Asianet News Hindi

नाबालिग बच्चे का खौफनाक कारनामा:10 साल की बच्ची की हत्या, बोला-अब मेरे चूहे की आत्मा को शांति मिलेगी

First Published Sep 7, 2020, 7:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इंदौर. डिजिटल भारत में पढ़ने लिखने की उम्र में नाबालिग बच्चे अपराध की दलदल में फंस रहे हैं। छोटे-छोटे बच्चे भी अब हत्या तथा सामूहिक दुष्कर्म जैसे अपराध कर बैठते हैं। ऐसा ही एक दिल दहला देने वाला मामला मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में सामने आया है। जहां एक 12 साल के बच्चे ने 10 वर्ष की मासूम बच्ची की पत्थरों से सिर कुचल हत्या कर दी।
 


हैरान कर देने वाली यह वारदात इंदौर के लसूड़िया क्षेत्र में सोमवार दोपहर को हुई। पुलिस ने बच्ची के शव मिलने के दो घंटे बाद इस हत्या का खुलासा कर दिया। डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने हत्याकांड बताया कि12 साल के बच्चे ने यह घटना बदला लेने के लिए अंजाम दिया है। दरअसल, लड़की ने उसके सफेद पालतू चूहे को मार दिया था। इस बात से बच्चा का खाफी दुखी था और वह उससे बदला लेना चाहता था। पुलिस पूछताछ में भी बच्चे ने यही कहा कि अब मैंने अपने चूहे की मौत का बदला ले लिया।


हैरान कर देने वाली यह वारदात इंदौर के लसूड़िया क्षेत्र में सोमवार दोपहर को हुई। पुलिस ने बच्ची के शव मिलने के दो घंटे बाद इस हत्या का खुलासा कर दिया। डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने हत्याकांड बताया कि12 साल के बच्चे ने यह घटना बदला लेने के लिए अंजाम दिया है। दरअसल, लड़की ने उसके सफेद पालतू चूहे को मार दिया था। इस बात से बच्चा का खाफी दुखी था और वह उससे बदला लेना चाहता था। पुलिस पूछताछ में भी बच्चे ने यही कहा कि अब मैंने अपने चूहे की मौत का बदला ले लिया।


सोमवार दोपहर नाबालिग बच्चा मौका मिलते ही बच्ची को साथ खेलने का बोलकर सुनसान जगह ले गया। वहां ले जाकर उसके सिर पर पत्थर दे मारा। फिर मासूम को खून से लथपथ हालत में छोड़कर भाग गया। जब बच्ची काफी देर हो जाने के बाद घर नहीं पहुंची तो पिता उसकी तलाश करने के लिए निकल पड़े। आसपाल के लोगों ने बताया कि कुछ देर पहले पास के ही खाली प्लाट पर दो बच्चे उनकी बेटी के साथ मारपीट कर रहे थे। जब तक पिता वहां पहुंचा तो बच्ची दम तोड़ चुकी थी।


सोमवार दोपहर नाबालिग बच्चा मौका मिलते ही बच्ची को साथ खेलने का बोलकर सुनसान जगह ले गया। वहां ले जाकर उसके सिर पर पत्थर दे मारा। फिर मासूम को खून से लथपथ हालत में छोड़कर भाग गया। जब बच्ची काफी देर हो जाने के बाद घर नहीं पहुंची तो पिता उसकी तलाश करने के लिए निकल पड़े। आसपाल के लोगों ने बताया कि कुछ देर पहले पास के ही खाली प्लाट पर दो बच्चे उनकी बेटी के साथ मारपीट कर रहे थे। जब तक पिता वहां पहुंचा तो बच्ची दम तोड़ चुकी थी।

रोते हुए पिता ने पुलिस को बताया कि हम इस इलाके में पिछले साल से किराए से रह रहे हैं। मेरी बच्ची बहुत ही कम घर से बाहर निकलती थी। आज भी वह फूल तोड़ने का बोलकर बगल में साइड में ही एक प्लाट खाली पड़ा है वहीं पर गई थी। वहीं मैं अपनी गाड़ी ठीक कराने के लिए मैकानिक के पास चला गया। घर आकर देखा तो बच्ची गायब थी। पड़ोसियों के कहने पर जब मैं उसको खोजने के लिए गया तो घर से आधा किमी दूर उसका शव मिला। मेरा किसी से कोई विवाद नहीं था, फिर मेरी बेटिया को क्यों मार डाला।

रोते हुए पिता ने पुलिस को बताया कि हम इस इलाके में पिछले साल से किराए से रह रहे हैं। मेरी बच्ची बहुत ही कम घर से बाहर निकलती थी। आज भी वह फूल तोड़ने का बोलकर बगल में साइड में ही एक प्लाट खाली पड़ा है वहीं पर गई थी। वहीं मैं अपनी गाड़ी ठीक कराने के लिए मैकानिक के पास चला गया। घर आकर देखा तो बच्ची गायब थी। पड़ोसियों के कहने पर जब मैं उसको खोजने के लिए गया तो घर से आधा किमी दूर उसका शव मिला। मेरा किसी से कोई विवाद नहीं था, फिर मेरी बेटिया को क्यों मार डाला।

घटना की जानकारी लगते ही मौक पर पुलिस ने पहुंच शव को कब्जे में लिया। इसके बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं कुछ पुलिसवालों का कहना है कि हमे कुछ क्लू मिले हैं, हम जल्द घटना का खुलासा करेंगे।

घटना की जानकारी लगते ही मौक पर पुलिस ने पहुंच शव को कब्जे में लिया। इसके बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं कुछ पुलिसवालों का कहना है कि हमे कुछ क्लू मिले हैं, हम जल्द घटना का खुलासा करेंगे।


खौफनाक घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के लोग बड़ी संख्या में मौके पर जमा हो गए।
 


खौफनाक घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के लोग बड़ी संख्या में मौके पर जमा हो गए।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios