Asianet News Hindi

मुरैना शराबकांड: बाप-बेटे ने 20 लोगों को मार डाला, कई महिलाओं को कर दिया विधवा, अनाथ हो गए कई बच्चे

First Published Jan 13, 2021, 2:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


मुरैना (मध्य प्रदेश). देश में अवैध तरीके से बनाई जाने वाली शराब का कारोबार प्रशासन की मिली भगत से बढ़ता जा रहा है। एक दिन दिन पहले मुरैना में हुए जहरीली शराब कांड में मरने वालों की सख्यां अब बढ़कर 20 तक पहुंच गई है। हालांकि सीएम शिवराज ने इस मामले में कड़ा रुख अपनाते हुए जिले के SP अनुराग सुजातिया को हटाने का आदेश दे दिया है, वहीं SDOP को सस्पेंड कर दिया गया है। लेकिन सबसे बड़ी बात यह कि कौन इन 20 लोगों की मौत का जिम्मेदार है। जिन्होंने जरा सी लालच के चक्कर में कई महिलाओं को विधवा बना दिया तो कई बच्चों के सिर से पिता का साया छीन लिया। अगर प्रशासान पहले से ही अवैध जहरीली शराब पर नजर रखती तो शायद इतने घरों में मातम नहीं मन रहा होता। बताया जा रहा है कि गांव के ही बाप-बेटे हैं अपने खेत में इस जहर को बनाकर प्रशासन से मिलकर सप्लाई करते थे।


सिर्फ मुरैना जिले के मानपुर गांव और  पहवाली गांव में मातम पसरा हुआ है, हर तरफ मौत की चीखें सुनाई दे रही हैं। आलम यह कि लोग घरों के सामने शव रखे बिलख रहे हैं। बता दें कि पहावली गांव में तो इस जहरीली शराब के चलते दो सगे भाइयों की मौत हुई है। दो दिन हो जाने के बाद इन दोनों गांव के कई घरों में चूल्हा तक नहीं जला है। कहीं कोई पति के जाने का दुख मना रहा है तो कहीं कोई पिता की मौत में रोए जा रहा है।


सिर्फ मुरैना जिले के मानपुर गांव और  पहवाली गांव में मातम पसरा हुआ है, हर तरफ मौत की चीखें सुनाई दे रही हैं। आलम यह कि लोग घरों के सामने शव रखे बिलख रहे हैं। बता दें कि पहावली गांव में तो इस जहरीली शराब के चलते दो सगे भाइयों की मौत हुई है। दो दिन हो जाने के बाद इन दोनों गांव के कई घरों में चूल्हा तक नहीं जला है। कहीं कोई पति के जाने का दुख मना रहा है तो कहीं कोई पिता की मौत में रोए जा रहा है।


मामला सामने आने पर जिला पुलिस ने एक्शन लेते हुए मानपुरा गांव के ही दोनों आरोपी बाप बेटे गिर्राज किरार और उसके बेटे राजू किरार गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि यह दोनों अन्य कई लोगों के साथ मिलकर अपने खेत में जहरीली शराब को बनाते थे। इसके लिए इन्होंने बाकायदा एक फैक्ट्री भी लगा रखी थी। 


मामला सामने आने पर जिला पुलिस ने एक्शन लेते हुए मानपुरा गांव के ही दोनों आरोपी बाप बेटे गिर्राज किरार और उसके बेटे राजू किरार गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि यह दोनों अन्य कई लोगों के साथ मिलकर अपने खेत में जहरीली शराब को बनाते थे। इसके लिए इन्होंने बाकायदा एक फैक्ट्री भी लगा रखी थी। 


गांव के ही एक युवक ने बताया कि मानपुर गांव से करीब दो किमी दूर यह खेत है, जहां पर बाप बेटे ने अैध शराब की यह फेक्ट्री लगा रखी है। हालांकि यह सब पुलिस की मिली भगत से चल रहा था। इससे पहले और भी कई लोगों की मौत हुई हुई, लेकिन प्रशासन हरकत में नहीं आया।


गांव के ही एक युवक ने बताया कि मानपुर गांव से करीब दो किमी दूर यह खेत है, जहां पर बाप बेटे ने अैध शराब की यह फेक्ट्री लगा रखी है। हालांकि यह सब पुलिस की मिली भगत से चल रहा था। इससे पहले और भी कई लोगों की मौत हुई हुई, लेकिन प्रशासन हरकत में नहीं आया।


आसपास के गांव के लोगों के मुताबिक, छैरा-मानपुर गांव में अवैध शराब बनाने और बेचने का सबसे बड़ा अड्‌डा है। सालों से यहां अवैध शराब बनाने व बेचने का कारोबार खुलेआम चल रहा है। हाईवे किनारे बनी गुमटियों व दुकानों पर खुलेआम शराब बिकती है लेकिन आबकारी विभाग व बागचीनी पुलिस ने कभी कोई बड़ा एक्शन नहीं लिया।


आसपास के गांव के लोगों के मुताबिक, छैरा-मानपुर गांव में अवैध शराब बनाने और बेचने का सबसे बड़ा अड्‌डा है। सालों से यहां अवैध शराब बनाने व बेचने का कारोबार खुलेआम चल रहा है। हाईवे किनारे बनी गुमटियों व दुकानों पर खुलेआम शराब बिकती है लेकिन आबकारी विभाग व बागचीनी पुलिस ने कभी कोई बड़ा एक्शन नहीं लिया।

पुलिस को मिली जानकारी के मुताबिक, इस कारोबार में गांव का ही राजू त्यागी नाम का युवक खेत में अवैध देशी शराब को प्लास्टिक के क्वार्टरों में भरकर पैक कर मानपुर, विसंगपुर, छैरा, सुमावली के इलाकों में सप्लाई करता था।
 

पुलिस को मिली जानकारी के मुताबिक, इस कारोबार में गांव का ही राजू त्यागी नाम का युवक खेत में अवैध देशी शराब को प्लास्टिक के क्वार्टरों में भरकर पैक कर मानपुर, विसंगपुर, छैरा, सुमावली के इलाकों में सप्लाई करता था।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios