भावनाओं का गलत फायदा उठा सकते हैं। निवेश सोच-समझकर ही करें। किसी रिश्तेदार से मामूली बात पर कहासुनी हो सकती है। इस दौरान पारिवारिक जिम्मेदारी निभाने में सफल रहेंगे। महीने के मध्य में मंदी और मंहगाई की मार से आप परेशान रहेंगे। बिना पढ़े किसी कागज पर साइन न करें। 23 सितंबर को मेहमानों का आगमन हो सकता है। महीने के आखिर में कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है। बिजनेस में लाभ की स्थितियां बनेंगी। स्वास्थ्य में पहले से सुधार होगा।

कर्क
इस महीने शुक्र कर्क राशि का लग्न में, सूर्य-बुध सिंह राशि का दूसरे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का छठें भाव में, शनि मकर राशि का सातवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का आठवें भाव में, मंगल मेष राशि का दसवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में संतान से जुड़े मामलों में खर्च हो सकता है। पति-पत्नी में वैचारिक मतभेद हो सकता है। नए लोगों से संपर्क फायदेमंद साबित होंगे। 3-5 सितंबर का समय पक्ष में नहीं रहेगा। थोड़ा संभलकर रहें तो अच्छा रहेगा। दूसरे सप्ताह में लोग आपकी भावनाओं का गलत फायदा उठा सकते हैं। निवेश सोच-समझकर ही करें। किसी रिश्तेदार से मामूली बात पर कहासुनी हो सकती है। इस दौरान पारिवारिक जिम्मेदारी निभाने में सफल रहेंगे। महीने के मध्य में मंदी और मंहगाई की मार से आप परेशान रहेंगे। बिना पढ़े किसी कागज पर साइन न करें। 23 सितंबर को मेहमानों का आगमन हो सकता है। महीने के आखिर में कोई शुभ समाचार आपको मिल सकता है। बिजनेस में लाभ की स्थितियां बनेंगी। स्वास्थ्य में पहले से सुधार होगा।

सिंह
इस महीने सूर्य-बुध सिंह राशि का लग्न में, केतु-गुरु धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। इस महीने आपके नए-नए लोगों से संपर्क बनेंगे। महीने की शुरूआत में अचानक कोई मुसीबत सामने आ सकती है। आप खुद को फंसा हुआ महसूस करेंगे। बेकार के कामों में समय व्यर्थ हो सकता है। कोई काम ढंग से नहीं कर पाएंगे। दूसरे सप्ताह के प्रारंभ में करियर से जुड़ी समस्याओं का निदान हो सकता है। अनुभवी लोगों से मार्गदर्शन मिलेगा। आपकी कार्यकुशलता में वृद्धि होगी। समय आपके अनुकूल रहेगा। दिखावे के चक्कर में कर्ज लेना पड़ सकता है। तीसरे सप्ताह में जीवनसाथी का साथ मिलेगा। बिजनेस में इजाफा होगा। किसी खास काम के लिए दौड़धूप करनी पड़ेगी, हालांकि सफलता मिलकर रहेगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कार्य की योजना गति पकड़ेगी। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। वैवाहिक जीवन भी सुखमय रहेगा।

सिंह
इस महीने सूर्य-बुध सिंह राशि का लग्न में, केतु-गुरु धनु राशि का पांचवें भाव में, शनि मकर राशि का आठवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का सातवें भाव में मंगल मेष राशि का नौवें भाव में, राहु मिथुन राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। इस महीने आपके नए-नए लोगों से संपर्क बनेंगे। महीने की शुरूआत में अचानक कोई मुसीबत सामने आ सकती है। आप खुद को फंसा हुआ महसूस करेंगे। बेकार के कामों में समय व्यर्थ हो सकता है। कोई काम ढंग से नहीं कर पाएंगे। दूसरे सप्ताह के प्रारंभ में करियर से जुड़ी समस्याओं का निदान हो सकता है। अनुभवी लोगों से मार्गदर्शन मिलेगा। आपकी कार्यकुशलता में वृद्धि होगी। समय आपके अनुकूल रहेगा। दिखावे के चक्कर में कर्ज लेना पड़ सकता है। तीसरे सप्ताह में जीवनसाथी का साथ मिलेगा। बिजनेस में इजाफा होगा। किसी खास काम के लिए दौड़धूप करनी पड़ेगी, हालांकि सफलता मिलकर रहेगी। महीने के अंतिम सप्ताह में कार्य की योजना गति पकड़ेगी। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। वैवाहिक जीवन भी सुखमय रहेगा।

कन्या
इस महीने केतु-गुरु धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु मिथुन राशि का दसवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह का बारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ सुखद घटनाओं से होगा। धन संबंधी मामलों में जीत हासिल करेंगे। कार्य योजनाएं सफल होंगी। परिवार में शांति का माहौल रहेगा। जमीन संबंधी विवादों का हल होगा। माता का स्नेह मिलेगा। महीने के दूसरे सप्ताह में खर्च की अधिकता रहेगी। हेल्थ को लेकर सावधान रहें। रक्त से संबंधित बीमारी हो सकती है। वैवाहिक संबंध मधुर होंगे। नौकरी या बिजनेस को लेकर यात्रा हो सकती है। 16-17 सितंबर का समय ठीक नहीं है। पुराने विवाद के कारण कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं। रिश्तों और मित्रता में स्वार्थपन आ सकता है। अंतिम सप्ताह में दवाइयों पर खर्च होगा। संतान को लेकर चिंता बनी रहेगी। पैसों को लेकर हाथ तंग हो सकता है। इस समय खर्च संभलकर करें तो अच्छा रहेगा।
 

कन्या
इस महीने केतु-गुरु धनु राशि का चौथे भाव में, शनि मकर राशि का पांचवें भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का छठे भाव में, मंगल मेष राशि का आठवें भाव में, राहु मिथुन राशि का दसवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का ग्यारहवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह का बारहवें भाव में रहेगा। महीने का आरंभ सुखद घटनाओं से होगा। धन संबंधी मामलों में जीत हासिल करेंगे। कार्य योजनाएं सफल होंगी। परिवार में शांति का माहौल रहेगा। जमीन संबंधी विवादों का हल होगा। माता का स्नेह मिलेगा। महीने के दूसरे सप्ताह में खर्च की अधिकता रहेगी। हेल्थ को लेकर सावधान रहें। रक्त से संबंधित बीमारी हो सकती है। वैवाहिक संबंध मधुर होंगे। नौकरी या बिजनेस को लेकर यात्रा हो सकती है। 16-17 सितंबर का समय ठीक नहीं है। पुराने विवाद के कारण कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं। रिश्तों और मित्रता में स्वार्थपन आ सकता है। अंतिम सप्ताह में दवाइयों पर खर्च होगा। संतान को लेकर चिंता बनी रहेगी। पैसों को लेकर हाथ तंग हो सकता है। इस समय खर्च संभलकर करें तो अच्छा रहेगा।
 

तुला
इस महीने गुरु-केतु धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु मिथुन राशि का नौवें भाव में और सूर्य-बुध सिंह राशि में रहेंगे। महीने के आरंभ में आप नई तकनीक का उपयोग कर अपने काम को आगे बढ़ाएंगे। पैसे की बचत होगी। आप दूसरों के काम आएंगे। पुराने दोस्तों को मुलाकात होगी। प्रेम संबंध में पहले से बेहतर होंगे। 10 सितंबर के बाद कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। संतान पक्ष आपकी परेशानी का कारण बनेगा। विवाह समारोह की बात टल सकती है। धार्मिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। 16-17 सितंबर को आपकी मेहनत रंग लाएगी। लक्ष्य पूरा करने के लिए आप अथक प्रयास करेंगे और उसमें सफल भी होंगे। ये समय सुकून भरा रहेगा। 26 से 30 तक का समय ठीक नहीं रहेगा। आपकी लापरवाही और लेटलतीफी के कारण कोई महत्वपूर्ण काम अधूरा रह सकता है। इस वजह से आपको अपमानित होना पड़ेगा। हालांकि आप अपनी गलती आगे सुधार लेंगे।

तुला
इस महीने गुरु-केतु धनु राशि का तीसरे भाव में, शनि मकर राशि का चौथे भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का पांचवें भाव में, मंगल मेष राशि का सातवें भाव में, राहु मिथुन राशि का नौवें भाव में और सूर्य-बुध सिंह राशि में रहेंगे। महीने के आरंभ में आप नई तकनीक का उपयोग कर अपने काम को आगे बढ़ाएंगे। पैसे की बचत होगी। आप दूसरों के काम आएंगे। पुराने दोस्तों को मुलाकात होगी। प्रेम संबंध में पहले से बेहतर होंगे। 10 सितंबर के बाद कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। संतान पक्ष आपकी परेशानी का कारण बनेगा। विवाह समारोह की बात टल सकती है। धार्मिक कार्यक्रम में जाने का मौका मिलेगा। 16-17 सितंबर को आपकी मेहनत रंग लाएगी। लक्ष्य पूरा करने के लिए आप अथक प्रयास करेंगे और उसमें सफल भी होंगे। ये समय सुकून भरा रहेगा। 26 से 30 तक का समय ठीक नहीं रहेगा। आपकी लापरवाही और लेटलतीफी के कारण कोई महत्वपूर्ण काम अधूरा रह सकता है। इस वजह से आपको अपमानित होना पड़ेगा। हालांकि आप अपनी गलती आगे सुधार लेंगे।

वृश्चिक
इस महीने गुरु-केतु धनु राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का तीसरे भाव में, मंगल मेष राशि का छठे भाव में, राहु मिथुन राशि का आठवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का नौवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का दसवे भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में किसी से वाद-विवाद के योग बन रहे हैं। संपत्ति से जुड़े मामले भी उलझकर रह जाएंगे। बिजनेस में एक गलत निर्णय फायदे को नुकसान में बदल सकता है। प्रेम प्रसंग में पड़कर अपने लक्ष्य से भटक सकते हैं। 8-9 सितंबर को यात्रा के योग हैं, इस दौरान खान-पान का विशेष ध्यान रखें। अविवाहितों के विवाह प्रस्ताव इस समय आ सकते हैं। आपके सामाजिक संबंधों का दायरा मजबूत होगा। पारिवारिक कार्यक्रम में व्यस्त रहेंगे। 11 से 13 के बीच कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। तीसरे सप्ताह में सूर्य-चंद्रमा का दसवें भाव में योग आय के साधनों में वृद्धि करवाएगा। महीने के अंतिम दिनों में परिवार के सदस्यों के बीच तालमेल थोड़ा-सा कमजोर रहेगा। इस समय धन हानि के योग भी बन रहे हैं।
 

वृश्चिक
इस महीने गुरु-केतु धनु राशि का दूसरे भाव में, शनि मकर राशि का तीसरे भाव में, मंगल मेष राशि का छठे भाव में, राहु मिथुन राशि का आठवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का नौवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का दसवे भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में किसी से वाद-विवाद के योग बन रहे हैं। संपत्ति से जुड़े मामले भी उलझकर रह जाएंगे। बिजनेस में एक गलत निर्णय फायदे को नुकसान में बदल सकता है। प्रेम प्रसंग में पड़कर अपने लक्ष्य से भटक सकते हैं। 8-9 सितंबर को यात्रा के योग हैं, इस दौरान खान-पान का विशेष ध्यान रखें। अविवाहितों के विवाह प्रस्ताव इस समय आ सकते हैं। आपके सामाजिक संबंधों का दायरा मजबूत होगा। पारिवारिक कार्यक्रम में व्यस्त रहेंगे। 11 से 13 के बीच कोई अशुभ समाचार मिल सकता है। तीसरे सप्ताह में सूर्य-चंद्रमा का दसवें भाव में योग आय के साधनों में वृद्धि करवाएगा। महीने के अंतिम दिनों में परिवार के सदस्यों के बीच तालमेल थोड़ा-सा कमजोर रहेगा। इस समय धन हानि के योग भी बन रहे हैं।
 

धनु
इस समय सूर्य-बुध सिंह राशि का नौवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का लग्न में, शनि मकर राशि का दूसरे भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का तीसरे भाव में, मंगल मेष राशि का पांचवें भाव में, राहु मिथुन राशि का सातवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में अचानक धन लाभ के योग बन रहे हैं। 3 से 5 के बीच थोड़ा कठिन परिश्रम करना पड़ेगा। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। यात्रा में परेशानियों का अनुभव हो सकता है। इस समय बाहर के खान-पान से दूरी बनाएं रखें। फिजूलखर्च हो सकता है। 11 से 13 के बीच दैनिक कार्यगति सामान्य रहेगी। आपके जीवन स्तर में सुधार आएगा। विद्यार्थियों को सफलता मिलेगी। 14-15 को पैसों के मामले में हाथ तंग रह सकता है। तीसरे सप्ताह में पति-पत्नी एक-दूसरे की भावनाओं को समझेंगे। आपकी सोच सकारात्मक रहेगी। वक्त के साथ योजना में बदलाव फायदा करवाएगा। करियर में नए विकल्पों की तलाश पूरी होगी। महीने के अंतिम दिनों में कोई शुभ समाचार मिल सकता है। इंटरव्यू में सफलता मिल सकती है। भाइयों से मधुर संबंध बनेंगे।

धनु
इस समय सूर्य-बुध सिंह राशि का नौवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का लग्न में, शनि मकर राशि का दूसरे भाव में, चंद्रमा कुंभ राशि का तीसरे भाव में, मंगल मेष राशि का पांचवें भाव में, राहु मिथुन राशि का सातवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में अचानक धन लाभ के योग बन रहे हैं। 3 से 5 के बीच थोड़ा कठिन परिश्रम करना पड़ेगा। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। यात्रा में परेशानियों का अनुभव हो सकता है। इस समय बाहर के खान-पान से दूरी बनाएं रखें। फिजूलखर्च हो सकता है। 11 से 13 के बीच दैनिक कार्यगति सामान्य रहेगी। आपके जीवन स्तर में सुधार आएगा। विद्यार्थियों को सफलता मिलेगी। 14-15 को पैसों के मामले में हाथ तंग रह सकता है। तीसरे सप्ताह में पति-पत्नी एक-दूसरे की भावनाओं को समझेंगे। आपकी सोच सकारात्मक रहेगी। वक्त के साथ योजना में बदलाव फायदा करवाएगा। करियर में नए विकल्पों की तलाश पूरी होगी। महीने के अंतिम दिनों में कोई शुभ समाचार मिल सकता है। इंटरव्यू में सफलता मिल सकती है। भाइयों से मधुर संबंध बनेंगे।

मकर
इस महीने शनि मकर राशि का लग्न में, चंद्रमा कुंभ राशि का दूसरे भाव में, मंगल मेष राशि का चौथे भाव में, राहु मिथुन राशि का छठे भाव में, शुक्र कर्क राशि का सातवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। आप दूसरों की मदद करेंगे। आपकी अनेक समस्याओं का समाधान इस समय हो सकता है। लक्ष्य प्राप्ति के लिए भाइयों और मित्रों का सहयोग मिलेगा। परिवार की जिम्मेदारी भी निभाएंगे। 8 से 10 के बीच प्रेम संबंधों में सफलता मिल सकती है। कुछ खास लोगों से मुलाकात हो सकती है, जिनसे आपको फायदा होगा। ये समय कुछ नया हुनर सीखने का है। आप जो चाहते हैं, वो आपको मिलेगा। 16-17 को स्थितियां आपके हाथ से निकल जाएंगी। किसी तरह की हानि के योग बन रहे हैं। दोस्तों से भी अनबन हो सकती है। किसी अपरिचित पर विश्वास न करें। यात्रा में कष्ट का अनुभव होगा। महीने के अंतिम दिनों में आप मानसिक रूप से सुकून का अनुभव करेंगे। कार्य की प्रगति संतोषजनक रहेगी।

मकर
इस महीने शनि मकर राशि का लग्न में, चंद्रमा कुंभ राशि का दूसरे भाव में, मंगल मेष राशि का चौथे भाव में, राहु मिथुन राशि का छठे भाव में, शुक्र कर्क राशि का सातवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का बारहवें भाव में रहेगा। महीने के पहले सप्ताह में मिश्रित फलों की प्राप्ति होगी। आप दूसरों की मदद करेंगे। आपकी अनेक समस्याओं का समाधान इस समय हो सकता है। लक्ष्य प्राप्ति के लिए भाइयों और मित्रों का सहयोग मिलेगा। परिवार की जिम्मेदारी भी निभाएंगे। 8 से 10 के बीच प्रेम संबंधों में सफलता मिल सकती है। कुछ खास लोगों से मुलाकात हो सकती है, जिनसे आपको फायदा होगा। ये समय कुछ नया हुनर सीखने का है। आप जो चाहते हैं, वो आपको मिलेगा। 16-17 को स्थितियां आपके हाथ से निकल जाएंगी। किसी तरह की हानि के योग बन रहे हैं। दोस्तों से भी अनबन हो सकती है। किसी अपरिचित पर विश्वास न करें। यात्रा में कष्ट का अनुभव होगा। महीने के अंतिम दिनों में आप मानसिक रूप से सुकून का अनुभव करेंगे। कार्य की प्रगति संतोषजनक रहेगी।

कुंभ
इस महीने चंद्रमा कुंभ राशि का लग्न में, मंगल मेष राशि का तीसरे भाव में, राहु मिथुन राशि का पांचवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का छठे भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का सातवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में स्टूडेंट्स को सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। उच्च अधिकारियों से अच्छे संबंध स्थापित होंगे। लाभ की स्थितियां बनेंगी। इस समय भावुकता में कोई निर्णय न लें। किसी इष्ट मित्र से मुलाकात हो सकती है। 8 सितंबर बाद किसी नए काम की योजना बन सकती है। 11 से 15 के बीच आपकी कोई गुप्त बात परिवार के सामने आ सकती है, जिसके कारण वाद-विवाद की स्थिति बनेगी। आप पर पैसा कमाने की धुन सवार रहेगी। मकान और संपत्ति से जुड़े मामलों में तेजी आएगी। 18-19 को आठवां चंद्रमा परेशानी का कारण बनेगा। कोई अप्रिय घटना हो सकती है। पैसों से जुड़े मामलों में सावधानी रखन की जरूरत है। महीने के अंतिम दिनों में किसी तीसरे आदमी के कारण विवाद हो सकता है। कोर्ट केस में असफलता मिलने से मूड ऑफ रहेगा।

कुंभ
इस महीने चंद्रमा कुंभ राशि का लग्न में, मंगल मेष राशि का तीसरे भाव में, राहु मिथुन राशि का पांचवें भाव में, शुक्र कर्क राशि का छठे भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का सातवें भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने के आरंभ में स्टूडेंट्स को सफलता मिलने के योग बन रहे हैं। उच्च अधिकारियों से अच्छे संबंध स्थापित होंगे। लाभ की स्थितियां बनेंगी। इस समय भावुकता में कोई निर्णय न लें। किसी इष्ट मित्र से मुलाकात हो सकती है। 8 सितंबर बाद किसी नए काम की योजना बन सकती है। 11 से 15 के बीच आपकी कोई गुप्त बात परिवार के सामने आ सकती है, जिसके कारण वाद-विवाद की स्थिति बनेगी। आप पर पैसा कमाने की धुन सवार रहेगी। मकान और संपत्ति से जुड़े मामलों में तेजी आएगी। 18-19 को आठवां चंद्रमा परेशानी का कारण बनेगा। कोई अप्रिय घटना हो सकती है। पैसों से जुड़े मामलों में सावधानी रखन की जरूरत है। महीने के अंतिम दिनों में किसी तीसरे आदमी के कारण विवाद हो सकता है। कोर्ट केस में असफलता मिलने से मूड ऑफ रहेगा।

मीन
इस महीने मंगल मेष राशि का दूसरे भाव में, राहु मिथुन राशि का चौथे भाव में, शुक्र कर्क राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का छठे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में समय कष्टकारी रहेगा। पति-पत्नी में विवाद की स्थिति बनेगी। यात्रा में कष्ट हो सकता है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। आपकी ईमेज लोगों और परिवार के सामने खराब हो सकती है। वाहन पर खर्च हो सकता है। 11 से 15 के बीच आपको कई स्तरों पर खुद को साबित करना होगा। जल्दबाजी में किए गए काम के चलते हानि हो सकती है। मन में उदासी रहेगी। मेहनत के अनुरूप सफलता नहीं मिलेगी। महीने के तीसरे सप्ताह में रुपयों की आवक के लिहाज से समय अच्छा है। आपके स्वभाव में थोड़ी की कठोरता रहेगी। जिम्मेदारियां इस समय थोड़ी बढ़ सकती हैं। आप कहीं बुरे फंस सकते हैं। महीने का अंतिम समय शानदार व्यतीत होगा। आपको हर काम में सफलता मिलेगी। इस समय बच्चों को ज्यादा ढील न दें, नहीं तो आपकी परेशानी बढ़ सकती है।
 

मीन
इस महीने मंगल मेष राशि का दूसरे भाव में, राहु मिथुन राशि का चौथे भाव में, शुक्र कर्क राशि का पांचवें भाव में, सूर्य-बुध सिंह राशि का छठे भाव में, गुरु-केतु धनु राशि का दसवें भाव में, शनि मकर राशि का ग्यारहवें भाव में रहेगा। महीने की शुरूआत में समय कष्टकारी रहेगा। पति-पत्नी में विवाद की स्थिति बनेगी। यात्रा में कष्ट हो सकता है। स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। आपकी ईमेज लोगों और परिवार के सामने खराब हो सकती है। वाहन पर खर्च हो सकता है। 11 से 15 के बीच आपको कई स्तरों पर खुद को साबित करना होगा। जल्दबाजी में किए गए काम के चलते हानि हो सकती है। मन में उदासी रहेगी। मेहनत के अनुरूप सफलता नहीं मिलेगी। महीने के तीसरे सप्ताह में रुपयों की आवक के लिहाज से समय अच्छा है। आपके स्वभाव में थोड़ी की कठोरता रहेगी। जिम्मेदारियां इस समय थोड़ी बढ़ सकती हैं। आप कहीं बुरे फंस सकते हैं। महीने का अंतिम समय शानदार व्यतीत होगा। आपको हर काम में सफलता मिलेगी। इस समय बच्चों को ज्यादा ढील न दें, नहीं तो आपकी परेशानी बढ़ सकती है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios